X

Fact Check : मुंबई लोकल ट्रेन का पुराना वीडियो अभी का बताकर किया जा रहा है वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: February 4, 2021

नई दिल्‍ली (Vishvas News)। सोशल मीडिया पर मुंबई लोकल ट्रेन पर चढ़ती बेकाबू भीड़ का एक वीडियो वायरल हो रहा है। यूजर्स इसे कोरोना काल में पहली बार जनता के लिए खुली लोकल ट्रेन सेवा के पहले दिन का बताकर वायरल कर रहे हैं।

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट की जांच की। हमें पता चला कि ज‍िस वीडियो को वायरल किया जा रहा है, उसका हाल में ही खुली मुंबई लोकल सेवा से कोई संबंध नहीं है। यह वीडियो कम से कम पांच साल से इंटरनेट पर मौजूद है। इसलिए हमारी जांच में वायरल पोस्‍ट फर्जी साबित हुई।

क्‍या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर Sharad Salian (शरद सालियान) ने 3 फरवरी को मुंबई लोकल ट्रेन का एक पुराना वीडियो अपलोड करते हुए दावा किया : ‘Today morning at Borivali railway station’

इसी तरह सोशल मीडिया के अन्‍य प्‍लेटफॉर्म पर भी यह वीडियो वायरल हो रहा है। इसे ट्विटर पर भी वायरल किया जा रहा है।

फेसबुक पोस्‍ट का आर्काइव्‍ड वर्जन यहां देखें।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने सबसे पहले मुंबई लोकल के बारे में जानकारी जुटाना शुरू किया। हमें दैनिक जागरण की वेबसाइट पर प्रकाशित खबर से पता चला कि 1 फरवरी से मुंबई में लोकल ट्रेन सेवा आम नागरिकों के लिए शुरू कर दी गई है। कोरोना के कारण 10 महीने से बंद लोकल ट्रेन सेवा को कुछ न‍ियम और शर्तों के साथ खोला गया है। पूरी खबर यहां पढ़ें।

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल वीडियो को InVID टूल में अपलोड करके कई स्‍क्रीनशॉट न‍िकाले। फ‍िर इन्‍हें गूगल रिवर्स इमेज टूल में अपलोड करके सर्च करना शुरू किया। यह वीडियो हमें अलग- अलग तारीखों के साथ इंटरनेट पर कई जगह मिला। सबसे पुराना वीडियो हमें नवीन पांडेय नाम के एक यूट्यूब चैनल पर मिला। 21 मार्च 2016 को अपलोड इस वीडियो में बताया गया कि मुंबई लोकल में भयंकर भीड़ देखी गई। पूरा वीडियो यहां देखें।

पड़ताल के दौरान हमें वेस्‍टर्न रेलवे मुंबई के सेंट्रल ड‍िव‍िजन के ट्विटर हैंडल से वायरल वीडियो के बारे में कुछ जानकारियां मिलीं। 2 फरवरी को एक ट्वीट के जवाब में वायरल वीडियो को फेक बताया गया।

विश्‍वास न्‍यूज स्‍वतंत्र रूप से इस बात की पुष्टि नहीं करता है कि वीडियो कब का है, लेकिन यह तय है कि इस वीडियो का हाल में ही खुली मुंबई लोकल सेवा से कोई संबंध नहीं है। यह काफी पुराना वीडियो है।

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल वीडियो को लेकर वेस्‍टर्न रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी से संपर्क किया। उन्‍होंने बताया कि मुंबई सेंट्रल-डीआरएम की ओर से इस वीडियो का खंडन किया जा चुका है। यह पुराना वीडियो है।

इसके बाद हमने मुंबई सेंट्रल-डीआरएम का आधिकारिक ट्विटर हैंडल चेक किया। हमें वायरल वीडियो के जवाब में डीआरएम का जवाब मिला। इसमें वीडियो को पुराना बताते हुए इसे शेयर नहीं करने के बारे में कहा गया था।

जांच के अंत में हमने उस यूजर की जांच की, जिसने पुराने वीडियो को हाल का बताकर वायरल किया। हमें पता चला कि फेसबुक यूजर Sharad Salian (शरद सालियान) ने यह अकाउंट जून 2019 को बनाया था। इसे एक हजार से ज्‍यादा लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की जांच में वायरल पोस्‍ट फर्जी निकली। जिस वीडियो को बोरिवली का हाल फ‍िलहाल का बताकर वायरल किया जा रहा है, वह पांच साल से इंटरनेट पर मौजूद है।

  • Claim Review : बोरिवली लोकल का हाल का वीडियो
  • Claimed By : फेसबुक यूजर Sharad Salian
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later