X

Fact Check: COVID-19 और सांस की अन्य बीमारियों के इलाज के लिए हाइड्रोजन पेरोक्साइड कारगर नहीं; चिकित्सकों ने बताया वायरल पोस्ट को फर्जी

विश्वास न्यूज ने जांच की और पोस्ट को फर्जी पाया। चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार COVID-19 और सांस की अन्य बीमारियों के इलाज के लिए हाइड्रोजन पेरोक्साइड कारगर नहीं है।

  • By Vishvas News
  • Updated: October 2, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज ): COVID-19 पूरी दुनिया में फैला हुआ है। ऐसे में कोरोनावायरस और अन्य संबंधित बीमारियों के बारे में फर्जी खबरें भी पूरी दुनिया में पैर पसार रहीं हैं। सोशल मीडिया पर शेयर किए गए एक वीडियो में दावा किया गया है कि हाइड्रोजन पेरोक्साइड और सेलाइन सॉल्यूशन का मिश्रण आपके नाक, गले और फेफड़ों के सभी रोगजनकों और वायरस को मार देगा। विश्वास न्यूज ने जांच की और पोस्ट को फर्जी पाया। चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार COVID-19 और सांस की अन्य बीमारियों के इलाज के लिए हाइड्रोजन पेरोक्साइड कारगर नहीं है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक पर शेयर किए गए एक वीडियो में एक बच्चे को कुछ तरल लेते हुए दिखाया गया है। वीडियो में दावा किया गया है कि हाइड्रोजन पेरोक्साइड और सेलाइन सॉल्यूशन का मिश्रण आपके नाक, गले और फेफड़ों के सभी रोगजनकों और वायरस को मार देगा।

पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है।

हमें विश्वास न्यूज व्हाट्सएप चैटबॉट पर भी यह वीडियो चेक करने के लिए मिला। इसमें भी दावा किया गया था कि यह COVID-19 का इलाज है।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने सबसे पहले स्वास्थ्य संगठनों की वेबसाइटों को जांचा। हमने पाया कि अमेरिकी रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (CDC) ने हाइड्रोजन पेरोक्साइड को COVID-19 के उपचार के रूप में में सूचीबद्ध नहीं किया है।

वेबएमडी के अनुसार, हाइड्रोजन पेरोक्साइड को त्वचा पर एक एंटीसेप्टिक के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है ताकि मामूली काटना, खरोंच और जलने के संक्रमण को रोका जा सके।

हमने Google पर उपयुक्त कीवर्ड का उपयोग करके और खोज की और अस्थमा और एलर्जी फाउंडेशन ऑफ अमेरिका (AAFA) की वेबसाइट पर एक लेख मिला। मिली। यहाँ हाइड्रोजन परॉक्साइड के साँस लेने के खिलाफ चेतावनी दी गयी थी। AAFA ने अपने फेसबुक पेज पर भी पोस्ट किया: “हाइड्रोजन पेरोक्साइड को अपने नेब्युलाइज़र में न डालें और उसमें सांस न लें। यह खतरनाक है। यह COVID-19 से रोकथाम या उपचार का कोई तरीका नहीं है।”

हमें एजेंसी फॉर टॉक्सिक सब्सटेंसेस एंड डिजीज रजिस्ट्री की एक फैक्ट शीट भी मिली। इसमें कहा गया है: “हाइड्रोजन पेरोक्साइड को क्लीनर के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है और अगर आप इसे निगलते हैं या इसे सांस में लेते हैं तो ऊतक क्षति हो सकती है।”

विश्वास न्यूज को Health.com की वेबसाइट पर भी एक लेख मिला। लेख का शीर्षक था: नहीं, COVID-19 को ठीक करने के लिए हाइड्रोजन पेरोक्साइड वाष्प को अंदर लेने से काम नहीं चलेगा, डॉक्टरों ने चेतावनी दी है: ‘कृपया ऐसा न करें’।

विश्वास न्यूज ने डॉ. निखिल मोदी, पल्मोनरी और क्रिटिकल केयर मेडिसिन विशेषज्ञ, अपोलो अस्पताल, नई दिल्ली से संपर्क किया। उन्होंने कहा: “हाइड्रोजन पेरोक्साइड अंदरूनी उपयोग करने के लिए पूरी तरह से असुरक्षित है।

हमने डॉ. अनंत पाराशर, जनरल मेडिसिन, पुष्पांजलि अस्पताल, गुरुग्राम से भी बात की। उन्होंने भी हाइड्रोजन पेरोक्साइड को इन्हेल करने को हानिकारक बताया। उन्होंने कहा: “हाइड्रोजन पेरोक्साइड फेफड़ों के लिए विषाक्त हो सकता है अगर साँस ली जाए तो यह वायुकोशीय क्षति और हाइपोक्सिया भी पैदा कर सकता है।”

हमने फर्जी वीडियो पोस्ट करने वाले फेसबुक यूजर तेरेजा डेल रियो की प्रोफाइल को स्कैन किया। हमने पाया कि उपयोगकर्ता कनाडा का रहने वाला है।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज ने जांच की और पोस्ट को फर्जी पाया। चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार COVID-19 और सांस की अन्य बीमारियों के इलाज के लिए हाइड्रोजन पेरोक्साइड कारगर नहीं है।

  • Claim Review : Hydrogen peroxide 3% mix with Saline  solution or water and it’s safe to nebulize I will kill any and all pathogens and viruses in your nose ad throat and lungs
  • Claimed By : Tereza Del Rio
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later