X

Fact Check: ‘हर-हर शंभू’ गाने पर बच्चो को डांस सिखाने का यह वीडियो उडुपी के प्राइवेट स्कूल का है, रायचूर के सरकारी स्कूल का नहीं

क्लास में छोटे बच्चों को ‘हर-हर शंभू’ गाने पर डांस सिखाने का यह वीडियो कर्नाटक के उडुपी जिले के एक प्राइवेट स्कूल का है। इसका रायचूर जिले से कोई संबंध नहीं है। वीडियो में दिख रही टीचर भी उडुपी की ही रहने वाली हैं।

  • By Vishvas News
  • Updated: November 16, 2022
Karnataka Dancing Teacher, Kiran Rai Karkala, Udupi, Fact Check, Fake News,

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर एक स्कूल में बच्चों को डांस सिखाने का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें टीचर ‘हर-हर शंभू’ गाने पर बच्चों को डांस सिखा रही हैं। इसे शेयर कर कुछ यूजर्स दावा कर रहे हैं कि कर्नाटक के रायचूर के सरकारी स्कूल में टीचर बच्चों को ‘हर-हर शंभू’ गाने पर डांस सिखा रही हैं।

​विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल वीडियो कर्नाटक के उडुपी जिले के एक निजी स्कूल का है, रायचूर के सरकारी स्कूल का नही। इसमें दिख रही टीचर का नाम वंदना है, जो बच्चों को अनोखे तरीके से पढ़ाती हैं।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक यूजर LC Bhandari (आर्काइव लिंक) ने 11 नवंबर को 1.14 मिनट का वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा,

रायचूर कर्नाटक का एक सरकारी स्कूल में प्राइमरी बच्चो को पढ़ाने का तरीका। गुरुकुलो की आवश्यकता भारतीयता व भारतीय संस्कृति के लिए अति आवश्यक है. इससे हटकर Convent School मे क्या पढाया जाता है सभी जानते है. ईश्वर प़दत वैदो गीता रामायण महाभारत व हिन्दु ग़ंथो को कानुन की बैडियो से मुक्त कराने के लिए हिन्दु सरकार को बाध्य करिये.

पड़ताल

वायरल वीडियो की पड़ताल के लिए हमने सबसे पहले कुछ कीवर्ड से इस बारे में गूगल पर ओपन सर्च किया। इसमें हमें स्कून्यूज वेबसाइट पर एक खबर मिली। 20 जुलाई 2020 को छपी इस खबर में लिखा है कि मंगलुरु के जेसीज इंग्लिश मीडियम स्कूल की टीचर वंदना राय का वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें वह प्राथमिक क्लास के छात्रों को डांस के जरिए पढ़ा रही हैं। वायरल वीडियो में वंदना ग्रेड-1 कन्नड़ टेक्स्टबुक के गाने ‘चंडीरनेटेक ओडुवनम्मा’ पर डांस करती नजर आ रही हैं। स्कूल खत्म होने से पहले वह छोटे बच्चों को क्लासिकल डांस के टिप्स देने की कोशिश कर रही हैं। वंदना कन्नड़ चैनलों पर कई रियलिटी शो जीत चुकी हैं। वह करकला में दो डांस स्कूल चलाने के साथ-साथ चेतना स्पेशल स्कूल के छात्रों को भी ट्रेनिंग देती हैं। खबर में दी गई फोटो व अपलोड वीडियो में दिख रही टीचर और वायरल टीचर देखने में एक जैसी लग रही हैं।

22 जुलाई 2020 को टाइम्स ऑफ इंडिया में भी टीचर वंदना राय के बारे में खबर छपी है। इसके अनुसार, ऑनलाइन क्लासेज के इस दौर में पढ़ाने के तरीके को लेकर कर्नाटक प्री-स्कूल की टीचर का वीडियो वायरल हो गया है। जेसीज इंग्लिश मीडियम स्कूल, करकला की टीचर वंदना राय ने एलकेजी, यूकेजी और कक्षा एक के छात्रों के लिए लर्निंग वीडियो जारी किया है। क्लास—1 की कन्नड़ पाठ्यपुस्तक के गीत ‘चंडीरानेटेक ओडुवनम्मा’ पर वह डांस करती हुए देखी जा सकती है। लॉकडाउन के दौरान वह छोटे बच्चों को डांस के अनोखे तरीके से बेसिक बातें सिखाने की कोशिश कर रही हैं।

यूट्यूब चैनल Vandana Rai Karkala पर हमें वायरल वीडियो भी मिल गया। इसे 23 सितंबर 2022 को अपलोड किया गया है। इस पर टीचर वंदना के अन्य वीडियो को भी देखा जा सकता है, जिसमें वह बच्चों को अनोखे तरीके से पढ़ाते हुए देखी जा सकती हैं।

इस बारे में अधिक जानकारी के लिए हमने वंदना राय से फेसबुक मैसेंजर के जरिए संपर्क कर उनको वायरल वीडियो का लिंक भेजा। उनका कहना है, ‘वह जेसीज स्कूल, करकला में पढ़ाती हैं, जो उडुपी जिले में पड़ता है, रायचूर में नहीं। जेसीज एक निजी स्कूल है। इसके अलावा वह कुछ वक्त निकालकर चेतना स्पेशल स्कूल के बच्चों को भी पढ़ाती हैं। वायरल वीडियो चेतना स्पेशल स्कूल का है। यह भी एक निजी स्कूल है, सरकारी नहीं।

वीडियो को भ्रामक दावे के साथ शेयर करने वाले फेसबुक यूजर ‘एलसी भंडारी‘ की प्रोफाइल को हमने स्कैन किया। उन्होंने अपनी प्रोफाइल को लॉक किया हुआ है।

निष्कर्ष: क्लास में छोटे बच्चों को ‘हर-हर शंभू’ गाने पर डांस सिखाने का यह वीडियो कर्नाटक के उडुपी जिले के एक प्राइवेट स्कूल का है। इसका रायचूर जिले से कोई संबंध नहीं है। वीडियो में दिख रही टीचर भी उडुपी की ही रहने वाली हैं।

  • Claim Review : कर्नाटक के रायचूर के सरकारी स्कूल में टीचर बच्चों को 'हर—हर शंभू' गाने पर डांस सिखा रही हैं।
  • Claimed By : FB User- LC Bhandari
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later