X

Fact Check : लखनऊ में महिला ने पानी मांगा, भीड़ ने बच्‍चा चोर समझकर पीटा

  • By Vishvas News
  • Updated: September 13, 2019

नई दिल्‍ली (विश्‍वास टीम)। देशभर में बच्‍चा चोर की अफवाह के बीच लखनऊ का एक वीडियो वायरल हो रही है। इसमें दावा किया जा रहा है कि लखनऊ के मदेयगंज में एक बच्‍चा चोर औरत तीन बच्‍चों के साथ पकड़ी गई। विश्‍वास टीम की पड़ताल में यह दावा फर्जी निकला। 5 सितंबर को एक औरत लखनऊ के हसनगंज थाना के मसालटोला में एक घर पर पानी मांगने गई तो लोगों ने शोर मचा दिया। हमें पता चला कि जिस औरत को लोगों ने बच्‍चा चोर के नाम पकड़ा था, वह मानसिक रूप से अस्‍वस्‍थ है। महिला को उसके बेटे को सौंप दिया गया है।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

फेसबुक यूजर आलिया आलिया खान ने 6 सितंबर को दिन के 12 बजे एक वीडियो अपलोड करते हुए दावा किया, ”Baccha chor 3 bccho ke sath pakdi gyi h… Khadrah madehganj Police chowki Lucknow mein…”

पड़ताल

विश्‍वास टीम ने सबसे पहले वायरल वीडियो को ध्‍यान से देखा। हमें वीडियो में पुलिस चौकी मदेयगंज लिखा हुआ नजर आया। यह लखनऊ के हसनगंज थाना इलाके में है।

इसके बाद विश्‍वास टीम ने ‘मदेयगंज में बच्चा चोर’ टाइप करके गूगल में सर्च किया। हमें कई वेबसाइट पर इससे जुड़ी खबरें मिलीं। Satyodaya.com नाम की एक वेबसाइट पर पब्लिश खबर में बताया गया कि हसनगंज थाना क्षेत्र के मदेयगंज में लोगों ने मानसिक रूप से बीमार एक बुजुर्ग महिला को बच्‍चा चोर के आरोप में पिटाई कर दी। महिला मानसिक रूप से बीमार थी और उसका लखनऊ के मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा है। यह महिला करीमगंज की रहने वाली थी।

पड़ताल के अगले चरण में हमने दैनिक जागरण के लखनऊ संस्‍करण के ईपेपर को खंगालना शुरू किया। 6 सितंबर के ईपेपर में हमें दैनिक जागरण के लखनऊ संस्‍करण के पेज नंबर आठ पर एक खबर मिली। खबर के मुताबिक, ”हसनगंज में गुरुवार को बच्चा चोरी के शक में लोगों ने एक महिला को दबोच लिया और पिटाई के बाद मदेयगंज पुलिस चौकी लेकर गए। पुलिस ने महिला को हिरासत में लेकर छानबीन की तो पता चला कि वह मानसिक रूप से बीमार है। इसके बाद कार्रवाई की मांग को लेकर लोगों ने पुलिस चौकी का घेराव कर हंगामा भी किया।”

खबर के अनुसार, ”अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर छानबीन की जा रही है। गुरुवार सुबह करीब नौ बजे हबीबपुर खिन्नी चौराहा निवासी एक महिला अपने घर से निकली थी। महिला का मानसिक इलाज चल रहा है और सांस लेने में परेशानी के कारण वह मास्क पहने हुई थी। दिन में करीब 11:30 बजे महिला मसालची टोला निवासी झल्लो के घर के बाहर पहुंची थी, जिसे देखकर लोगों ने शोर मचा दिया कि वह बच्चा चोरी करने आई है।”

इस संबंध में जब लखनऊ के एसएसपी कलानिधि नैथानी से संपर्क किया तो उन्‍होंने बताया कि बच्‍चा चोरी के नाम पर वायरल हो रहा लखनऊ का वीडियो गलत है। दरअसल जिस औरत को भीड़ ने पकड़ा था, वह मानसिक रूप से थोड़ी अस्थिर थी। उसका इलाज भी चल रहा है। 5 सितंबर की सुबह यह औरत पानी पीने के लिए एक घर पर गई तो लोगों ने बच्‍चा चोर समझ कर अफवाह उड़ा दिया। इस मामले में कुछ लोगों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की जा चुकी है।

अंत में विश्‍वास टीम ने फर्जी वीडियो अपलोड करने वाले फेसबुक अकाउंट की सोशल स्‍कैनिंग की। हमें पता लगा कि आलिया आलिया खान के नाम पर बना यह अकाउंट फर्जी है।

निष्‍कर्ष : विश्‍वास टीम की जांच में पता चला कि लखनऊ में बच्‍चा चोरी के आरोप में पकड़ी गई महिला का वीडियो फर्जी है। बच्‍चा चोरी के आरोप में कुछ लोगों ने एक मानसिक रूप से बीमार महिला को पकड़ कर पीट दिया था। बाद में उस महिला को पुलिस ने उसके बेटे को सौंप दिया।

  • Claim Review : लखनऊ में बच्‍चा चोर पकड़ाई
  • Claimed By : फेसबुक यूजर आलिया आलिया खान
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later