X

Quick Fact Check : राहुल गांधी की तीन साल पुरानी तस्‍वीर फिर हुई फर्जी दावे के साथ वायरल

विश्‍वास न्‍यूज की जांच में पता चला कि राहुल गांधी की तीन साल पुरानी तस्‍वीर को झूठे दावों के साथ वायरल किया जा रहा है। राहुल गांधी जिस अखबार को पढ़ रहे हैं, वह अंग्रेजी में था। उसके पहले और अंतिम पेज पर कन्‍नड़ में विज्ञापन छपा था।

  • By Vishvas News
  • Updated: May 30, 2020

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया में एक बार कांग्रेस नेता राहुल गांधी का मजाक उड़ाते हुए फर्जी पोस्‍ट वायरल हो रही है। इसमें दावा किया जा रहा है कि राहुल गांधी कन्नड़ का अखबार पढ़ रहे हैं।

विश्‍वास न्‍यूज की जांच में पता चला कि वायरल पोस्‍ट फेक है। दरअसल राहुल गांधी अंग्रेजी अखबार नेशनल हेराल्‍ड पढ़ रहे हैं। जिसके पहले और अंतिम पेज पर कन्नड़ में विज्ञापन प्रकाशित हुआ था। विश्‍वास न्‍यूज ने पहले भी एक ऐसी पोस्‍ट की जांच की थी।

क्‍या हो रहा है वायरल?

फेसबुक यूजर Uchhrang Jethwa ने 28 मई को राहुल गांधी की एक तस्‍वीर को अपलोड करते हुए दावा किया : “Rahul Gandhi reading Kannada newspaper ?🥺 He is one of the rare species in the world for sure..”😂

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने पहले भी ऐसे ही एक फर्जी दावे की जांच की थी। इसमें हमें पता चला कि जून 2017 में बेंगलुरू में नेशनल हेराल्‍ के स्‍मारक संस्‍करण के शुभारंभ पर राहुल गांधी पहुंचे थे। उनके हाथ में नेशनल हेराल्‍ड का स्‍मारक सस्‍ंकरण मौजूद था।

विश्‍वास न्‍यूज से बातचीत में नेशनल हेराल्ड के एडिटर इन चीफ ज़फर आगा ने बताया कि यह अखबार तीन भाषाओं में छपता था। अंग्रेजी में नेशनल हेराल्ड, हिंदी में नव जीवन और उर्दू में क़ौमी आवाज़ के नाम से प्रकाशित होता है। अख़बार कन्नड़ में नहीं छपता। बेंगलुरु में नेशनल हेराल्ड के स्मारक संस्करण के शुभारंभ के मौके पर अख़बार के पहले और अंतिम पेज पर कन्नड़ में विज्ञापन थे।

पूरी पड़ताल आप यहां पढ़ सकते हैं।

पड़ताल के बाद हमने उस यूजर के अकाउंट की जांच की, जिसने फर्जी पोस्‍ट को अपलोड की। हमें पता चला कि यूजर Uchhrang Jethwa गुजरात के सूरत में रहते हैं।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की जांच में पता चला कि राहुल गांधी की तीन साल पुरानी तस्‍वीर को झूठे दावों के साथ वायरल किया जा रहा है। राहुल गांधी जिस अखबार को पढ़ रहे हैं, वह अंग्रेजी में था। उसके पहले और अंतिम पेज पर कन्‍नड़ में विज्ञापन छपा था।

  • Claim Review : Rahul Gandhi reading Kannada newspaper
  • Claimed By : फेसबुक यूजर Uchhrang Jethwa
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later