X

Fact Check: वायरल पोस्ट में दिए गए नंबर पर मैसेज करने से बेंगलुरु पुलिस का आपकी लोकेशन ट्रैक करने का दावा है फर्जी

  • By Vishvas News
  • Updated: February 25, 2021

नई दिल्‍ली (Vishvas News)। सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है, जिसके जरिए दावा किया जा रहा है कि बेंगलुरु सिटी पुलिस ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। पोस्ट में दावा किया गया है कि 9969777888 नंबर पर एसएमएस भेजने पर पुलिस जीपीआरएस की मदद से मैसेज भेजने वाले की लोकेशन को ट्रैक कर सकेगी।

विश्वास न्यूज ने पड़ताल में पाया कि वायरल पोस्ट के साथ किया जा रहा दावा गलत है। हमने पाया कि बेंगलुरु सिटी पुलिस ने ऐसा कोई नंबर जारी नहीं किया है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर Sunitha Sunitha ने यह पोस्ट शेयर किया, जिसमें अंग्रेजी में लिखे गए टेक्स्ट का हिंदी अनुवाद है: बेंगलुरु सिटी पुलिस न महिला हेल्पलाइन की शुरुआत की है, जिसके तहत टैक्सी या आॅटो में बैठने से पहले गाड़ी का नंबर  +919969777888 पर मैसेज कर दें। आपके पास हाथोंहाथ एसएमएस के जरिए जवाब आएगा। इसके बाद गाड़ी को जीपीआरएस की मदद से ट्रैक किया जाएगा। ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें। अपनी बहन, मां, पत्नी व महिला मित्रों की मदद करें।

पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

इसी फोन नंबर के साथ मिलता-जुलता मैसेज जून 2019 में भी वायरल हुआ था, जिसका सच विश्वास न्यूज ने सामने रखा था। वायरल हो रहा यह नंबर मार्च 2014 में जारी किया गया था और यह केवल मुंबई में महिलाओं की सुरक्षा के लिए था, जिस पर ज्यादा रिस्पॉन्स न मिलने की वजह से इसे मार्च 2017 में बंद कर दिया गया था।

हमें अपनी पड़ताल में बेंगलुरु सिटी पुलिस के ट्विटर अकाउंट से दिसंबर 2019 में किया गया एक ट्वीट मिला, जिसमें यह साफ किया गया था कि 9969777888 नंबर को लेकर किया जा रहा मैसेज फर्जी है।

ट्वीट में लिखा गया है: #Fake message is floating on Whatsapp regarding this number as BCP’s Women Helpline. The number does not belong to BCP People are requested not to believe or share this fake message. Stringent action will be taken against those who create and spread fake messages on social media

हमने वायरल हो रहे इस नंबर पर संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन हमें इस पर कोई जवाब नहीं मिला। इसके बाद विश्वास न्यूज ने बेंगलुरु के शिवाजीनगर ट्रैफिक पुलिस स्टेशन के पुलिस इंस्पेक्टर ट्रैफिक सुदीप सिंह से संपर्क किया। उन्होंने भी यह साफ किया कि वायरल पोस्ट में किया गया दावा गलत है।

फेसबुक पर यह पोस्ट Sunitha Sunitha नामक यूजर ने शेयर की थी। इस यूजर की प्रोफाइल को स्कैन करने पर हमने पाया कि यूजर बेंगलुरु की ही रहने वाली है।

निष्कर्ष: वायरल पोस्ट में बताया गया नंबर बेंगलुरु सिटी पुलिस की ओर से जारी महिला हेल्पलाइन नंबर नहीं है। पोस्ट में किया गया दावा गलत है।

  • Claim Review : वायरल पोस्ट में दिए गए नंबर पर एसएमएस करने पर बैंगलूरु पुलिस आपकी लोकेशन को जीपीआरएस की मदद से ट्रैक करेगी।
  • Claimed By : Fb user: Sunitha Sunitha
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later