X

Fact Check : मेघालय में BSF जवानों की बस एक्‍सीडेंट के वीडियो को पाकिस्‍तानी यूजर्स झूठे दावे के साथ कर रहे हैं वायरल

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया पर पाकिस्‍तानी यूजर्स की ओर से एक वीडियो को वायरल करते हुए दावा किया जा रहा है कि पाकिस्‍तानी सेना ने इंडियन आर्मी की बस को उड़ा दिया। विश्‍वास टीम की पड़ताल में यह दावा फर्जी निकला। मेघालय में बीएसएफ जवानों की एक बस के एक्‍सीडेंट के वीडियो को पाकिस्‍तानी यूजर्स झूठे दावे के साथ वायरल कर रहे हैं। 31 अक्‍टूबर को मेघालय में एक बस का एक्‍सीडेंट हो गया था।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

फेसबुक पेज Fast News ने 3 नवंबर को एक वीडियो को अपलोड करते हुए लिखा : #Indian FAUJ KI #LOC PAR #Pakistani HADOOD ME FIRING SE 1 SHEHRI SHAHEED. PakArmy KI JAWABI KARWAI. #IndianArmy KI FAUJIYON SE BHARI BUS URRA DI.

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने सबसे पहले वायरल वीडियो को देखा। इसमें हमें कई भारतीय जवानों को कराहते हुए देखा जा सकता है। एक बस को भी टूटी अवस्‍था में देखा जा सकता है। यह वीडियो किसी बस एक्‍सीडेंट का लग रहा था। इसके बाद हमने गूगल में Indian Army Bus accident टाइप करके सर्च किया। हमें AniNews की वेबसाइट पर एक खबर मिली। इस खबर में बताया गया कि पाकिस्‍तानी मीडिया मेघालय में हुए एक बस एक्‍सीडेंट को झूठे दावे के साथ फैला रही हैं। खबर में बताया गया कि 31 अक्‍टूबर को बीएसएफ जवानों को लेकर जा रही एक बस का एक्‍सीडेंट हो गया।

इसके बाद हमने गूगल में BSF bus accident in Meghalaya कीवर्ड टाइप करके सर्च किया। हमें UNI की एक खबर मिली। इस खबर को 31 अक्‍टूबर को पब्लिश किया गया था। खबर में बताया गया कि मेघालय में एक बस एक्‍सीडेंट में एक नागरिक की मौत हो गई। जबकि 2 नागरिकों समेत 21 बीएसएफ जवान घायल हो गए। पूर खबर आप यहां पढ़ सकते हैं।

पड़ताल के दौरान हमें एक यूटयूब चैनल पर ओरिजनल वीडियो भी मिला। इसे 1 नवंबर को अपलोड किया गया था। इसमें बताया गया कि वापस लौटते वक्‍त भारतीय सेना के बस का एक्‍सीडेंट हो गया।

पड़ताल के दौरान ही हमें यूटयूब पर एक और वीडियो मिला। इसमें भी बताया गया कि मेघालय में बीएसएफ जवानों की बस का एक्‍सीडेंट हुआ। इस वीडियो को 31 अक्‍टूबर को अपलोड किया गया था।

इसके बाद विश्‍वास न्‍यूज ने सीमा सुरक्षा बल (BSF) के प्रवक्ता शुभेंदु भारद्वाज से संपर्क किया। उन्‍होंने बताया, वायरल वीडियो एक बस एक्‍सीडेंट का है। बीएसएफ जवानों को लेकर एक बस जा रही थी, उसी वक्‍त उसका एक्‍सीडेंट हो गया। उन्‍होंने वायरल पोस्‍ट के दावे को झूठा बताते हुए कहा कि एक्‍सीडेंट मेघालय में हुआ था।

अंत में हमने फर्जी खबर को वायरल करने वाले फेसबुक पेज की सोशल स्‍कैनिंग की। हमें पता चला Fast News नाम का यह फेसबुक पाकिस्‍तान से संचालित होता है। इस पेज को 3 अप्रैल 2018 को बनाया गया था। इसमें पाकिस्‍तान से जुड़ी खबरों को शेयर किया जाता है। इस पेज को 698 लोग फॉलो करते हैं।

निष्‍कर्ष : विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में वायरल पोस्‍ट का यह दावा झूठा साबित हुआ कि पाकिस्‍तानी सेना ने भारतीय जवानों की बस को उड़ा दिया। वायरल वीडियो मेघालय में हुए एक बस एक्‍सीडेंट का है। 31 अक्‍टूबर को बीएसएफ जवानों से भरी बस का एक्‍सीडेंट हो गया था। इस एक्‍सीडेंट में किसी भी जवान की मौत नहीं हुई।

  • Claim Review : दावा किया जा रहा है कि पाकिस्‍तानी जवानों ने भारतीय जवानों से भरी बस को उड़ा दिया
  • Claimed By : फेसबुक पेज Fast News
  • Fact Check : False
False
    Symbols that define nature of fake news
  • True
  • Misleading
  • False
जानिए सच्‍ची और झूठी सबरों का सच क्विज खेलिए और सीखिए स्‍टोरी फैक्‍ट चेक करने के तरीके क्विज खेले

पूरा सच जानें...

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later