X

Fact Check : ट्रेन के रद्द होने की वायरल खबर एक साल पुरानी है

  • By Vishvas News
  • Updated: March 16, 2021

विश्‍वास न्‍यूज (नई दिल्‍ली)। जहां एक ओर पूरी दुनिया अभी भी कोरोना वायरस से लड़ने में लगी हुई है, वहीं कुछ लोग फर्जी खबरों को फैलाने से बाज नहीं आ रहे हैं। अब एक साल पुरानी न्‍यूज को कुछ लोग अभी का बताकर वायरल कर रहे हैं।

सोशल मीडिया में एबीपी न्‍यूज का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो को वायरल करते हुए दावा किया जा रहा है कि 31 मार्च तक सभी ट्रेन को रद्द कर दिया गया है।

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट की जांच की। हमें पता चला कि 22 मार्च 2020 की खबर को जानबूझकर अब वायरल किया जा रहा है। हमारी जांच में वायरल पोस्‍ट फर्जी साबित हुई।

क्‍या हो रहा है वायरल

फेसबुक पेज मुदस्सर मलिक ऑफिशियल ने 15 मार्च 2021 को एक खबर को अपलोड करते हुए लिखा : ‘Indian Railways Cancels All Passenger Trains Till March 31 | ABP News’

इस खबर को अभी का मानकर दूसरे यूजर्स भी वायरल कर रहे हैं। यह फेसबुक के अलावा ट्विटर पर भी वायरल है। विश्वास न्यूज को अपने फैक्ट चेकिंग वॉट्सऐप चैटबॉट (+91 95992 99372) पर भी यह दावा फैक्ट चेक के लिए मिला है। एक यूजर ने वायरल हो रहे इस वीडियो को हमारे संग शेयर कर इसका सच जानना चाहा है।

फेसबुक पोस्‍ट का आर्काइव्‍ड वर्जन यहां देखें।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने सबसे पहले 5:58 मिनट के वायरल वीडियो को ध्‍यान से देखा और सुना। वीडियो देखकर ही यह समझ में आ गया कि खबर हाल-फिलहाल की नहीं, बल्कि पिछले साल की है।

इसके बाद विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट में किए जा रहे दावे को गूगल में सर्च करना शुरू किया। इसके लिए हमने ‘Indian Railways Cancels All Passenger Trains Till March 31’ टाइप करके सर्च किया। हमें एक भी ऐसी खबर नहीं मिली, जो यह साबित करती हो कि वायरल खबर अभी की है।

जांच को आगे बढ़ाते हुए विश्‍वास न्‍यूज ने यूट्यूब में संबंधित खबर से जुड़े वीडियो को खोजना शुरू किया। ओरिजनल वीडियो हमें एबीपी न्‍यूज के यूट्यूब चैनल पर मिला। 22 मार्च 2020 को अपलोड इस खबर को देखकर यह साबित हो गया कि पिछले साल की न्‍यूज को कुछ लोग अभी का बताकर वायरल कर रहे हैं।

पड़ताल के अगले चरण में हमने भारतीय रेलवे के प्रवक्‍ता से संपर्क किया। उन्‍होंने वायरल पोस्‍ट को फेक बताया।

अब बारी थी फि फर्जी पोस्‍ट करने वाले यूजर की जांच करने की। हमें पता चला कि मुदस्सर मलिक ऑफिशियल नाम के इस पेज को 70 हजार से ज्‍यादा लोग फॉलो करते हैं। यूजर जम्‍मू का रहने वाला है।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में वायरल पोस्‍ट फर्जी साबित हुई। ट्रेन रद्द होने की एक साल पुरानी खबर को कुछ लोग अब वायरल कर रहे हैं। इसलिए यह पोस्‍ट झूठी साबित हुई।

  • Claim Review : 31 मार्च तक सभी ट्रेन रद्द
  • Claimed By : फेसबुक पेज मुदस्सर मलिक ऑफिशियल
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later