X

Fact Check: पीएम मोदी और अबु धाबी के क्राउन प्रिंस का 2019 का वीडियो हालिया बताकर भ्रामक दावे के साथ हुआ वायरल

विश्वास न्यूज़ ने पड़ताल में पाया कि वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा भ्रामक है। यह वीडियो साल 2019 का है, जब पीएम मोदी को UAE के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ़ ज़ायद’ से सम्मानित किया गया था।

  • By Vishvas News
  • Updated: July 5, 2022

विश्‍वास न्‍यूज (नई दिल्ली)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हालिया संयुक्त अरब अमीरात (UAE) दौरे के बाद से ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर शेयर किया जा रहा है। 30 सेकंड के इस वीडियो में UAE क्राउन प्रिंस को पीएम मोदी को माला पहनाते हुए देखा जा सकता है। वीडियो को शेयर कर दावा किया जा रहा है कि अरब किंग ने पीएम मोदी को 170 तोला सोने का हार भेंट किया। यूजर्स इस वीडियो को सच मानकर खूब वायरल कर रहे हैं। विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट की जांच की तो पता चला कि वायरल वीडियो साल 2019 का है, जब पीएम मोदी को UAE के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ़ ज़ायद’ से सम्मानित किया गया था। हमारी जांच में वायरल पोस्‍ट भ्रामक साबित हुई।

क्‍या हो रहा है वायरल
फेसबुक यूजर “जय सिया राम” ने 2 जुलाई को इस वीडियो को शेयर करते हुए दावा किया :जय हिंद मोदी जी को 170 तोले का हार अरब के सुल्तान ने भेंट किया….

फेसबुक पोस्‍ट के कंटेंट को यहां ज्‍यों का त्‍यों लिखा गया है। पोस्‍ट का आर्काइव वर्जन यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल
वायरल दावे की सच्चाई जानने के लिए हमने गूगल पर कई कीवर्ड्स के जरिए सर्च किया। इस दौरान हमें वायरल दावे से जुड़ा वीडियो दैनिक जागरण के यूट्यूब चैनल पर 24 अगस्त 2019 को अपलोड मिला। वीडियो में दी गई जानकारी के अनुसार, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अबु धाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद ने शनिवार को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के सर्वोच्च सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ जायद’ से सम्मानित किया। मोदी दो दिवसीय फ्रांस दौरा पूरा करने के बाद शुक्रवार देर रात यूएई पहुंचे। मोदी ने शनिवार को रूपे कार्ड भी जारी कर दिया।”

पड़ताल के दौरान हमें न्यूज़ एजेंसी ANI के यूट्यूब चैनल पर भी 24 अगस्त 2019 को वीडियो अपलोड मिला। इस वीडियो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तत्कालीन क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन ज़ायद से ‘ऑर्डर ऑफ़ ज़ायेद’ सम्मान हासिल करते हुए देखा जा सकता है।

इसी से जुड़ी दूसरी तस्‍वीरें हमें मोहम्‍मद बिन जायद के ट्विटर हैंडल पर भी मिली। इसे 25 अगस्त 2019 को ट्वीट किया गया था। तस्वीरों के साथ लिखा गया कि मैत्री और सहयोग को बढ़ावा देने में भारतीय प्रधानमंत्री की भूमिका के लिए मोहम्मद बिन ज़ायद ने भारतीय प्रधानमंत्री को जायद पदक से सम्मानित किया। इस अवसर पर उनकी उपस्थिति में महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के स्मरण में एक विशेष स्मारक टिकट का विमोचन किया गया।

पीएम मोदी ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से 24 अगस्त 2019 को किये गए ट्वीट में सम्मान समारोह की तस्वीरें शेयर की थी। तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा था,” थोड़ी देर पहले ‘आर्डर ऑफ जायद’ से सम्मानित होने पर मैं विनम्र हूं। एक व्यक्ति से अधिक, यह पुरस्कार भारत के सांस्कृतिक लोकाचार के लिए है और 130 करोड़ भारतीयों को समर्पित है। मैं इस सम्मान के लिए यूएई सरकार को धन्यवाद देता हूं।”

पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए विश्‍वास न्‍यूज ने दैनिक जागरण के नेशनल ब्‍यूरो चीफ आशुतोष झा से संपर्क किया। उनके साथ वायरल पोस्ट के लिंक को शेयर किया। उन्होंने बताया कि वीडियो पुराना है। पुराने वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

अब बारी थी पुरानी पोस्ट को हालिया बताकर शेयर करने वाले यूजर की जांच करने की। हमें पता चला कि फेसबुक यूजर जय सिया राम को फेसबुक पर 4,629 लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ ने पड़ताल में पाया कि वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा भ्रामक है। यह वीडियो साल 2019 का है, जब पीएम मोदी को UAE के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ़ ज़ायद’ से सम्मानित किया गया था।

  • Claim Review : जय हिंद मोदी जी को 170 तोले का हार अरब के सुल्तान ने भेंट किया....
  • Claimed By : फेसबुक यूजर -जय सिया राम
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later