X

Fact Check: भारत के मुकाबले पाकिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका की GDP ग्रोथ रेट को लेकर वायरल ग्राफिक्स फर्जी

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। मौजूदा वित्त वर्ष (2019-20) की दूसरी तिमाही में भारत के जीडीपी (ग्रॉस डोमेस्टिक प्रोडक्ट) के 5 फीसदी से नीचे जाने के बाद सोशल मीडिया पर बांग्लादेश, श्रीलंका और पाकिस्तान की जीडीपी के आंकड़ों से जुड़ा एक ग्राफिक्स वायरल हो रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि भारत के मुकाबले उसके तीनों पड़ोसी देशों की ग्रोथ रेट ज्यादा है।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत निकला। भारत के साथ तीनों देशों की जीडीपी का जो आंकड़ा वायरल हो रहा है, वह गलत है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक यूजर राहुल गांधी-कांग्रेस ने इन्फोग्राफिक्स को शेयर करते हुए लिखा है, ‘‘आप फकीर हो,

ठीक है! मगर देश को क्यों बना रहे हो?’’

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही पोस्ट

ग्राफिक्स में दावा किया गया है कि भारत की 4.5 फीसदी जीडीपी के मुकाबले बांग्लादेश की जीडीपी 8.2 फीसदी है, जबकि श्रीलंका और पाकिस्तान की जीडीपी क्रमश: 6.5 फीसदी और 5.2 फीसदी है।

पड़ताल

19 मार्च 2019 को बांग्लादेशी अखबार ‘’द डेली स्टार’’ में छपी खबर के मुताबिक वहां की अर्थव्यवस्था वित्त वर्ष 2018-19 में 8.13 फीसदी की दर से आगे बढ़ी। वित्त मंत्री ए एच एम मुस्तफा ने यह आंकड़ा जारी किया था।

इससे पहले के आंकड़ों पर नजर डाले तो 2013-14 में बांग्लादेश की जीडीपी ग्रोथ रेट 6.06 फीसदी, 2014-15 में 6.55 फीसदी, 2015-16 में 7.11 फीसदी, 2016-17 में 7.28 फीसदी और 2017-18 में 7.86 फीसदी रही।

श्रीलंका की GDP को लेकर किया गया दावा 

वायरल पोस्ट में बताया गया है कि भारत के पड़ोसी देश श्रीलंका की जीडीपी 6.5 फीसदी है। 29 नवंबर 2019 को न्यूज एजेंसी रॉयटर्स में प्रकाशित खबर के मुताबिक, श्रीलंका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे ने अपने चुनावी घोषणापत्र में 6.5 फीसदी ग्रोथ रेट हासिल करने का वादा किया था। जबकि पिछले वित्त वर्ष श्रीलंका की जीडीपी ग्रोथ रेट 3.2 फीसदी रही, जो 17 सालों का न्यूनतम ग्रोथ है।

सेंट्रल बैंक ऑफ श्रीलंका की वेबसाइट के मुताबिक श्रीलंका ने मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही का ही डेटा जारी किया है, जो 3.7 फीसदी है।

सोर्स-सेंट्रल बैंक ऑफ श्रीलंका

वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में श्रीलंका की ग्रोथ रेट 1.8 फीसदी रही। जबकि 2018 की तीसरी तिमाही में ग्रोथ रेट 3.5 फीसदी, दूसरी तिमाही में 3.9 फीसदी और पहली तिमाही में 4 फीसदी रही।

अगर मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही से भी तुलना करे तो भारत की ग्रोथ रेट (5 फीसदी), श्रीलंका की ग्रोथ रेट (3.7 फीसदी) से ज्यादा है।

पाकिस्तान की GDP ग्रोथ रेट को लेकर किया गया दावा

वायरल पोस्ट में दावा किया गया है कि पाकिस्तान की जीडीपी ग्रोथ रेट 5.2 फीसदी है। 9 फरवरी 2019 को इकोनॉमिक टाइम्स में रॉयटर्स के हवाले से छपी खबर के मुताबिक पाकिस्तान ने पिछले वित्त वर्ष के लिए ग्रोथ रेट के अनुमान को 5.8 फीसदी से घटाकर 5.2 फीसदी कर दिया है।

पाकिस्तान सरकार के आर्थिक सर्वेक्षण की रिपोर्ट के मुताबिक, वित्त वर्ष 2018-19 में देश की अर्थव्यव्यवस्था की ग्रोथ रेट 3.29 फीसदी रही, जबकि सरकार ने 6.2 फीसदी जीडीपी का लक्ष्य तय किया हुआ था।

सोर्स: पाकिस्तान की 2018-19 की आर्थिक सर्वेक्षण की रिपोर्ट

पाकिस्तानी अखबार डॉन की वेबसाइट पर 10 मई 2019 को प्रकाशित रिपोर्ट से इसकी पुष्टि होती है। खबर के मुताबिक 2018-19 में पाकिस्तान की जीडीपी मात्र 3.3 फीसदी रही, जो 6.2 फीसदी के लक्ष्य से बेहद कम है।

पाकिस्तानी अखबार डॉन में प्रकाशित खबर

अब आते है भारत के जीडीपी ग्रोथ रेट के दावे पर। मौजूदा वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में भारत की जीडीपी ग्रोथ रेट 4.5 फीसदी रही है, जबकि पहली तिमाही में ग्रोथ रेट 5 फीसदी रही। बिजनेस स्टैंडर्ड में छपी खबर में इसे पढ़ा जा सकता है।

बिजनेस स्टैंडर्ड में प्रकाशित खबर

वायरल पोस्ट में जिस ग्रोथ रेट का जिक्र किया गया है, वह मौजूदा वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही का है, न कि पूरे वर्ष।

अर्थशास्त्री अरुण कुमार ने बताया कि भारत की ग्रोथ रेट में लगातार गिरावट आ रही है, जो चिंता का विषय है। हालांकि, तुलना का एक आधार होता है और हमें यह देखना होगा कि जिन आंकड़ों का जिक्र किया जा रहा है, वह कहां से लिए गए हैं। उन्होंने कहा, ‘विश्व बैंक या किसी भी अन्य अंतराष्ट्रीय एजेंसी के डेटा को मानक मानकर तुलना की जा सकती है, क्योंकि जो सरकारें डेटा जारी करती हैं, वह प्रोविजनल होते हैं और अंतिम आंकड़ा आने में कुछ सालों का समय लगता है।’

विश्व बैंक की वेबसाइट पर सबसे हालिया आंकड़ा वर्ष 2018 का है। इन आंकड़ों के मुताबिक, चारों देशों के सालाना ग्रोथ रेट को नीचे देखा जा सकता है।

बांग्लादेश (वर्ष 2018) –  7.9 फीसदी

भारत (वर्ष 2018) –  7 फीसदी

पाकिस्तान (वर्ष 2018) – 5.4 फीसदी

श्रीलंका (वर्ष 2018) – 3.2 फीसदी।

यानी विश्व बैंक के आंकड़ों को भी मानक बनाकर देखा जाए तो भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका और बांग्लादेश की ग्रोथ रेट को लेकर वायरल हो रहा दावा गलत है।

एशियाई डेवलपमेंट बैक (ADB) के मुताबिक भी वायरल हो रहा आंकड़ा सही नहीं है। 2018 के जीडीपी ग्रोथ रेट और 2019 एवं 2020 के ग्रोथ रेट अनुमान में भी ऐसा कुछ नजर नहीं आता है, जिसका दावा वायरल पोस्ट में किया गया है।

Source-एशियाई विकास बैंक के मुताबिक 2018 की ग्रोथ रेट

Source-एशियाई विकास बैंक के मुताबिक 2019 की ग्रोथ रेट का अनुमान

Source-एशियाई विकास बैंक के मुताबिक 2020 की ग्रोथ रेट का अनुमान

एडीबी के 2019 और 2020 के अनुमान के आंकड़ों के आधार पर भी देखा जाए तो भारत के मुकाबले तीनों देशों की ग्रोथ रेट का आंकड़ा सही नहीं है।

निष्कर्ष: भारत के मुकाबले पाकिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका की जीडीपी ग्रोथ को लेकर वायरल हो रहा ग्राफिक्स फर्जी है।

  • Claim Review : बांग्लादेश, पाकिस्तान और श्रीलंका के मुकाबले भारत की ग्रोथ रेट
  • Claimed By : FB User-Rahul Gandhi - Congress
  • Fact Check : False
False
    Symbols that define nature of fake news
  • True
  • Misleading
  • False
जानिए सच्‍ची और झूठी सबरों का सच क्विज खेलिए और सीखिए स्‍टोरी फैक्‍ट चेक करने के तरीके क्विज खेले

पूरा सच जानें...

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later