X

Fact Check: आर्म्ड फोर्सेस ने मुंबई एयरपोर्ट के पास नहीं बनाया है 1000 बेड वाला कोविड फैसिलिटी सेंटर, वायरल पोस्ट फर्जी है

  • By Vishvas News
  • Updated: May 1, 2021

नई दिल्‍ली (Vishvas News)। सोशल मीडिया पर पोस्ट वायरल हो रही है। इस पोस्ट के जरिए दावा किया जा रहा है कि आर्म्ड फोर्सेस ने महाराष्ट्र के मुंबई एयरपोर्ट के टर्मिनल 1 के पास 1000 बेड वाला कोविड फैसिलिटी सेंटर बनाया है। यह फैसिलिटी सेंटर रक्षा सम्पदा भवन के पास बनाया गया है और यहां इंडियन आर्म्ड फोर्सेस के क्रिटिकल केयर स्पेशलिस्ट, पल्मोनोलॉजिस्ट, डॉक्टर्स और नर्सिंग आॅफिसर्स उपलब्ध हैं। विश्वास न्यूज ने पड़ताल में पाया कि वायरल पोस्ट में किया जा रहा दावा गलत है।

दरअसल रक्षा सम्पदा भवन मुंबई में नहीं, दिल्ली एयरपोर्ट के पास है और यहां डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट आॅर्गेनाइजेशन (DRDO) ने पहले फेज में 500 बेड का कोविड हॉस्पिटल बनाया है, जबकि मुंबई एयरपोर्ट के पास आर्म्ड फोर्सेस ने 1000 बेड का कोई कोविड फैसिलिटी सेंटर नहीं बनाया है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर Suchitra Krishnamoorthi ने यह पोस्ट शेयर किया है, जिसमें अंग्रेजी में लिखे गए टेक्स्ट का हिंदी अनुवाद है: अगर किसी को मुंबई में हॉस्पिटलाइज होने की जरूरत है और उसे आसानी से कुछ नहीं मिल रहा है तो यह आपको सूचित करने के लिए है कि आज से आर्म्ड फोर्सेस ने 1000 बेड की सुविधा वाला कोविड फैसिलिटी सेंटर शुरू किया है। रात 8 बजे से यहां कोरोना के कन्फर्म्ड पेशेंट्स को एडमिट किया जा रहा है। यह कोविड केयर हॉस्पिटल डोमेस्टिक एयरपोर्ट टी 1 के पास बनाया गया है। यहां सबका मुफ्त इलाज किया जा रहा है। यहां भारतीय आर्म्ड फोर्सेस के क्रिटिकल केयर स्पेशलिस्ट, पल्मनोलॉजिस्ट, डॉक्टर्स व नर्सिंग आॅफिसर्स भी उपलब्ध हैं। इसे अपने नेटवर्क में शेयर करें यह टर्मिनल 1 के पास रक्षा सम्पदा भवन के पास बनाया गया है। कोरोना पेशेंट को अपने साथ आधार कार्ड और पॉजिटिव RTPCR रिपोर्ट लेकर जाना होगा। यहां मौजूद ऑफिसर्स इंचार्ज मेजर जनरल भाटिया से +919654895961 और कर्नल गुलशन सैनी से +91 99686 56990 नंबर पर संपर्क किया जा सकता है।

पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने वायरल पोस्ट में किए गए दावे की पड़ताल के लिए सबसे पहले इंटरनेट पर मुंबई एयरपोर्ट के पास इस तरह का कोविड केयर सेंटर खुलने के बारे में सर्च किया। हमें ऐसी कोई मीडिया रिपोर्ट नहीं मिली, जिसमें इसकी पुष्टि होती हो। हालांकि, हमें पीआरओ डिफेंस मुंबई का ट्वीट जरूर मिला, 28 अप्रैल को किए गए इस ट्वीट में वायरल मैसेज को फर्जी बताया गया है।

https://twitter.com/DefPROMumbai/status/1387425878796169217

इसके बाद हमने इंटरनेट पर रक्षा सम्पदा भवन के बारे में सर्च किया। गूगल मैप्स के जरिए हमने पाया कि यह जगह मुंबई में नहीं, बल्कि दिल्ली कैंटोनमेंट, नई दिल्ली में है। यह जगह दिल्ली एयरपोर्ट के टर्मिनल 1 के काफी करीब है।

पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए हमने इंटरनेट पर दिल्ली कैंटोनमेंट एरिया में कोविड फैसिलिटी सेंटर खोले जाने के बारे में इंटरनेट पर सर्च किया तो हमें कुछ मीडिया रिपोर्ट्स मिलीं, जिसमें दिल्ली एयरपोर्ट के पास डीआरडीओ के सरदार वल्लभभाई पटेल कोविड मेडिकल फैसिलिटी सेंटर को फिर से खोलने की बात कही गई थी। इस फैसिलिटी सेंटर में पहले फेज में 250+250 कुल 500 बेड की सुविधा की गई है।

हमें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का 24 अप्रैल का ट्वीट भी मिला, जिसमें उन्होंने जानकारी दी थी कि डीआरडीओ ने इस सेंटर में 250 और बेड मुहैया करवाए हैं, जिसके बाद यहां कुल बेड संख्या 500 हो गई है।

हमने डिफेंस स्पोक्सपर्सन भरत भूषण से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया कि वायरल पोस्ट में किया गया दावा गलत है, यह फैसिलिटी सेंटर मुंबई में नहीं बनाया गया है। दिल्ली एयरपोर्ट के पास बनाए गए कोविड फैसिलिटी सेंटर में अभी 500 बेड लगाए गए हैं।

हमने वायरल पोस्ट में दिए गए मोबाइल नंबर्स पर भी संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन दोनों ही नंबर बंद मिले।

अब बारी थी फेसबुक पर पोस्ट को साझा करने वाली यूजर Suchitra Krishnamoorthi की प्रोफाइल को स्कैन करने का। प्रोफाइल को स्कैन करने पर हमने पाया कि यह एक वेरिफाइड अकाउंट है और प्रोफाइल के अनुसार, यूजर गायिका, अभिनेत्री, लेखिका व पेंटर है। खबर लिखे जाने तक उनके 11846 फॉलोअर्स थे।

निष्कर्ष: हमारी पड़ताल में यह साफ हुआ कि मुंबई एयरपोर्ट के पास आर्म्ड फोर्सेस ने 1000 बेड का कोविड फैसिलिटी सेंटर नहीं बनाया है। ऐसा एक सेंटर दिल्ली एयरपोर्ट के पास जरूर बनाया गया है, लेकिन यहां अभी 500 बेड की ही सुविधा है।

  • Claim Review : आर्म्ड फोर्सेस ने मुंबई एयरपोर्ट टर्मिनल 1 के पास 1000 बेड वाला कोविड फेसिलिटी सेंटर शुरू किया है।
  • Claimed By : FB User : Suchitra Krishnamoorthi
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later