नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। कई दिन से सोशल मीडिया पर पीली साड़ी पहने हुए एक महिला की तस्‍वीर वायरल हो रही है। इस महिला के बारे में दावा किया जा रहा है कि ये मिसेज जयपुर नलिनी सिंह हैं। इनके बूथ पर 100 फीसदी मतदान हुआ था। विश्‍वास टीम ने जब वायरल तस्‍वीर की जांच की तो दावा फर्जी साबित हुआ। हमारी जांच में पता चला कि वायरल पोस्‍ट में दिख रही महिला रीना द्विवेदी हैं। इनकी ड्यूटी लखनऊ से 40 किमी दूर नगराम के एक बूथ पर लगी थी। इस तस्‍वीर को दैनिक जागरण ग्रुप के I-next अखबार के फोटोग्राफर तुषार चंद्र राय ने खींची थी। रीना के बूथ पर करीब 70 प्रतिशत वोटिंग हुई थी।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

फेसबुक यूजर संदीप सिंह सांगवान (@sangusudeep) ने 8 मई को एक महिला की तस्‍वीरों को पोस्‍ट करते हुए दावा किया : ”ये है मिसेज जयपुर नलिनी सिंह। आप समाज कल्याण विभाग में है। चुनाव मे इनकी ड्यूटी ईएसआई के निकट कुमावत स्कूल में थी। इनके बूथ पर 100% मतदान हुआ !!”

इस तस्‍वीर को न सिर्फ फेसबुक पर वायरल किया गया, बल्कि वॉट्सऐप और ट्विटर पर भी खूब फैलाया गया।

पड़ताल

विश्‍वास टीम ने सबसे पहले वायरल हो रही तस्‍वीर की सच्‍चाई जानने के लिए एक तस्‍वीर को गूगल रिवर्स इमेज में सर्च किया। हमारे सामने गूगल के कई पेज ओपन हो गए। हर पेज को स्‍कैन करने के बाद हमें आई-नेक्‍स्‍ट की खबर का एक लिंक मिला। इस खबर में बताया गया कि जो तस्‍वीर वायरल हो रही है, उसे फोटोग्राफर तुषार राय ने 5 मई को क्लिक की थी।

अखबार ने 6 मई के अंक में छापा था। पूरी खबर आप यहां पढ़ सकते हैं।

अपनी जांच को आगे बढ़ाते हुए हम आगे बढ़े। हमारी जांच में पता चला कि तस्‍वीर में दिख रही महिला रीना द्विवेदी हैं। वह लखनऊ में पीडब्‍ल्‍यूडी विभाग में कार्यरत हैं। उनकी ड्यूटी 5वें चरण के मतदान के वक्‍त लखनऊ से 40 किमी दूर नगराम के बूथ नंबर 173 पर लगी थी। वोटिंग से एक दिन पहले वह हाथ में ईवीएम मशीन लिए पोलिंग बूथ जा रही थीं। जिस वक्‍त उनकी तस्‍वीर क्लिक की गई थी, तब वह वीवीपैट और ईवीएम मशीनें लेकर अपने बूथ के लिए रवाना हो रही थीं।

हमने फोटो जर्नलिस्‍ट तुषार राय से संपर्क किया। उन्‍होंने बताया कि वायरल तस्‍वीर 5 मई को लखनऊ के रमा बाई मैदान की है। वहां पर लखनऊ और मोहनलाल गंज के लिए ईवीएम बांटने के लिए कर्मचारियों को बुलाया गया था। वहीं पर हमें रीना द्विवेदी मिलीं। उनसे रिक्‍वेस्‍ट करके उनकी तस्‍वीरें क्लिक की गईं थीं। 6 मई को मतदान के बाद इन तस्‍वीरों को अपने फेसबुक अकाउंट पर अपलोड किया। इसके बाद रीना द्विवेदी की तस्‍वीरें पूरे देश में वायरल हो गईं।

तुषार ने हमें अपने कैमरे से क्लिक की गई रीना द्विवेदी की कई तस्‍वीरें भेजीं। इन फोटो को आप नीचे देख सकते हैं।

इसके बाद हमने रीना द्विवेदी से बात की। उन्‍होंने विश्‍वास टीम को बताया कि तस्‍वीर वायरल होने के बाद उनकी जिंदगी बदल गई है। उनकी तस्‍वीर क्‍यों वायरल हो गई, आजतक उन्‍हें यह बात समझ में नहीं आई। उन्‍होंने बताया कि वायरल तस्‍वीर के बाद घरवाले खुश हैं कि बेटी का नाम हुआ।

रीना मूल रूप से देवरिया की रहने वाली हैं। फिलहाल वह लखनऊ के पीडब्‍ल्‍यूडी सेकंड (वित्‍त) में कार्यरत हैं।

अंत में हमने वायरल पोस्‍ट करने वाले संदीप सिंह सांगवान के फेसबुक अकाउंट को खंगाला। Stalkscan टूल की मदद से हमें पता चला कि उनके अकाउंट को एक हजार से ज्‍यादा लोग फॉलो करते हैं। फरीदाबाद के रहने वाले संदीप ने अपना फेसबुक अकाउंट जून 2014 में बनाया था। अक्‍सर संदीप इंटरनेट पर वायरल कंटेंट को पोस्‍ट करते हैं।

निष्‍कर्ष : विश्‍वास टीम की जांच में पता चला कि वायरल तस्‍वीर में दिख रहीं महिला जयपुर की नलिनी सिंह नहीं, बल्कि लखनऊ की रीना द्विवेदी हैं। इनके बूथ नंबर 173 पर करीब 70 फीसदी मतदान हुआ था।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

Claim Review : ये है मिसेज जयपुर नलिनी सिंह। आप समाज कल्याण विभाग में है। चुनाव मे इनकी ड्यूटी ईएसआई के निकट कुमावत स्कूल में थी। इनके बूथ पर 100% मतदान हुआ !!''
Claimed By : Sandeep Singh Sangwan
Fact Check : False

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here