X

Fact Check: पंजाब के CM चरणजीत सिंह चन्नी के ईसाई धर्म अपनाए जाने का दावा फर्जी

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के ईसाई धर्म अपनाए जाने के दावे के साथ वायरल पोस्ट फर्जी है। इस दावे के साथ वायरल हो रहा वीडियो किसी अन्य व्यक्ति के बपतिस्मा की प्रक्रिया से संबंधित है।

  • By Vishvas News
  • Updated: October 11, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है कि यह पंजाब के मौजूदा मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी से संबंधित है और इसमें उन्हें बपतिस्मा लेते हुए देखा जा सकता है। बपतिस्मा का मतलब यह कि उन्होंने ईसाई धर्म अपना लिया है।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा गलत और दुष्प्रचार निकला। वायरल हो रहा वीडियो बपतिस्मा की प्रक्रिया से संबंधित है, लेकिन इसमें नजर आ रहे व्यक्ति चरणजीत सिंह चन्नी नहीं है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर ‘Vinodkumar Vinnu’ ने वायरल (आर्काइव लिंक) वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, ”Punjab CM take Baptism 🙏🏻🙏🏻🙏🏻.” (”पंजाब के मुख्यमंत्री बपतिस्मा लेते हुए।”)

सोशल मीडिया पर कई अन्य यूजर्स ने इस वीडियो को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है। ट्विटर पर भी कई अन्य यूजर्स ने इस वीडियो को समान दावे के साथ शेयर किया है।

पड़ताल

एक मिनट के वायरल वीडियो में नजर आ रहे फादर को साफ तौर पर यह कहते हुए सुना जा सकता है, ”I baptise Simranjeet Singh as Samuel in the name of the father, the son and the holy God…..”

यानी जिस व्यक्ति को बपतिस्मा की प्रक्रिया के जरिए ईसाई बनाया जा रहा है, उनका नाम सिमरनजीत सिंह है और धर्मांतरण के बाद का नाम सैमुअल होने वाला है। दूसरा तस्वीर में नजर आ रहे व्यक्ति को ध्यान से देखने पर कोई भी व्यक्ति इसका अंदाजा लगा सकता है कि उनकी कद काठी और व्यक्तित्व पूरी तरह से चरणजीत सिंह चन्नी से भिन्न है।

इस वीडियो को लेकर हमने हमारे सहयोगी दैनिक जागरण के चंडीगढ़ के विशेष संवाददाता जय सिंह छिब्बर से संपर्क किया। उन्होंने बताया, ‘वायरल हो रहे वीडियो में नजर आ रहा व्यक्ति पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी नहीं हैं।’ छिब्बर चमकौर साहिब विधानसभा क्षेत्र के रहने वाले हैं, जहां से चरणजीत सिंह चन्नी विधायक हैं। उन्होंने कहा, ‘चन्नी रमदसिया सिख हैं और यह पंजाब में अनुसूचित जाति के तहत आने वाली 39 जातियों में से एक हैं। उनके ईसाई होने का दावा बेबुनियाद है।’

विश्वास न्यूज वायरल वीडियो में नजर आ रहे व्यक्ति की स्वतंत्र पहचान की पुष्टि नहीं करता है, लेकिन हम इस बात की पुष्टि करते हैं कि वीडियो में नजर आ रहा व्यक्ति पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी नहीं हैं।

यह पहली बार नहीं है, जब चन्नी की धार्मिक पहचान को लेकर गलत दावा सोशल मीडिया पर वायरल किया गया हो। उनके मुख्मंत्री बनने के तत्काल बाद ही सोशल मीडिया पर उनके धर्मांतरित ईसाई होने का दावा वायरल हुआ था, जिसकी पड़ताल विश्वास न्यूज ने की थी। विश्वास न्यूज की पड़ताल को यहां पढ़ा जा सकता है।

वायरल वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले यूजर ने फेसबुक पर अपनी प्रोफाइल में स्वयं को मंगलागिरी का रहने वाला बताया है।

निष्कर्ष: पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के ईसाई धर्म अपनाए जाने के दावे के साथ वायरल पोस्ट फर्जी है। इस दावे के साथ वायरल हो रहा वीडियो किसी अन्य व्यक्ति के बपतिस्मा की प्रक्रिया से संबंधित है।

  • Claim Review : Punjab CM take Baptism
  • Claimed By : FB User-Vinodkumar Vinnu
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later