X

Fact Check: डिप्टी सीएम को लेकर दिया गया अखिलेश यादव का बयान भ्रामक दावे के साथ हो रहा वायरल

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यह बयान एक पत्रकार के सवाल पर डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा को लेकर दिया था। इस बयान का केशव प्रसाद मौर्य या किसी जाति से संबंध नहीं है।

  • By Vishvas News
  • Updated: December 17, 2021
Akhilesh Yadav News

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर 11 सेकंड का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव कह रहे हैं, ये डिप्टी सीएम किसने बना दिया इनको… इनको कूड़े का काम और नाली साफ का काम दोबारा दे देना चाहिए…। इसके साथ में दावा किया जा रहा है कि अखिलेश यादव ने यह बयान उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के लिए दिया है। ऐसा करके उन्होंने पूरे दलित समाज का अपमान किया है।

विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल में दावे को भ्रामक पाया। अखिलेश यादव ने एक पत्रकार के सवाल पर डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा के लिए यह कहा था। दिनेश शर्मा लखनऊ के मेयर रह चुके हैं।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक यूजर Veer Bahadur Singh ने 14 दिसंबर को इस वीडियो को पोस्ट करते हुए लिखा,
सोच तो वही सामंतवादी और जातिवादी है।
यूपी के उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य जी के बारे में क्या बोल रहे हैं।
अखिलेश यादव जी यह अपमान उस संपूर्ण दलित समाज का कर रहे हैं जो सफाई का काम करता है।

फेसबुक यूजर्स विनय सिंह चौहान और Vikas Pokhariyal ने भी इस वीडियो को मिलते—जुलते दावों के साथ वीडियो को शेयर किया।

ट्विटर यूजर संजय गुप्ता ने भी इस वीडियो को पोस्ट करते हुए इसी तरह का दावा किया।

पड़ताल

वायरल हो रहे दावे की पड़ताल के लिए हमने कीवर्ड की सहायता से न्यूज सर्च की। इसमें हमें फेसबुक पेज Ritesh Gupta MLA Moradabad पर एक पोस्ट मिली। 20 नवंबर 2021 को की गई इस पोस्ट में 2.28 मिनट का वीडियो पोस्ट किया गया है। वीडियो के शुरुआत में पत्रकार ने अखिलेश यादव से सवाल पूछा, दिनेश शर्मा ने कहा है, चीन पाकिस्तान नहीं चाहते कि यूपी में भाजपा की सरकार आए। इस पर अखिलेश यादव ने जवाब दिया, कौन नहीं चाहता…ये डिप्टी सीएम किसने बना दिया इनको… इनको कूड़े का काम और नाली साफ का काम दोबारा दे देना चाहिए…।

हमने इसकी और पड़ताल के लिए समाजवादी पार्टी के यूट्यूब चैनल पर 20 नवंबर 2021 से पहले की प्रेस कॉन्फ्रेंस सर्च की। 19 नवंबर 2021 को इस पर अखिलेश यादव की प्रेस कॉन्फ्रेंस का वीडियो मिला। इसका टाइटल ‘राष्ट्रीय अध्यक्ष जी की प्रेसवार्ता – 19/11/2021 Live’ है। इसमें 40 मिनट के बाद वायरल वीडियो को सुना जा सकता है।

इस बारे में सपा के प्रवक्ता सुनील यादव का कहना है, विरोधी दल फर्जी वीडियो वायरल कर रहा है। अखिलेश यादव ने डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा के लिए यह कहा था। इसका संदर्भ सफाई—व्यवस्था को लेकर था। वह लखनऊ के मेयर रह चुके हैं। उन्हें बेहतर मालूम है कि साफ—सफाई कैसे होती है।

वीडियो को भ्रामक दावे के साथ वायरल करने वाले Veer Bahadur Singh (veer) की प्रोफाइल को हमने स्कैन किया। वह एक विचारधारा से प्रेरित हैं और भरतपुर में रहते हैं।

निष्कर्ष: सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यह बयान एक पत्रकार के सवाल पर डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा को लेकर दिया था। इस बयान का केशव प्रसाद मौर्य या किसी जाति से संबंध नहीं है।

  • Claim Review : अखिलेश यादव ने किया केशव प्रसाद मौर्य और दलित जाति का अपमान
  • Claimed By : FB User- Veer Bahadur Singh (veer)
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later