X

Fact Check: MP के स्थानीय चुनाव प्रचार अभियान का पुराना वीडियो गुजरात चुनाव के नाम पर वायरल

2018 में स्थानीय चुनाव प्रचार अभियान के दौरान मध्य प्रदेश के धार जिले में बीजेपी प्रत्याशी को जूतों की माला पहनाए जाने के वीडियो को दुष्प्रचार की मंशा के साथ गुजरात विधानसभा चुनाव से जोड़कर वायरल किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: November 21, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर जारी प्रचार के बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें प्रचार कर रहे नेता को एक बुजुर्ग व्यक्ति जूतों की माला पहनाते हुए अपना विरोध जाहिर करते हैं। दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो गुजरात का है, जहां भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता के प्रचार अभियान के दौरान गुस्साए मतदाताओं ने इस तरह से अपना विरोध जाहिर किया।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा गलत निकला। वायरल हो रहा वीडियो कहीं से भी गुजरात से संबंधित नहीं है और न ही यह हाल कि किसी घटना से संबंधित है। वायरल वीडियो मध्य प्रदेश के धार जिले का है, जहां वर्ष 2018 में चुनाव के दौरान बीजेपी प्रत्याशी को ऐसे विरोध का सामना करना पड़ा था।

क्या है वायरल?

सोशल मीडिया यूजर ‘ਮੁਸਲਮਾਨਾ ਦੇ ਨਾਲ’ ने वायरल वीडियो को ट्वीट (आर्काइव लिंक) करते हुए इसे गुजरात में बीजेपी के प्रचार अभियान का बताया है।

https://twitter.com/Polytikles/status/1593546888334086144

सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर इस वीडियो कई यूजर्स पहले भी विभिन्न चुनावों के मौके पर अलग-अलग संदर्भ में शेयर करते हैं।

पड़ताल

उपयुक्त कीवर्ड के साथ यूट्यूब सर्च में हमें यह वीडियो कई पुरानी रिपोर्ट्स में लगा मिला। न्यूज तक के वेरिफाइड यूट्यूब चैनल पर करीब चार साल पहले अपलोड किए गए वीडियो बुलेटिन के मुताबिक, मध्य प्रदेश के धार जिले में नगर निगम के चेयरमैन पद के बीजेपी प्रत्याशी दिनेश शर्मा बाकायदा गाजे-बाजे और ढोल नगाड़े के साथ रैली लेकर निकले थे। जैसे ही वो एक बुजुर्ग के घर के सामने पहुंचे, पहले से ही तैयारी कर रखे बुजुर्ग ने सबके सामने ही नेताजी को जूतों की माला पहना दी।

कई अन्य रिपोर्ट में भी इस वायरल वीडियो को मध्य प्रदेश के धार जिले में 2018 में हुई घटना का बताया गया है। नईदुनिया की आठ जनवरी 2018 की रिपोर्ट के मुताबिक, ‘भाजपा के अध्यक्ष पद के प्रत्याशी दिनेश शर्मा को जनसंपर्क के दौरान वार्ड क्रमांक 1 में विरोध का सामना करना पड़ा। गुलझरा के एक बुजुर्ग ने पिछली परिषद के दौरान बिगड़ी जल वितरण व्यवस्था व महिलाओं पर प्रकरण दर्ज कराने को लेकर नाराजगी जाहिर करते हुए शर्मा के गले में चप्पल-जूतों का हार पहना दिया। हालांकि, उनके साथ चल रहे कार्यकर्ताओं ने बाद में चप्पल-जूतों का हार निकालकर फेंक दिया। इस प्रकार के विरोध को शर्मा ने बड़ों का आशीर्वाद बताया।’

नईदुनिया की वेबसाइट पर मौजूद आठ जनवरी 2018 की रिपोर्ट

विश्वास न्यूज ने इस वीडियो को लेकर नईदुनिया डॉटकॉम के प्रशांत पांडेय से संपर्क किया। उन्होंने पुष्टि करते हुए बताया कि यह वीडियो मध्य प्रदेश के धार जिले का है, जहां 2018 के स्थानीय निकायों के चुनाव के दौरान यह वाकया हुआ था।

सोशल मीडिया पर यह वीडियो लगभग सभी चुनावों के दौरान अलग-अलग जगह के नाम से वायरल होता रहा है। इससे पहले इस वीडियो को बिहार चुनाव से जोड़कर वायरल किया गया था और कुछ महीनों पहले इस वीडियो को हालिया विधानसभा चुनावों के दौरान जारी प्रचार अभियान से जोड़कर वायरल किया गया था। दोनों ही मौकों पर विश्वास न्यूज ने इस वीडियो के साथ किए गए दावे की पड़ताल की थी, जिसकी फैक्ट चेक रिपोर्ट को यहां और यहां क्लिक कर पढ़ा जा सकता है।

वायरल वीडियो को भ्रामक दावे के साथ शेयर करने वाले यूजर को ट्विटर पर करीब 13 हजार लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: 2018 में स्थानीय चुनाव प्रचार अभियान के दौरान मध्य प्रदेश के धार जिले में बीजेपी प्रत्याशी को जूतों की माला पहनाए जाने के वीडियो को दुष्प्रचार की मंशा के साथ गुजरात विधानसभा चुनाव से जोड़कर वायरल किया जा रहा है।

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later