X

Fact Check: 2018 में आतंकी संगठन IS के पत्थरों से पीटकर एक व्यक्ति की हत्या किए जाने का वीडियो तालिबान के नाम पर भ्रामक दावे से वायरल

2018 में अफगानिस्तान के जावजान प्रांत में बलात्कार के एक आरोपी व्यक्ति की पत्थरों से पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। इसी घटना के वीडियो को तालिबानियों से जोड़कर हाल का बताते हुए वायरल किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: September 20, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में एक व्यक्ति की पत्थरों से पीट-पीटकर निर्मम तरीके से हत्या करते हुए देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो अफगानिस्तान में तालिबान की वापसी के बाद का है।

अफगानिस्तान में तालिबान की वापसी के बाद सोशल मीडिया पर लगातार ऐसे कई वीडियो को शेयर किया जाता रहा है, जिसका तालिबान से कोई संबंध नहीं है। वायरल हो रहा वीडियो भी तालिबान से संबंधित नहीं है 2018 के इस वीडियो को हाल का बताकर भ्रामक दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

क्या है वायरल वीडियो में?

फेसबुक यूजर ‘Leftist Media Collective’ ने वायरल वीडियो को शेयर (आर्काइव लिंक) करते हुए लिखा है, ”Afghanistan Decends into Stone Age Rule Under Taliban Authorities.” (तालिबानियों के शासन में अफगानिस्तान एक बार फिर से पाषाण युग में चला गया है।)

वायरल हो रहे वीडियो का स्क्रीनशॉट

सोशल मीडिया पर कई अन् यूजर्स ने इस वीडियो को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है।

पड़ताल

वायरल वीडियो के साथ किए गए दावे की सच्चाई का पता लगाने के लिए इनविड टूल की मदद से मिले की-फ्रेम्स को गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया। सर्च में पर्सियन भाषा की वेबसाइट af.shafaqna.com पर प्रकाशित रिपोर्ट में वायरल वीडियो के दो स्क्रीनशॉट का इस्तेमाल किया गया है।

रिपोर्ट के साथ दी गई जानकारी के मुताबिक, अफगानिस्तान के जावजान प्रांत में बलात्कार के आरोपी को आतंकी संगठन आईएसआईएल (ISIL) के सदस्यों ने पत्थरों से पीट-पीटकर मार डाला। रिपोर्ट के साथ उल्लिखित तारीख और वर्ष पर्सियन कैलेंडर (वर्ष 1397) से संबंधित है। मेटा डेटा सर्च के मुताबिक, इस रिपोर्ट को प्रकाशित किए जाने की तारीख 18 जून 2018 है, जो अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे से करीब तीन साल पहले की घटना है।

यहां से मिली जानकारी को की-वर्ड्स बनाते हुए न्यूज सर्च के दौरान हमें
bbc.com/Persian की वेबसाइट पर लगी खबर मिली, जिसमें इस घटना का विवरण दिया गया है, जो af.shafaqna.com की रिपोर्ट की पुष्टि करता है।


bbc.com/Persian की वेबसाइट पर 22 जून 2018 को प्रकाशित खबर

22 जून 2018 को प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, ‘अफगानिस्तान के जावजान प्रांत में आतंकी संगठन आईएस (ISIS) के आतंकियों ने बलात्कार के आरोपी 60 वर्षीय व्यक्ति की पत्थरों से पीट-पीटकर हत्या कर दी।’

गौरतलब है कि 15 अगस्त 2021 को काबुल की घेरेबंदी के बाद राष्ट्रपति अशरफ गनी के देश छोड़कर भागने के बाद अफगानिस्तान एक बार फिर से तालिबान के कब्जे में चला गया।

जबकि वायरल हो रहा वीडियो 2018 की घटना से संबंधित है। वायरल वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले पेज को फेसबुक पर करीब 600 लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: 2018 में अफगानिस्तान के जावजान प्रांत में बलात्कार के एक आरोपी व्यक्ति की पत्थरों से पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। इसी घटना के वीडियो को तालिबानियों से जोड़कर हाल का बताते हुए वायरल किया जा रहा है।

  • Claim Review : तालिबान की वापसी के साथ अफगानिस्तान में वापस आया पाषाण युग
  • Claimed By : FB Page-Leftist Media Collective
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later