X

Fact Check: पश्चिम बंगाल की चुनावी हिंसा में नहीं धनबाद में लंगूर के हमले में घायल हुआ ये जवान

  • By Vishvas News
  • Updated: April 13, 2021

विश्वास न्यूज (नई दिल्ली)। सोशल मीडिया पर एक घायल शख्स की फोटो शेयर की जा रही है। यूजर्स दावा कर रहे हैं कि ये पश्चिम बंगाल में चुनावी हिंसा में घायल CISF जवान हैं। इस तस्वीर को शेयर करते हुए हिंसा का आरोप टीएमसी के लोगों पर लगाया जा रहा है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में इस तस्वीर को लेकर किया जा रहा दावा झूठा निकला है। यह पश्चिम बंगाल की चुनावी हिंसा में नहीं बल्कि धनबाद में लंगूरों के हमले में घायल हुए CISF जवान की तस्वीर है।

पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनावों में सत्तारूढ़ टीएमसी को निशाना बनाने के लिए तस्वीर गलत दावे संग शेयर की जा रही है।

क्या हो रहा है वायरल

ट्विटर यूजर Aniket Jaiswal BJP (अनिकेत जायसवाल भाजपा) ने 12 अप्रैल 2021 को वायरल तस्वीर को ट्वीट कर लिखा है, ‘एक तस्वीर हजारों शब्दों पर भारी होती है। ममता बनर्जी ने दावा किया कि शितलकुची में CISF के जवानों पर हमला नहीं किया गया। घायल जवान की तस्वीर हमले की भयावहता को उजागर करती है। ममता के उकसावे पर TMC के गुंडों ने सेंट्रल फ़ोर्स पर हमला किया था। सब कुछ साफ हो गया।’

इस ट्वीट के आर्काइव्ड वर्जन को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

इसी कैप्शन के साथ यह तस्वीर फेसबुक पर भी शेयर की जा रही है। ऐसी ही फेसबुक यूजर अवनीश प्रनीती सिंह और फेसबुक पेज BJMTU TRADE UNION ने भी इसी कैप्शन के साथ वायरल तस्वीर को पोस्ट किया है।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने सबसे पहले वायरल तस्वीर पर गूगल रिवर्स इमेज सर्च टूल का इस्तेमाल किया। यह तस्वीर हमें हमारे सहयोगी दैनिक जागरण की वेबसाइट पर 10 अप्रैल 2021 को प्रकाशित एक न्यूज रिपोर्ट में मिली। इस न्यूज रिपोर्ट के मुताबिक यह मामला धनबाद के भीमकनाली स्थित सीआईएसएफ कैंप का है, जहां ड्यूटी पर तैनात एएसआई एसपी शर्मा पर लंगूरों ने हमला कर दिया। तस्वीर में दिख रही चोट लंगूरों के हमले से लगी बताई जा रही है। इस रिपोर्ट को यहां क्लिक कर विस्तार से देखा जा सकता है।

विश्वास न्यूज की पड़ताल से ये साफ हो चुका था कि वायरल तस्वीर का संबंध पश्चिम बंगाल या चुनावी हिंसा से नहीं है। अपनी पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए विश्वास न्यूज ने इस वायरल तस्वीर को हमारे सहयोगी दैनिक जागरण धनबाद एडिशन के संपादक चंदन शर्मा संग शेयर किया। उन्होंने भी पुष्टि करते हुए बताया कि ये तस्वीर धनबाद की है। उन्होंने बताया कि पिछले दिनों लंगूर के हमले में सीआईएसएफ जवान घायल हुए थे।

विश्वास न्यूज ने वायरल तस्वीर को गलत दावे से शेयर करने वाले ट्विटर यूजर Aniket Jaiswal BJP (अनिकेत जायसवाल भाजपा) की प्रोफाइल को स्कैन किया। यह प्रोफाइल मार्च 2018 को बनाई गई है और फैक्ट चेक किए जाने तक इसके 49 फॉलोअर्स थे। यूजर एक खास राजनीतिक दल से जुड़े हुए भी हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज की पड़ताल में इस तस्वीर को लेकर किया जा रहा दावा झूठा निकला है। यह पश्चिम बंगाल की चुनावी हिंसा में नहीं बल्कि धनबाद में लंगूरों के हमले में घायल हुए CISF जवान की तस्वीर है। पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनावों में TMC को निशाना बनाने के लिए तस्वीर गलत दावे संग शेयर की जा रही है।

  • Claim Review : ये पश्चिम बंगाल में चुनावी हिंसा में घायल CISF जवान हैं।
  • Claimed By : ट्विटर यूजर Aniket Jaiswal BJP (अनिकेत जायसवाल भाजपा)
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later