X

Fact Check: दिल्ली में रॉ, मोसाद, CIA, KGB और MI6 की बैठक के दावे के साथ वायरल तस्वीर भारत-रूस के बीच हुई NSA स्तर की मीटिंग की है

दिल्ली में भारत, अमेरिका, इजरायल, ब्रिटेन और रूस की खुफिया एजेंसियों के बीच हुई बैठक के दावे के साथ वायरल हो रही तस्वीर अफगानिस्तान संकट पर भारत और रूस के बीच हुई एनएसए स्तर की बातचीत की है

  • By Vishvas News
  • Updated: September 20, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर वायरल हो रही एक तस्वीर को लेकर दावा किया जा रहा है कि दिल्ली में अफगानिस्तान संकट को लेकर भारत, इजरायल, अमेरिका, रूस और ब्रिटेन की खुफिया एजेंसियों रॉ, मोसाद, सीआई, केजीबी और एमआई-6 के बीच एक महत्वपूर्ण बैठक हुई। दावा किया जा रहा है कि यह तस्वीर पांचों देशों की खुफिया एजेंसियों के बीच हुई उसी महत्वपूर्ण बैठक की है।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा भ्रामक निकला। वायरल हो रही तस्वीर आठ सितंबर को दिल्ली में भारत और रूस के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की प्रतिनिथिमंडल स्तर की वार्ता की है, जिसे भारत, अमेरिका और रूस समेत पांच देशों के बीच की खुफिया एजेंसियों की बैठक का बताकर गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर ‘Binay Kumar’ ने वायरल तस्वीर को शेयर (आर्काइव लिंक) करते हुए लिखा है, ”दिल्ली में भारत की खुफिया एजेंसी रॉ, इजरायल की मोसाद, अमेरिका की सीआईए, रूस की केजीबी और ब्रिटेन की एमआई6 की बैठक हुई। पहली बार दुनिया की शीर्ष पांच खुफिया एजेंसियां दिल्ली में उच्च स्तरीय बैठक कर रही हैं। यह नए भारत की ताकत है।”

सोशल मीडिया पर गलत दावे के साथ वायरल हो रही तस्वीर

फेसबुक पर कई अन्य यूजर्स ने इस तस्वीर को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है। ट्विटर पर भी अनगिनत यूजर्स ने इस तस्वीर को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है।

https://twitter.com/Jayaram9942Blr/status/1439124355976339462

पड़ताल

वायरल हो रही तस्वीर के साथ किए गए दावे की सत्यता को परखने के लिए हमने गूगल रिवर्स इमेज सर्च की मदद ली। सर्च में हमें यह तस्वीर न्यूज एजेंसी एएनआई के ट्विटर हैंडल पर लगी मिली।

आठ सितंबर 2021 को पोस्ट किए गए ट्वीट के मुताबिक, यह तस्वीर दिल्ली में भारत और रूस के बीच एनएसए स्तर के बीच हुई बातचीत की है। न्यूज सर्च में हमें ‘दैनिक जागरण’ की वेबसाइट पर आठ सितंबर 2021 को प्रकाशित रिपोर्ट मिली, जिसमें इस तस्वीर का इस्तेमाल किया गया है।

दैनिक जागरण’ की वेबसाइट पर आठ सितंबर 2021 को प्रकाशित रिपोर्ट

रिपोर्ट के मुताबिक, ‘अफगानिस्तान संकट के बीच देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने आज दिल्ली में रूस के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार निकोलाई पेत्रुशेव से मुलाकात की। फिलहाल भारत और रूस के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता हुई। अपने समकक्ष अजीत डोभाल के अलावा वे विदेश मंत्री एस जयशंकर और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात करेंगे।’

इस तस्वीर को लेकर हमने न्यूज एजेंसी एएनआई में काम करने वाले एक पत्रकार से संपर्क किया। उन्होंने बताया, ‘यह तस्वीर आठ सितंबर को दिल्ली में भारत और रूस के बीच हुई एनएसए स्तर के बीच की बातचीत की ही है।’

अफगानिस्तान संकट को लेकर दिल्ली में भारत समेत अन्य पांच देशों की खुफिया एजेसियों की बैठक के दावे की सच्चाई को जानने के लिए हमने एक बार फिर से न्यूज सर्च की मदद ली।

नौ सितंबर 2021 को हिन्दुस्तान टाइम्स में प्रकाशित खबर के मुताबिक, अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद भारत ने ब्रिटेन, अमेरिका और रूस को अपनी चिंता से अवगत करा दिया है। सूत्रों के हवाले से लिखी गई रिपोर्ट के मुताबिक, ‘पिछले हफ्ते ब्रिटेन की खुफिया एजेंसी एमआई-6 के प्रमुख रिचर्ड मूरे दिल्ली आए और फिर उनके बाद अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के निदेशक विलियम बर्न्स का दिल्ली दौरा हुआ। दोनों ही खुफिया एजेंसियों के प्रमुखों ने अपनी टीम के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से बात की।’ इसके बाद, ‘डोभाल ने रूस के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार निकोलाई पत्रुशेव से बात की।’

हिंदुस्तान टाइम्स की वेबसाइट पर नौ सितंबर को प्रकाशित रिपोर्ट, जिसमें अफगानिस्तान संकट को लेकर भारत के साथ ब्रिटेन, अमेरिका और रूस की बातचीत का जिक्र है

विश्वास न्यूज ने इस मामले को लेकर रिपोर्ट को लिखने हिंदुस्तान टाइम्स के वरिष्ठ पत्रकार रेजाउल एच लश्कर से संपर्क किया। दिल्ली में भारत, अमेरिका, ब्रिटेन, इजरायल और रूस की खुफिया एजेंसियों की किसी बैठक के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘रिपोर्ट में उन्हीं बैठकों का जिक्र किया गया है, जो दिल्ली में हुई हैं।’

सर्च में हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली, जिसमें एक साथ भारत समेत पांच देशों की खुफिया एजेंसियों की किसी बैठक की सूचना हो, जिसका दावा वायरल पोस्ट में किया जा रहा है।

वायरल पोस्ट को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले यूजर ने अपनी प्रोफाइल में स्वयं को दिल्ली का निवासी बताया है।

निष्कर्ष: दिल्ली में भारत, अमेरिका, इजरायल, ब्रिटेन और रूस की खुफिया एजेंसियों के बीच हुई बैठक के दावे के साथ वायरल हो रही तस्वीर अफगानिस्तान संकट पर भारत और रूस के बीच हुई एनएसए स्तर की बातचीत की है, जिसे गलत दावे के साथ दिल्ली में भारत समेत दुनिया की पांच शीर्ष खुफिया एजेंसियों के बीच हुई बैठक का बताकर वायरल किया जा रहा है।

  • Claim Review : दिल्ली में पहली बार अमेरिका, इजरायल समेत पांच देशों की शीर्ष खुफिया एजेंसियों की बैठक
  • Claimed By : FB ङेाी-Binay Kumar
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later