X

Fact Check: मृत मां से लिपटकर दूध पीते बच्चे की तस्वीर का लॉकडाउन से नहीं है कोई संबंध

  • By Vishvas News
  • Updated: June 10, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर वायरल हो रही एक तस्वीर में मृत मां से लिपटकर दूध पीते बच्चे की तस्वीर वायरल हो रही है। प्रवासी मजदूरों के संकट से जोड़कर फैलाई जा रही इस तस्वीर को लेकर दावा किया जा रहा है कि यह मध्य प्रदेश के दामोह की है।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत निकला। वायरल हो रही तस्वीर लॉकडाउन से संबंधित नहीं है। यह एक पुराने हादसे की तस्वीर है, जिसे हाल का बताकर वायरल किया जा रहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर ‘Ehasan Sabri’ ने अफसोस जताने वाली स्माइलीज के साथ वायरल तस्वीर (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”Aatma Nirbhar Bharat ka Atmanirbhar Bacchha 😭 (आत्मनिर्भर भारत का आत्मनिर्भर बच्चा।)”

पड़ताल

कुछ दिनों पहले ही बिहार के मुजफ्फरपुर रेलवे स्टेशन पर पड़े महिला के लावारिश शव की तस्वीर सामने आई थी, जहां मां की मौत से अनजान बच्चा उसे जगाने की कोशिश कर रहा था। इस वायरल तस्वीर को भी प्रवासी मजदूरों की दयनीय हालत से जोड़कर वायरल किया जा रहा है।

वायरल हो रही तस्वीर में साफ नजर आ रहा है कि यह इंडिया टुडे पर प्रकाशित रिपोर्ट में इस्तेमाल की गई तस्वीर है। संबंधित की-वर्ड के साथ सर्च करने पर हमें इंडिया टुडे पर प्रकाशित वह रिपोर्ट मिली, जिसमें इस तस्वीर का इस्तेमाल किया गया है।

इंडिया टुडे में 25 मई 2017 को प्रकाशित रिपोर्ट

25 मई 2017 को प्रकाशित इस रिपोर्ट के मुताबिक, यह तस्वीर मध्य प्रदेश के दामोह जिले की है, जहां रेलवे ट्रैक के पास एक बच्चा अपनी मृत मां का दूध पीने की कोशिश कर रहा है।

हिंदी चैनल न्यूज नेशन की वेबसाइट पर भी इस रिपोर्ट को देखा जा सकता है। 25 मई 2017 को प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, ‘मध्य प्रदेश से दिल को दहला देने वाली तस्वीर सामने आई है। जहां रेलवे ट्रैक के पास एक बच्चा अपनी मृत मां का दूध पीने की कोशिश कर रहा है।’

न्यूज नेशन में 25 मई को प्रकाशित खबर

विश्वास न्यूज ने इसे लेकर न्यूज नेशन चैनल के असाइनमेंट डेस्क के प्रभारी पवन कुमार से संपर्क किया। कुमार ने बताया, ‘यह लॉकडाउन से पहले का वीडियो है। 2017 में मध्य प्रदेश के दामोह में यह हृदयविदारक घटना हुई थी।’

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिए देशव्यापी लॉकडाउन का पहले चरण की घोषणा 25 मार्च 2020 को की गई थी, जो पांचवें चरण में 30 जून तक प्रभावी है।

वायरल तस्वीर को शेयर करने वाले यूजर को फेसबुक पर करीब 100 से अधिक लोग फॉलो करते हैं। यूजर ने अपनी प्रोफाइल में खुद को बिहार के कटिहार का रहने वाला बताया है।

निष्कर्ष: मृत मां से लिपटकर दूध पीते बच्चे की वायरल हो रही तस्वीर 2017 में मध्य प्रदेश के दामोह जिले में हुई एक घटना से संबंधित है, जिसका लॉकडाउन से कोई लेना-देना नहीं है।

  • Claim Review : आत्मनिर्भर भारत का आत्मनिर्भर बच्चा
  • Claimed By : FB User-Ehasan Sabri
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later