X

Fact Check : Rs. 2000 के नोट बंद होने का दावा करने वाली वायरल पोस्‍ट फर्जी है

  • By Vishvas News
  • Updated: December 10, 2019

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया में एक मैसेज काफी तेजी से वायरल हो चुका है। इसमें कुछ लोग अफवाह फैला रहे हैं कि 31 दिसंबर 2019 से 2000 रुपए का नोट बंद हो जाएगा। फेसबुक से लेकर वॉट्सऐप तक पर यह मैसेज फैला हुआ है। विश्‍वास न्‍यूज ने जब इस दावे की पड़ताल की तो यह झूठा निकला। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की ओर से ऐसा कोई कदम नहीं उठाया गया है। केंद्र सरकार 3 दिसंबर को इस बात को राज्‍यसभा में भी साफ कर चुकी है।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

विश्‍वास न्‍यूज के वॉट्सऐप नंबर पर कई रीडर्स ने हमें एक अखबार की क्लिपिंग को भेज कर सच बताने का अनुरोध किया। पोस्‍ट में एक मैसेज का जिक्र था।

इसी तरह फेसबुक पर संतोष झा नाम के एक यूजर ने 6 दिसंबर को एक मैसेज अपलोड करते हुए दावा किया कि 31 दिसंबर 2019 के बाद आप अपने 2000 के नोट बदल नहीं पाएंगे। पूरा मैसेज आप यहां देख सकते हैं…Reserve Bank taking back all the Rs.2000/- notes. You can only exchange Rs.50,000/- So kindly start changing your 2000/- notes immediately. After 31st december 2019 you cannot change your Rs.2000 notes.”, viral this message.

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने सबसे पहले वायरल पोस्‍ट को ध्‍यान से देखा। यह किसी अखबार की क्लिपिंग थी। ध्‍यान से देखने पर हमें अखबार के मास्‍टहेड पर dainikpurvoday.com लिखा हुआ नजर आया। क्लिपिंग में 1 दिसंबर लिखा हुआ था।

इसके बाद हम dainikpurvoday.com पर गए। 1 दिसंबर 2019 के एडिशन में हमे एक खबर मिली। इसमें पड़ताल करके बताया गया कि 2000 के नोट बंद होने की सच्‍चाई क्‍या है। खबर में विस्‍तार से बताया गया था कि पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया में यह अफवाह है कि 31 दिसंबर के बाद 2000 का नोट नहीं चलेगा। खबर में यह भी बताया गया कि यह सिर्फ एक अफवाह है।

पड़ताल के दौरान हमें पता चला कि वायरल क्लिपिंग मूल ईपेपर का सिर्फ एक छोटा-सा पार्ट है। किसी ने मूल खबर में से इसे अलग से क्रॉप करके गलत दावे के साथ वायरल कर दिया।

पड़ताल के अगले चरण में हम रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की वेबसाइट rbi.org.in पर गए। आरबीआई प्रेस रिलीज सेक्‍शन में हर लेटेस्‍ट सूचना की जानकारी देता रहता है। हमें यहां कोई एक भी ऐसी प्रेस रिलीज नहीं मिली, जिसमें दो हजार के नोट को 31 दिसंबर 2019 के बाद चेंज नहीं करने की कोई बात की गई हो। आरबीआई की प्रेस रिलीज आप यहां देख सकते हैं।

पड़ताल के दौरान हम राज्‍यसभा की वेबसाइट पर गए। वहां हमें 3 दिसंबर को 2000 रुपए के नोट को लेकर पूछे गए प्रश्‍न और उसका उत्तर मिला। वित्त और कॉरपोरेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने 3 दिसंबर को राज्यसभा में एक प्रश्न के जवाब में कहा कि सरकार की ओर से फिलहाल 2000 रुपये के नोट को बंद करने की कोई योजना नहीं है। पूरा जवाब आप यहां पढ़ सकते हैं।

आरबीआई के डिपार्टमेंट ऑफ कम्‍युनिकेशन के चीफ जनरल मैनेजर योगेश दयाल ने दो हजार के नोट को लेकर चल रही अफवाहों पर कहा कि इसमें कोई सच्‍चाई नहीं है। उन्‍होंने कहा कि सोशल मीडिया पर फैले झूठ पर ध्‍यान न दें।

अंत में हमने संतोष झा के फेसबुक अकाउंट की सोशल स्‍कैनिंग की। हमें पता चला कि यूजर असम के बोंगईगांव जिले का रहने वाला है। पेशे से यूजर शिक्षक है। इसके अकाउंट पर हमें कई वायरल पोस्‍ट मिली।

निष्‍कर्ष : विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में 2000 रुपए के नोट बंद होने की खबर अफवाह साबित हुई। केंद्र सरकार और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की ओर से साफ किया गया है कि ऐसी कोई योजना नहीं है।

ये भी पढ़ें

  • Claim Review : दावा किया जा रहा है कि 31 दिसंबर 2019 के बाद 2000 का नोट नहीं बदला जाएगा।
  • Claimed By : फेसबुक यूजर संतोष झा
  • Fact Check : False
False
    Symbols that define nature of fake news
  • True
  • Misleading
  • False
जानिए सच्‍ची और झूठी सबरों का सच क्विज खेलिए और सीखिए स्‍टोरी फैक्‍ट चेक करने के तरीके क्विज खेले

पूरा सच जानें...

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later