X

Fact Check: आंध्र के श्रीकाकुलम जिले के सुन्नापल्ली में समुद्री लहरों से सोने के रथ के प्रकट होने का दावा भ्रामक

आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले के सुन्नापल्ली में समुद्री लहरों से सोने के रथ के प्रकट होने का दावा भ्रामक है। यह रथ या मंदिर नुमा ढांचा सोने से निर्मित नहीं है, बल्कि सोने के रंग जैसा दिखता है, जो लकड़ी और स्टील से बना हुआ है।।

  • By Vishvas News
  • Updated: May 12, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो के जरिए दावा किया जा रहा है कि आंध्र प्रदेश के समुद्री तट पर हुई एक अद्भुत घटना में समुद्र से सोना का रथ निकलकर सामने आया है। दावा किया जा रहा है समुद्री तूफान असानी की वजह से आंध्र प्रदेश में श्रीकाकुलम के सुन्नापल्ली में समुद्र से स्वर्णिम रथ निकल कर सामने आया है।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा गलत निकला। वायरल हो रहे वीडियो में नजर आ रहा रथ या मठनुमा ढांचा सोना का नहीं, बल्कि उसके रंग का है। यह ढांचा लकड़ी और स्टील का बना हुआ है, जिसे श्रीकाकुलम में पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है।

क्या है वायरल?

फेसबुक यूजर ‘Virag Pandey’ ने वायरल वीडियो (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”समुद्र में प्रकट हुआ मंदिर नुमा सोने का रथ, लोगों ने लगाए जयकारे, आखिर कहां से आया रहस्यमयी रथ, जांच में जुटे अधिकारी..देखें आंध्रप्रदेश का अद्भुत वीडियो।”

कई अन्य यूजर्स ने भी इस वीडियो को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है।

पड़ताल

वायरल वीडियो के बारे में कई सारी मीडिया रिपोर्ट्स में इसे सोना का बताया गया है और सोशल मीडिया यूजर्स ने इन्हीं रिपोर्ट्स में इस्तेमाल किए गए वीडियो को आधार बनाकर इस भ्रामक दावे के साथ उसे शेयर करना शुरू कर दिया कि आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम में समुद्र में सोना का रथ मिला है। एक रिपोर्ट में तो इस रथ की कीमत के अरबों रुपये होने तक का दावा किया है।

दैनिक जागरण के यूट्यूब चैनल पर 11 मई 2022 को अपलोड किए गए वीडियो बुलेटिन में यह बताया गया है कि आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम में समुद्र में सोने की रंग का परत चढ़ा एक खूबसूरत रथ लहरों के साथ बहते हुए आ गया। स्थानीय लोगों ने इसे देखा और फिर इसे खींचकर तट पर ले आए।

NDTV की रिपोर्ट में भी इसे सोने से दिखने वाला रथ बताया गया है और अधिकारियों के हवाले से कहा गया है कि यह रथ या मंदिर जैसा ढांचा किसी म्यांमार या थाईलैंड जैसे देश से बहकर आंध्र प्रदेश के तटीय क्षेत्र तक पहुंच गया होगा।

स्पष्ट है कि यह कोई सोना से निर्मित रथ या मंदिर नहीं है, बल्कि सोना जैसा दिखाई देने वाला ढांचा है। सुमन TV तेलुगू के वेरिफाइड यूट्यूब चैनल पर 11 मई 2022 को अपलोड किए गए वीडियो बुलेटिन में श्रीकाकुलम के स्थानीय पुलिस इंस्पेक्टर को इस बारे में बयान देते हुए सुना जा सकता है। वह बता रहे हैं कि यह कोई सोना निर्मित रथ या ढांचा नहीं है, बल्कि गोल्ड प्लेटेड (सोने की रंग का) ढांचा है।

अब तक की पड़ताल से स्पष्ट है कि आसानी तूफान की वजह से आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले में सोने जैसा दिखने वाला रथ या मंदिर थाईलैंड या म्यांमार जैसे देश से बहकर राज्य के समुद्र तटीय क्षेत्र में आ गया हो, लेकिन यह सोने से बना कोई ढांचा नहीं है।

इस बारे में विस्तृत जानकारी के लिए विश्वास न्यूज ने श्रीकाकुलम के जिला कलेक्टर एस बी लठाकर से संपर्क किया। उन्होंने बताया, ‘यह सोने से निर्मित कोई ढांचा नहीं है, बल्कि सोने के रंग जैसा दिखने वाला ढांचा है। यह ढांचा पुलिस के कब्जे में है और मुमकिन है कि म्यांमार या किसी अन्य देशों से बहकर यह आंध्र प्रदेश के तटीय क्षेत्र सुन्नापल्ली में आ गया हो।’

तेलुगू चैनल समुन टीवी के एक और बुलेटिन में भी इसे सोने के रंग का ही रथ बताया गया है, जो असानी तूफान की वजह से उठी लहरों के कारण बहते हुए आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम के सुन्नापल्ली में आ गया।

वायरल वीडियो को भ्रामक दावे के साथ शेयर करने वाले यूजर को फेसबुक पर करीब चार हजार लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले के सुन्नापल्ली में समुद्री लहरों से सोने के रथ के प्रकट होने का दावा भ्रामक है। यह रथ या मंदिर नुमा ढांचा सोने से निर्मित नहीं है, बल्कि सोने के रंग जैसा दिखता है, जो लकड़ी और स्टील से बना हुआ है। असानी तूफान की वजह से यह ढांचा म्यांमार या थाईलैंड से बहते हुए आंध्र प्रदेश के तटीय क्षेत्र में आ गया।

  • Claim Review : समुद्र में प्रकट हुआ मंदिर नुमा सोने का रथ
  • Claimed By : FB User-Virag Pandey
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later