X

Fact Check: JNU में स्टूडेंट की उम्र ज्यादा होने का दावा करने वाली ये वायरल पोस्ट झूठी है

  • By Vishvas News
  • Updated: November 20, 2019

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर हाल के दिनों में दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हो रहे छात्र प्रदर्शन को लेकर खबरें देखने को मिल रही हैं। इसी संदर्भ में एक पोस्ट वायरल हो रही है जिसमें एक छात्रा की तस्वीर को देखा जा सकता है। इस तस्वीर के साथ दावा किया जा रहा है कि इसमें दिख रही छात्रा 43 साल की है और इसकी बेटी भी इसी कॉलेज में पढ़ती है।

विश्वास टीम की पड़ताल में इस वायरल पोस्ट का दावा झूठा निकला है। तस्वीर में दिख रही इस छात्रा की उम्र 43 साल नहीं, 23 साल है।

क्या हो रहा है वायरल?

फेसबुक पर एक लड़की की तस्वीर को अपलोड करते हुए डिस्क्रिप्शन लिखा गया: मोहर्तमा JNU की 43 साल की छात्रा है, और कमाल की
बात उनकी बेटी मोना भी 12 वी में JNU में ही पड़ती है🙄🙄🙄

पड़ताल

वायरल हो रहे पोस्ट में एक छात्रा की तस्वीर का स्क्रीनशॉट देखा जा सकता है। इस स्क्रीनशॉट के ऊपर “Zee News” का लोगो नजर आ रहा है। साथ ही, जिस तरह के विजुअल इस स्क्रीनशॉट में दिख रहे हैं उनसे यह पता चल रहा है कि यह स्क्रीनशॉट Zee News के प्रोग्राम DNA से लिया गया है। हमने Zee News के Youtube अकाउंट को खंगाला जहां हमें इस स्क्रीनशॉट के दौरान का पूरा वीडियो भी मिल गया।

यह वीडियो 15 नवंबर को अपलोड किया गया था और यह Zee News के DNA प्रोग्राम का ही है। इस वीडियो के स्क्रीनशॉट को आप नीचे देख सकते हैं।

अब हमने इस वीडियो को पूरा देखा और पाया कि कई छात्र AISA नाम के छात्र संगठन की निशान वाली ढफली हाथ में पकड़े हुए हैं। हमने इस संबंध में AISA के नेशनल जनरल सचिव संदीप सौरव से बात की। उन्होंने हमें बताया कि वायरल तस्वीर में दिख रही लड़की 43 साल की नहीं है और इस पोस्ट के साथ किया जा रहा दावा फर्जी है। इस लड़की का नाम शाम्भवी सिद्धि है।

इसके बाद हमने सीधा शाम्भवी सिद्धि से संपर्क किया। शाम्भवी ने विश्वास टीम को बताया, “यह तस्वीर मेरी ही है और मैं फ्रेंच भाषा में JNU से मास्टर कर रही हूं और दूसरे साल की छात्रा हूं। मैं 43 साल की नहीं, 23 साल की हूं”। इसके आलावा विश्वास टीम से बात करते हुए उन्होंने कहा, “लड़कियों को आसानी से फर्जी खबरों का शिकार बनाया जाता है, क्योंकि लोगों को लगता है कि अगर लड़कियां लड़कों से आगे निकल गईं तो देश की कमान उनके हाथ में आ जाएगी।”

इस तस्वीर को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कई सारे यूजर शेयर कर रहे हैं, उन्हीं में से एक “Vikram Singh” नाम की फेसबुक प्रोफ़ाइल है।

नतीजा: विश्वास टीम ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल तस्वीर में दिख रही लड़की 43 साल की नहीं, 23 साल की है। इस छात्रा का नाम शाम्भवी सिद्धि है और यह JNU में M.A. फ्रेंच की पढ़ाई कर रही है।

  • Claim Review : मोहर्तमा JNU की 43 साल की छात्रा है
  • Claimed By : FB User- Vikram Singh
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

कोरोना वायरस से कैसे बचें ? PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later