X

Fact Check: तंजावुर के पुराने वीडियो को सलेम का बता कर किया जा रहा है वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: April 15, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज़)। सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में कुछ लोगों को एक व्यक्ति की पिटाई करते हुए देखा जा सकता है। वीडियो में एक पुलिसवाले को भी देखा जा सकता है। वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि यह व्यक्ति एक अपहरणकर्ता है, जो बच्चों को उठाने की कोशिश कर रहा था और पकड़ा गया। विश्वास न्यूज़ की जांच में यह दावा भ्रामक निकला। यह असल में तंजावुर का पुराना वीडियो है, हाल का सलेम का नहीं।

क्या है वायरल पोस्ट में ?

वायरल पोस्ट में कुछ लोगों को एक व्यक्ति की पिटाई करते हुए देखा जा सकता है। पोस्ट के साथ तमिल में कैप्शन लिखा है, “சேலத்தில் சின்ன பிள்ளைகளை கடத்துவதற்கு வெளி மாநிலங்களில் இருந்து நானூறு பேர் வந்துள்ளாகளாம் அதில் ஒருவன் மட்டுமே பிடிபட்டுள்ளான் சுற்றியுள்ள பொதுமக்கள் பிடிபட்ட நபரை நய்யபுடைத்து தர்மஅடி கொடுத்து காவல்துறையிடம் ஒப்படைத்துள்ளனர் இந்த விடியோவை ஷேர் பண்ணுங்கள் ப்ளீஸ்” जिसका हिंदी अनुवाद होता है “दूसरे राज्यों के चार सौ लोग बच्चों का अपहरण करने के लिए सलेम आए हैं। एक पकड़ा गया।”

इस पोस्ट के आर्काइव लिंक को यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

पड़ताल शुरू करने के लिए हमने इस वीडियो को InVID टूल पर डाला और इसके कीफ्रेम्स निकाले। फिर इन कीफ्रेम्स को गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया। हमें maalaimalar.com पर 20 फरवरी, 2019 को पब्लिश्ड एक खबर में वीडियो का एक कीफ्रेम मिला। खबर के अनुसार, “पुराना बस स्टैंड तंजावुर के केंद्र में स्थित है। रोजाना यहां हजारों बसें चलती हैं। यहां से न केवल तंजावुर जिले के लिए, बल्कि तमिलनाडु के विभिन्न हिस्सों के लिए भी बसें उपलब्ध हैं। ऐसे में जब छात्र कल शाम स्कूल के बाद घर जाने के लिए पुराने बस अड्डे पर बस का इंतजार कर रहे थे। तब एक युवक इधर-उधर भटक रहा था और भयानक रूप से नशे में था। अचानक वह युवक उस स्थान पर आया, जहाँ छात्र खड़े थे। फिर उसने एक 7 वें कक्षा की छात्रा से कहा- मैं तुम्हारा पिता हूँ, चलो घर चलते हैं। यह सुनकर हर कोई हैरान रह गया, सिर्फ छात्रा ही नहीं। फिर उसने छात्रा का हाथ पकड़ लिया और उसका अपहरण करने की कोशिश की। हैरान छात्रा चिल्लाई, “मुझे बचाओ, मुझे बचाओ।” शोर सुनकर आसपास के लोग दौड़े और छात्रा को आदमी से छुड़ाया। वह अभी भी नशे में था।”

हमें tamil.oneindia.com पर भी यह वीडियो मिला। 21 फरवरी 2021 को अपलोडेड इस वीडियो के साथ खबर में लिखा था। “तंजावुर के पुराने बस अड्डे पर एक लड़की को अगवा करने की कोशिश करने वाले एक व्यक्ति को पकड़ा गया और जनता द्वारा उसकी पिटाई की गयी। यह वीडियो तंजावुर में सोशल नेटवर्किंग साइट पर तेजी से फैल रहा है।”

आपको बता दें कि तंजावुर और सलेम में 191 किलोमीटर का फासला है।

इस विषय में ज़्यादा पुष्टि के लिए हमने तंजावुर के रामकृष्णपुरम पुलिस स्टेशन के एसआइ दामोदर विक्रम से संपर्क साधा। उन्होंने कहा, “यह घटना 2019 फरवरी की है, जब शराब पिये हुए एक बदमाश ने तंजावुर के पुराने बस स्टैंड में एक स्कूल जाने वाली लड़की का अपहरण करने की कोशिश की थी। हालांकि, घटनास्थल पर मौजूद लोगों ने उसकी पिटाई की और उसे पुलिस को सौंप दिया था।”

वायरल तस्वीर को साझा करने वाले यूजर ‘விஜேந்திரன்’ की सोशल स्कैनिंग से पता चला है कि यूजर तमिलनाडु में रहता है और उसके फेसबुक पर 1,749 फ्रेंड्स हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ की जांच में यह दावा गलत निकला। यह असल में तंजावुर का पुराना वीडियो है, हाल का सलेम का नहीं।

  • Claim Review : சேலத்தில் சின்ன பிள்ளைகளை கடத்துவதற்கு வெளி மாநிலங்களில் இருந்து நானூறு பேர் வந்துள்ளாகளாம் அதில் ஒருவன் மட்டுமே பிடிபட்டுள்ளான் சுற்றியுள்ள பொதுமக்கள் பிடிபட்ட நபரை நய்யபுடைத்து தர்மஅடி கொடுத்து காவல்துறையிடம் ஒப்படைத்துள்ளனர் இந்த விடியோவை ஷேர் பண்ணுங்கள் ப்ளீஸ்
  • Claimed By : விஜேந்திரன்
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later