Fact Check: कश्मीर के नाम पर झांसी के बरुआ सागर की पुरानी घटना का वीडियो हो रहा वायरल

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक लड़की का वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह रोते हुए मदद की अपील कर रही है। दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो किसी कश्मीरी लड़की है और वह मदद मांग रही है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह वीडियो गलत निकला। कश्मीर के नाम पर वायरल किया जा रहा यह वीडियो उत्तर प्रदेश के झांसी जिले का है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक पर वायरल हो रहे पोस्ट में दावा किया गया है, ‘आयशा कश्मीर से कह रहा हूं कि कृपया इस वीडियो को एक बार देखें लेकिन कश्मीरी मुसलमान आज इतने बेसहारा हैं कि अल्लाह कश्मीर के मुसलमानों की रक्षा करे।’

फेसबुक यूजर्स अबू तालेब खान की प्रोफाइल से शेयर किए गए इस वीडियो को पड़ताल किए जाने तक करीब 17,000 से अधिक लोगों ने शेयर किया है और इसे अब तक 62 हजार लोग देख चुके हैं।

पड़ताल

वीडियो को देखने पर पता चलता है कि जिस लड़की की अपील को कश्मीरी लड़की की पुकार बता कर वायरल किया जा रहा है, वह वीडियो में खुद को उत्तर प्रदेश के झांसी जिले के बरुआ सागर का रहने वाली बता रही है।

वीडियो की शुरुआत में लड़की को साफ कहते हुए सुना जा सकता है, ‘’मैं झांसी जिले के बरुआ सागर की रहने वाली हूं। हमारी बरुआ सागर में पिछले तीन दिनों से काफी लड़ाई हो रही है। हिंदू-मुसलमान के बीच। मैं मुसलमान, मेरे भाइयों को बहुत मारा सब लोगों ने। यहां पर बहू-बेटियों को परेशान किया जा रहा है। यहां पर पुलिस प्रशासन कुछ नहीं कर रही है। वह हिंदुओं का साथ दे रही है।”

इसके बाद वह इस वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर करने की अपील कर रही है, ताकि मदद मिल सके। इसके साथ ही वीडियो में कई फोटोग्राफ का इस्तेमाल किया जा रहा है, जो पुराने और दूसरे देशों के हैं।

‘’बरुआसागर सांप्रदायिक झांसी’’ कीवर्ड के साथ न्यूज करने पर ‘’बुंदेलखंड न्यूज’’ के यू-ट्यूब चैनल पर 27 सितंबर को अपलोड किया गया वीडियो मिला, जिसके मुताबिक ‘झांसी के बरुआसागर में अराजक तत्वों ने सौहार्द्र बिगाड़ने की कोशिश की, लेकिन पुलिस प्रशासन की मुस्तैदी से स्थिति को संभाल लिया गया।’

28 सितंबर 2018 को दैनिक जागरण के झांसी संस्करण में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, ‘गुरुवार रात बरुआसागर में मारपीट के के विवाद ने हंगामे का रूप ले लिया। दो पक्षों में जमकर लाठी डंडे व ईंट-पत्थर चले, इससे क्षेत्र में हड़कंप मच गया। घटना में तीन लोग घायल हुए हैं। गुरुवार की रात करीब 10.30 बजे यहां मिलान मोहल्ला में एक संगठन एवं एक समुदाय के बीच मारपीट के विवाद को लेकर बहस हुई और देखते ही देखते मामला बढ़ गया।’

28 सितंबर 2018 को दैनिक जागरण में प्रकाशित खबर

अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक इस मामले में चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करते हुए कार्रवाई की गई।

हमारे सहयोगी दैनिक जागरण के बरुआसागर संवाददाता नीरज राय ने इस मामले में बरुआसागर के थानाध्यक्ष ब्रजनेश सिंह से बात की। उन्होंने बताया, ‘’ मामले में दोषी पाए गए दो लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाई गई थी। साथ ही, प्रशासन ने पूरे मामले को गंम्भीरता से लेते हुए दोनों पक्षों में समंजस्य बिठाया था और एक बड़ी घटना के होने से पूर्व मामले को शांत कर दिया था और क्षेत्र में सदभाव कायम रहा था।’

राय ने बताया, ‘’ तनाव की स्थिति के बीच ही 27 ओर 28 सितम्बर की मध्यरात्रि को यह वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें लड़की ने अपनी आपबीती बताते हुए वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर करने की अपील की थी। लड़की बरुआसागर की ही थी। पूरे मामले में पुलिस प्रशासन ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए तनाव को काबू में किया।‘’

निष्कर्ष: कश्मीरी महिलाओं पर हो रहे अत्याचार के दावे के साथ वायरल हो रहा वीडियो उत्तर प्रदेश के झांसी जिले की पुरानी घटना का है, जिसमें पुलिस ने नियमों के मुताबिक, कार्रवाई करते हुए एक्शन लिया था।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

  • Claim Review : कश्मीरी लड़कियों पर हो रहा अत्याचार
  • Claimed By : FB User-Abu Taleb Khan
  • Fact Check : False
False
    Symbols that define nature of fake news
  • True
  • Misleading
  • False

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later