X

Fact Check: 4 साल पुराने वीडियो को ‘लॉकडाउन के दौरान आज़ादी से समुद्र के पास खेलता हिरन’ बता कर किया जा रहा है वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: May 8, 2020

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)।सोशल मीडिया पर आज कल एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक हिरन को एक समुद्र के पास खेलते देखा जा सकता है। इस वीडियो को काफी लोग शेयर कर रहे हैं। वायरल पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि यह हिरन लॉकडाउन के चलते ओडिशा में समुद्र के पास खेलता नज़र आया। हमने अपनी पड़ताल में पाया कि असल में यह वीडियो 4 साल पुराना है। यह वीडियो फ्रांस के एक बीच का है। यह वीडियो न तो भारत का है और न ही इसका कोरोना वायरस के चलते हुए लॉकडाउन से कोई संबंध है।

क्या हो रहा है वायरल?

वायरल वीडियो में एक हिरन को एक समुद्र के पास खेलते देखा जा सकता है। वीडियो के साथ डिस्क्रिप्शन में लिखा है, “During #Lockdown on sea beach near Chandrabhaga, Puri- Konark marine drive road. #OdishaNatures #Konark” जिसका हिंदी अनुवाद होता है “चंद्रभागा, पुरी- कोणार्क समुद्री ड्राइव रोड के पास समुद्र तट पर # लॉकडडाउन के दौरान। ओडिशा, कोणार्क।”

इस पोस्ट का फेसबुक लिंक और आर्काइव लिंक यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

इस वायरल पोस्ट की पड़ताल करने के लिए हमने इस वीडियो को InVID टूल पर डाला और इस वीडियो के की-फ्रेम्स को गूगल रिवर्स इमेज सर्च पर सर्च किया। हमने पाया कि एंथोनी मार्टिन नाम के एक फ्रांसीसी वन्यजीव फिल्म निर्माता ने 10 नवंबर, 2015 को अपने फेसबुक पेज पर इस वीडियो को पोस्ट किया था। वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा था ” इमेज: एंथोनी मार्टिन। जैसा कि आप कल्पना कर सकते हैं, मेरी तस्वीरों में आपके द्वारा ली गई रुचि से मैं बहुत प्रभावित हूँ। बीस मिलियन से अधिक ‘व्यूज’, 6 लाख ‘शेयर’, एक लाख से अधिक ‘लाइक’। यह मेरे लिए एक बहुत बड़ा आश्चर्य था और एक फिल्म निर्माता के रूप में मेरे जीवन में मेरी सबसे बड़ी संतुष्टि थी।”

ज़्यादा पुष्टि के लिए हमने एंथोनी मार्टिन से फेसबुक पर संपर्क किया। एंथोनी ने हमें बताया “इस वीडियो को मैंने दक्षिण-पश्चिम फ्रांस के लेंड्स में एक समुद्र के पास 2015 में शूट किया था। वीडियो पुराना है, फ्रांस का है और इसका लॉकडाउन से कोई संबंध नहीं है।”

एंथोनी मार्टिन एक वन्यजीव फिल्म निर्माता हैं। वन्यजीवों पर मार्टिन की फिल्में उनके यूट्यूब पेज पर देखी जा सकती हैं।

इस पोस्ट को ‘Sk Mohd Niyaz” नाम के एक फेसबुक यूजर ने शेयर किया है। यूजर ओडिशा के भद्रक का रहने वाला है।

निष्कर्ष: हमने अपनी पड़ताल में पाया कि असल में यह वीडियो 4 साल पुराना है। यह वीडियो फ्रांस के एक समुद्र के पास का है। यह वीडियो न ही तो भारत का है और न ही इसका कोरोना वायरस के चलते हुए लॉकडाउन से कोई संबंध है।

  • Claim Review : During Lockdown on sea beach near Chandrabhaga, Puri- Konark marine drive road.
  • Claimed By : Sk Mohd Niyaz
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

कोरोना वायरस से कैसे बचें ? PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later