X

Fact Check: टाइम्स स्क्वायर के बिलबोर्ड्स पर भगवान राम के नाम से वायरल तस्वीर फर्जी है

  • By Vishvas News
  • Updated: August 7, 2020

नई दिल्ली (Vishvas News ): न्यूयॉर्क में टाइम्स स्क्वायर के बिलबोर्ड पर भगवान राम की तस्वीर दिखाते हुए एक पोस्ट को वायरल किया जा रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि ये बिलबोर्ड अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास समारोह वाले दिन के हैं। Vishvas News ने अपनी पड़ताल में पाया कि टाइम्स स्क्वायर के बिलबोर्ड पर भगवान राम की तस्वीर दिखी ज़रूर थी मगर वो तस्वीर वायरल तस्वीर से बिल्कुल अलग है। वायरल तस्वीर फेक है।

क्या हो रहा है वायरल?

5 अगस्त को ट्विटर यूजर @ Mane25994231 ने वायरल इमेज शेयर शेयर की और लिखा, “5 अगस्त 2020 को पीएम मोदी द्वारा अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन समारोह की तैयारी में न्यूयॉर्क में टाइम्स स्क्वायर का दृश्य। कितना गर्व का क्षण है। जय श्री राम।”

पोस्ट का आर्काइव लिंक यहां देखा जा सकता है।

हालांकि, Vishvas News ने अपनी जांच में पाया कि वायरल इमेज नकली है।

पड़ताल

अयोध्या भूमिपूजन पर न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वायर के बिलबोर्ड पर भगवान राम की तस्वीरों को प्रदर्शित करने की खबर हमें कई जगह मिली। हमें जागरण डॉट कॉम पर भी इस बारे में एक रिपोर्ट मिली।

हालांकि, इसके बाद हमें बिजनेस टुडे की एक खबर ऐसी भी मिली। इसमें लिखा था, “टाइम्स स्क्वायर में भगवान राम की तस्वीर नहीं; विज्ञापन फर्म ने मुस्लिम समूहों की याचिका के बाद होर्डिंग पोस्ट करने से इनकार किया।”

विश्वास न्यूज़ ने इसके बाद वायरल तस्वीर की जांच की। गूगल रिवर्स इमेज सर्च टूल का उपयोग करते हुए, विश्वास न्यूज़ जब इस तस्वीर को सर्च किया तो हमने पाया कि किसी भी ऑथेंटिक न्यूज़ पोर्टल ने वायरल तस्वीर को नहीं चलाया था।

अब हमने इस तस्वीर के सोर्स तक पहुँचने का फैसला किया। विश्वास न्यूज़ ने गूगल सर्च इंजन में कुछ कीवर्ड्स के साथ खोज की। हमने लिखा “टाइम्स स्क्वायर” जिससे हम https://makesweet.com/my/board-1066 नाम के पेज पर पहुंचे। इस पेज पर आप उदाहरण देख सकते हैं कि यदि आप अपना ऐड टाइम्स स्क्वायर पर देंगे तो वो कैसा दिखेगा। हमने ‘विश्वास न्यूज़’ के लोगो का उपयोग किया और टेम्पलेट से एक तस्वीर बनाई।

वायरल हो रही तस्वीर को बारीकी से देखने के बाद यह भी देखा जा सकता है कि इस तस्वीर को मिरर इमेज या फ्लिप करके पोस्ट किया गया था, इसलिए बाईं ओर का लोगो दाईं ओर दिखाई दे रहा है।

इसके अलावा, इस तस्वीर को करीब से देखने पर पता चलता है कि बिलबोर्ड पर भगवान राम की एक स्टॉक फोटो का इस्तेमाल किया गया है।

Vishvas News ने संयुक्त राज्य अमेरिका के एचएसएस संपर्क प्रमुख, गणेश रामकृष्णन के साथ भी बातचीत की, उन्होंने बताया कि साझा की गई तस्वीर नकली है।

टाइम्स स्क्वायर राम मंदिर समारोह में उपस्थित लोगों में से एक पीयूष कुकड़े ने भी पुष्टि की कि वायरल तस्वीर नकली है और टाइम्स स्क्वायर पर ऐसा बिल बोर्ड नहीं लगा था।

विश्वास न्यूज को एएनआई के सत्यापित ट्विटर हैंडल पर 5 अगस्त को टाइम्स स्क्वायर पर भगवान राम की छवि प्रदर्शित करने वाले बिलबोर्ड की असली तस्वीर मिली। ANI के वेरिफ़ाइड ट्विटर हैंडल द्वारा टाइम्स स्क्वायर पर ‘जय श्री राम’ का जाप करने वाले लोगों का एक छोटा वीडियो भी शेयर किया गया था। यह तस्वीर वायरल तस्वीर से अलग थी।

इस गलत पोस्ट को शेयर करने वाले ट्विटर यूजर @ Mane25994231 की सोशल स्कैनिंग करने पर हमने पाया गया कि वह अप्रैल 2020 में ट्विटर से जुड़े हैं।

निष्कर्ष: Vishvas News ने अपनी पड़ताल में पाया कि टाइम्स स्क्वायर के बिलबोर्ड पर भगवान राम की तस्वीर दिखी ज़रूर थी मगर वो तस्वीर वायरल तस्वीर से बिल्कुल अलग है। वायरल तस्वीर फेक है।

  • Claim Review : Times Square in New York in full glory in preparation of ground breaking ceremony of Ram Mandir in Ayodhya,by PM Modi on 5th August 2020.
  • Claimed By : ane @Mane25994231
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later