X

Quick Fact Check: चीनी राष्ट्रपति से मिलते वक्त इमरान खान ने नहीं पहना मास्क, एडिटेड तस्वीर हो रही है वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: February 8, 2020

नई दिल्‍ली (विश्‍वास टीम)। सोशल मीडिया पर आजकल एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को एक मंच पर देखा जा सकता है। तस्वीर में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मुँह पर एक क्लीनिकल मास्क पहना है और वो चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ हाथ मिला रहे हैं।  फोटो के साथ क्लेम किया जा रहा है कि इमरान खान ने जिनपिंग से मुलाकात में मुँह पर मास्क पहना।

विश्वास न्यूज़ ने अपनी पड़ताल में पाया कि यह दावा गलत है। असली तस्वीर में इमरान खान ने मुँह पर मास्क नहीं पहना है। ये तस्वीर 2018 नवंबर की है जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने चीन का दौरा किया था और शी जिनपिंग से मुलाकात की थी। इसी तस्वीर को एडिटिंग टूल्स की मदद से छेड़छाड़ की गयी है। कुछ समय पहले भी ये तस्वीर वायरल हुई थी। उस समय एडिट करके जिनपिंग के परिधान को बदला गया था। उस समय भी विश्वास न्यूज़ ने इस खबर की पड़ताल की थी। इसे यहाँ पढ़ा जा सकता है।

क्या हो रहा है वायरल?

वायरल तस्वीर में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को एक मंच पर देखा जा सकता है। तस्वीर में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मुँह पर एक क्लीनिकल मास्क पहना है और वो चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ हाथ मिला रहे हैं।  फोटो के साथ क्लेम में लिखा है “When the virus is spreading, But you still need a loan 😂” जिसका हिंदी अनुवाद होता है “जब वायरस फैल रहा है, लेकिन आपको अभी भी एक ऋण की आवश्यकता है।”

इस पोस्ट के आर्काइव्ड वर्जन को यहाँ देखा जा सकता है।

पड़ताल

इस पोस्ट की जाँच करने के लिए हमने इस फोटो का स्क्रीनशॉट लिया और उसे गूगल रिवर्स इमेज पर सर्च किया। हमें ये तस्वीर reuters.com की वेबसाइट पर मिली पर इस तस्वीर में इमरान खान ने मुँह पर मास्क नहीं पहना था। इस खबर को नवंबर 2, 2018 को पब्लिश किया गया था।

खबर में इस तस्वीर के नीचे कैप्शन लिखा था “Chinese President Xi Jinping meets Pakistani Prime Minister Imran Khan at the Great Hall of the People in Beijing, November 2, 2018. REUTERS/Thomas Peter” जिसका हिंदी अनुवाद होता है “चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने 2 नवंबर, 2018 को बीजिंग के ग्रेट हॉल में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान से मुलाकात की।” इसके आगे लिखा था रायटर्स और थॉमस पीटर, जिसका मतलब होता है कि इस तस्वीर को थॉमस पीटर नाम के फोटोग्राफर ने रायटर्स के लिए क्लिक किया था।

हमने पुष्टि के लिए थॉमस पीटर को ट्विटर पर संपर्क किया। इस तस्वीर के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “Yes, I did take the original picture of the Xi and Khan meeting at the Great Hall of the People in Beijing. and nobody was wearing a mask.” जिसका हिंदी अनुवाद होता है, “हां, मैंने बीजिंग में ग्रेट हॉल ऑफ द पीपल में शी और खान की मुलाकात की मूल तस्वीर ली थी। वहां किसी ने भी कोई मास्क नहीं पहना था।”

इस पोस्ट को कई लोगों ने सोशल मीडिया पर अपलोड किया है जिनमें से एक हैं फेसबुक यूजर Sunil Kota‎ . इस प्रोफाइल के अनुसार, यूजर बरहामपुर, उड़ीसा का रहने वाला है। इस प्रोफाइल के कुल 1,714 फ़ॉलोअर्स हैं।

Disclaimer: कोरोनावायरसफैक्ट डाटाबेस रिकॉर्ड फैक्ट-चेक कोरोना वायरस संक्रमण (COVID-19) की शुरुआत से ही प्रकाशित हो रही है। कोरोना महामारी और इसके परिणाम लगातार सामने आ रहे हैं और जो डाटा शुरू में एक्यूरेट लग रहे थे, उसमें भी काफी बदलाव देखने को मिले हैं। आने वाले समय में इसमें और भी बदलाव होने का चांस है। आप उस तारीख को याद करें जब आपने फैक्ट को शेयर करने से पहले पढ़ा था।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ ने अपनी पड़ताल में पाया कि यह दावा गलत है। असली तस्वीर में इमरान खान ने मुँह पर मास्क नहीं पहना है। ये तस्वीर 2018 नवंबर की है जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने चीन का दौरा किया था और शी जिनपिंग से मुलाकात की थी। इसी तस्वीर को एडिटिंग टूल्स की मदद से छेड़छाड़ की गयी है।

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

कोरोना वायरस से कैसे बचें ? PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later