X

Fact Check: राहुल गांधी की फोटोशॉप तस्वीर की जा रही वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: October 16, 2019

नई दिल्ली, विश्वास न्यूज। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस की नेता अलका लांबा और पीसी चाको का एक फोटो वायरल किया जा रहा है, जिसमें कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की फोटो पर माला चढ़ा हुआ दिखाया गया है।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में ये फोटो फर्जी साबित हुआ है। इस फोटो में राहुल गांधी के फोटो पर एडिट करके माला डाली गई है। असली तस्वीर में फोटो पर माला नहीं है।

CLAIM

वायरल तस्वीर में दिल्ली प्रदेश कांग्रेस की नेता अलका लांबा और पीसी चाको दिखाई दे रहे है। इस तस्वीर में अलका कांग्रेस पार्टी के झंडे को गले में डाले हुए है। वहां पर कुछ और लोग भी दिखाई दे रहे हैं। इस पोस्ट पर यूजर ने लिखा है कि …कोई बताएगा कि ये कब हुआ।
इस पोस्ट को परितोष कुमार सिंह ने शेयर किया। इस पोस्ट पर 52 कमेंट आ चुके है, जबकि इसको 135 बार शेयर किया जा चुका है। इस पोस्ट को 14 अक्टूबर 2019 को किया गया।
कई और लोगों ने भी इस खबर को पोस्ट किया है।

FACT CHECK

हमें इस फोटो को देखकर शक हुआ, क्योंकि हिन्दुस्तान में मृत व्यक्ति की फोटो पर माला डालने की प्रथा है। राहुल गांधी एक प्रतिष्ठित राजनेता हैं। यदि उनकी सेहत को लेकर कोई भी खबर आती तो हर जगह इसकी चर्चा होती। इसलिए हमने इस फोटो को गूगल रिवर्स इमेज में डाला और हमें सच्चाई का पता लगते देर नहीं लगी।

हमें फाइनेंशियल एक्सप्रेस का एक लिंक मिला। इस लिंक से हमें पता चला कि अलका लांबा ने कांग्रेस पार्टी को फिर से ज्वाइन कर लिया है। इससे पहले वे आम आदमी पार्टी से जुड़ी हुई थीं। वे दिल्ली के चांदनी चौक से विधायक थी। आम आदमी पार्टी छोड़ने के कारण उनकी विधान सभा की सदस्यता चली गई थी।


इस फोटो को हमने और भी जगह ढूंढ़ने का फैसला किया। हमें इसका एक पूरा वीडियो मिला। ये वीडियो एजेंसी ANI ने जारी किया है। इस वीडियो को इकोनॉमिक्स टाइम्स ने 13 अक्टूबर को अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है। ये दोपहर में 1 बजकर 43 मिनट पर ट्वीट किया गया। इन सभी खबरों में मौजूद फोटो में किसी पर भी राहुल गांधी की फोटो पर माला नहीं थी। इसका मतलब किसी ने जानबूझकर ये काम किया था।

इस पूरे मामले पर हमने कांग्रेस पार्टी की नेता अलका लांबा से बात की। उन्होंने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि ये फेक फोटो है। जो लोग इस तरह से कर रहे है, वो देश के असल मुद्दों से ध्यान हटाना चाहते है।

इस पोस्ट को पारितोष कुमार सिंह नाम के एक यूजर ने फेसबुक पर शेयर किया था। इस प्रोफाइल को 1088 लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: हमें पता चला कि ओरिजिनल तस्वीर में राहुल गांधी की तस्वीर पर कोई माला नहीं है। फोटोशॉप की मदद से एडिट करके इमेज को शेयर किया गया है।

Fact Checked By Gaurav Tiwari

  • Claim Review : राहुल गांधी से जुड़ी अफवाह
  • Claimed By : We Support Republic
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later