Fact Check: आंध्र प्रदेश के कार्यक्रम को दुबई का बता कर किया जा रहा है वायरल

0

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें इस्लामिक परिधान बुरका पहने कुछ महिलाओं को राम भजन गाते सुना जा सकता है। वीडियो में कुछ पुरुषों को भी गाते देखा जा सकता है। इस पुरुषों ने सऊदी अरब का पारम्परिक परिधान थोब पहना हुआ है। पोस्ट में दावा किया गया है कि यह वीडियो दुबई की एक मस्जिद का है। हमारी पड़ताल में हमने पाया कि यह दावा गलत है। असल में यह वीडियो इंडिया के आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में स्थित पुट्टपर्थी साईं आश्रम का है जहाँ 10 जुलाई 2012 को सर्वधर्म सद्बावना कार्यक्रम का आयोजन किया गया था जिसमें भाग लेने मिडिल ईस्ट की कई जगहों से लोग आए थे।

CLAIM

वायरल पोस्ट में इस्लामिक परिधान बुरका पहने कुछ महिलाओं को राम भजन गाते सुना जा सकता है। वीडियो में कुछ पुरुषों को भी गाते देखा जा सकता है। पुरुषों ने सऊदी अरब का पारम्परिक परिधान थोब पहना हुआ है। पोस्ट में दावा किया गया है कि यह वीडियो दुबई की एक मस्जिद का है। पोस्ट में डिस्क्रिप्शन लिखा है “दुबई में मुस्लिम ओरतो ने नई पहल करते हुए मस्ज़िद में राम भजन प्रस्तुत किया और उनके शेख पतियों ने ताली बजाकर ताल पर उनका साथ दिया…….!!!हिन्दुस्तान में होता तो फतवे जारी कर दिए होते अभी तक…….!!!जय श्री राम”

FACT CHECK

पड़ताल को शुरू करने हमने सबसे पहले इस वीडियो को ठीक से देखा। वीडियो 4 मिनट का है और वीडियो के ख़त्म होने पर पुट्टपर्थी के साईं बाबा की तस्वीर आती है।

हमने पड़ताल शुरू की और इस वीडियो को INVID टूल पर डाल कर इसके कीफ्रेम्स निकाले, फिर उन्हें गूगल रिवर्स इमेज पर सर्च किया। इस सर्च में हमारे हाथ Aug 22, 2017 को अपलोड हुआ एक वीडियो लगा जिसका डिस्क्रिप्शन था “श्री सत्य साईं बाबा वरी भजन।”

हमने इसके बाद इस फोटो को दोबारा से श्री सत्य साईं बाबा वरी भजन कीवर्ड्स के साथ गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया। इस बार हमारे हाथ Dec 30, 2012 को यूट्यूब पर अपलोड किया गया एक वीडियो लगा किसका डिस्क्रिप्शन था- “मिडिल ईस्ट से HIS अरब भक्तों द्वारा सत्य साईं बाबा भजन।” इस वीडियो का डिटेल्ड डिस्क्रिप्शन था “भगवान श्री सत्य साईं बाबा दैवीय अवतार हैं और दुनिया भर में 185 देशों में उनके लाखों अनुयायी हैं, जो सभी धर्मों को मानते हैं। यह वीडियो मिडिल-ईस्ट के उनके अरब भक्तों के भक्ति संगीत का संकलन है।” इस डिस्क्रिप्शन में कहीं भी इस कार्यक्रम की जगह की पुष्टि नहीं है।

https://youtu.be/sbtvjuoxRIU

इसके बाद हमने ” Sai Dham arabic choir ” कीवर्ड्स को गूगल पर सर्च किया तो सबसे ऊपर हमें 1 घंटे 4 मिनट का एक वीडियो मिला जिसका टाइटल था ” SARVA DHARMA SWAROOPA SAI ” – ARABIAN CHOIR – 10 JULY 2012″. इस वीडियो का डिस्क्रिप्शन था “मध्य पूर्व और खाड़ी के देशों में शामिल साईं संगठन के क्षेत्र 94 द्वारा एक “प्रशांति” तीर्थयात्रा ने प्रशांति निलयम को इस्लामी उत्सव के साथ कवर किया है। बहरीन, ईरान, कुवैत, ओमान, कतर, सऊदी अरब, सीरिया, तुर्की और संयुक्त अरब अमीरात के भक्तों ने प्रशांति निलयम में एक अरबी स्वाद प्रदान किया।” इस वीडियो को Jul 17, 2012 को अपलोड किया गया था।

हमने पुष्टि के लिए आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में स्थित पुट्टपर्थी साईं आश्रम में कॉल किया तो हमारी बात इनके PRO श्रीकांत दास से हुई। उन्होंने हमें बताया असल में यह वीडियो आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में स्थित पुट्टपर्थी साईं आश्रम का है जहाँ 10 जुलाई 2012 को यह कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिसमें भाग लेने मिडिल ईस्ट की कई जगहों से लोग आये थे। ये वीडियो किसी मस्जिद का नहीं, बल्कि उनके पुट्टपर्थी साईं आश्रम का है।

इस पोस्ट को Chirag Sinh Parmar नाम के एक फेसबुक यूजर ने शेयर किया था जिसे इस स्टोरी के पब्लिश होने तक 2500 से ज़्यादा बार शेयर किया गया है।

निष्कर्ष: हमारी पड़ताल में हमने पाया कि यह दावा गलत है। यह वीडियो दुबई की मस्जिद का नहीं है। असल में यह वीडियो आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में स्थित पुट्टपर्थी साईं आश्रम का है जहाँ 10 जुलाई 2012 को यह कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिसमें भाग लेने मिडिल-ईस्ट की कई जगहों से लोग आए थे।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews।com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

Written BY Pallavi Mishra
  • Claim Review : दुबई में मुस्लिम ओरतो ने नई पहल करते हुए मस्ज़िद में राम भजन प्रस्तुत किया
  • Claimed By : Chirag Sinh Parmar
  • Fact Check : False

संबंधित लेख