X

Fact Check: AIUDF नेता बदरुद्दीन अजमल की यह वायरल क्लिप एडिटेड है

  • By Vishvas News
  • Updated: March 12, 2021

विश्वास न्यूज नई दिल्ली । ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (AIUDF) के प्रमुख बदरुद्दीन अजमल का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वायरल क्लिप में AIUDF सुप्रीमो को यह कहते हुए देखा जा सकता है कि यदि AIUDF सत्ता में आएगी तो वे भारत को एक इस्लामिक राष्ट्र में बदल देंगे।

Vishvas News ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल दावा झूठा है। वायरल वीडियो एडिटेड है।

क्या है वायरल वीडियो?

वायरल वीडियो में बदरुद्दीन अजमल को कहते हुए देखा जा सकता है, “मुगलों ने 800 वर्षों तक भारत पर शासन किया। हम देश को इस्लामिक राष्ट्र बनाएंगे। यूपीए और महागठबंधन सरकार बनाएंगे और मेरी पार्टी एआईयूडीएफ इसका हिस्सा होगी। देश में एक भी हिंदू व्यक्ति नहीं होगा। हम सभी को मुसलमान बनाएंगे।”

वायरल पोस्ट का आर्काइव लिंक यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

अपनी जांच शुरू करने के लिए हमने पहले इस वीडियो के इनविड टूल की मदद से कीफ्रेम्स निकाले और फिर इन कीफ्रेम्स को गूगल रिवर्स इमेज पर सर्च किया। हमने पाया कि यह क्लिप 2019 में लोकसभा चुनाव के दौरान बारपेटा में हुई एक चुनावी रैली से ली गयी है। हमें यह पूरा वीडियो SANIDUL VLOGS नाम के एक youtube चैनल पर मिला।

असली भाषण में बदरुद्दीन अजमल ने कहा था, “मुगलों ने भारत में 800 वर्षों तक शासन किया, लेकिन वे कभी भी देश को इस्लामी बनाने का सपना देखने की हिम्मत नहीं कर सके। क्या उन्होंने ऐसा किया? उन्होंने कोशिश भी नहीं की। वे हिम्मत नहीं कर सके। उसके बाद, ब्रिटिश ने 200 वर्षों तक देश पर शासन किया। वे भारत को ईसाई देश बनाने का साहस भी नहीं कर सके। स्वतंत्रता के बाद, 70 वर्षों में, कांग्रेस ने 55 वर्षों तक देश पर शासन किया। जवाहरलाल नेहरू से लेकर लाल बहादुर शास्त्री और राजीव गांधी से लेकर मनमोहन सिंह और नरसिम्हा राव तक कांग्रेस नेताओं ने देश को हिंदू राष्ट्र बनाने का सपना नहीं देखा। मोदी जी, कभी ये सपना मत देखिए, आपका सपना टूट जाएगा। यह देश सेक्युलर है।”

जांच में हमने पाया कि AIUDF के आधिकारिक ट्विटर हैंडल ने भी वायरल दावे को ख़ारिज करते हुए पूरे वीडियो को शेयर किया।

ज़्यादा पुष्टि के लिए हमने बदरुद्दीन अजमल से बात की और उन्होंने कहा, “यह मेरे राजनीतिक करियर को नष्ट करने की साजिश है। यह वीडियो मेरी एक पुरानी वीडियो को एडिट करके मेरी छवि को नष्ट करने के लिए बनाया गया है।”

गुमराह करने वाले भाषण को फेसबुक पर एक यूजर शशांक चक्रवर्ती ने साझा किया था। उपयोगकर्ता गुवाहाटी में रहता है और इस प्रोफ़ाइल को 2010 में बनाया गया था।

निष्कर्ष: Vishvas News ने अपनी जांच में पाया कि वायरल वीडियो मॉर्फ्ड है।

  • Claim Review : See what the great coalition wants to do, now tell whom you want to bring in the government, who does not want to bring the jihadis or the nationalist government.
  • Claimed By : Sanjit Pandit
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later