नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर समाचार की शक्ल में आम आदमी पार्टी के नेता और दक्षिणी दिल्ली लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे राघव चड्ढा का कथित बयान वायरल हो रहा है। बयान में गुर्जर और जाट समुदाय के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी लिखी हुई है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह खबर फर्जी साबित होती है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक पर ‘We support Ramesh Bidhuri’ पेज से न्यूज चैनल ”आज तक”  की एक डिजिटल न्यूज क्लिप शेयर की गई है। शेयर किए गए क्लिप में लिखा हुआ है, ‘गुर्जर-जाट दोनों बत्तमीज क़ौम हैं, अक्सर रोड पर झगड़ते दिखते हैं, नही चाहिए गुंडों का वोट: राघव चड्ढा’।

इसके बाद खबर की शक्ल में पहला पैरा भी लिखा हुआ है, जिसमें कहा गया है, ‘राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता के चलते जातीय ध्रुवीकरण कर आम आदमी पार्टी के दक्षिणी दिल्ली से लोकसभा उम्मीदवार राघव चड्ढा ने नई मुसीबत मोल ली है। उनका यह बयान जाट और गुर्जरों द्वारा दक्षिणी दिल्ली में समर्थन ना मिलने व उनके पिछले विवादित बयानों से नाराज…’।

पड़ताल किए जाने तक इस पोस्ट को 122 बार शेयर किया जा चुका है।

पड़ताल

चूंकि वायरल हो रहा पोस्ट हिंदी भाषा के चैनल से संबंधित था, इसलिए न्यूज सर्च की मदद से हमने ऐसे किसी खबर या बयान को ढूंढने की कोशिश की। सर्च के दौरान हमें पता चला कि यह पहला मौका नहीं है जब आप नेता राघव चड्ढा के नाम से फर्जी बयान वायरल हुआ हो।

दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों पर होने वाले चुनाव से पहले 10 मई को ऐसा ही फर्जी पोस्ट फेसबुक पर वायरल हुआ था।

दिल्ली में 12 मई को सातों सीटों पर चुनाव हुआ था और राघव चड्ढा दक्षिणी दिल्ली की लोकसभा सीट से आम आदमी पार्टी (आप) के प्रत्याशी हैं।

न्यूज सर्च में हमें पता चला कि जो बयान फेसबुक पर वायरल हो रहा है, वह राघव चड्ढा ने नहीं दिया है। गौर से देखने पर हमें पता चला कि वायरल हो रहे डिजिटल न्यूज क्लिप में व्याकरण की कई सारी गलतियां हैं, जो आम तौर पर किसी न्यूज वेबसाइट पर प्रकाशित न्यूज रिपोर्ट्स में होती है।

न्यूज सर्च में भी हमें राघव चड्ढा का पुराना बयान ही नजर आया।

इसके बाद विश्वास न्यूज ने राघव चड्ढा से संपर्क किया। चड्ढा ने विश्वास न्यूज को बताया, ‘यह पूरी तरह से फर्जी खबर है। बीजेपी के डर्टी ट्रिक डिपार्टमेंट ने यह किया है। यह पूरी तरह से फर्जी है।’ उन्होंने कहा, ‘बीजेपी दक्षिणी दिल्ली सीट से बुरी तरह चुनाव हार रही है, इसलिए वह घटिया राजनीति पर उतर आए हैं।’

दक्षिणी दिल्ली सीट से राघव चड्ढा के खिलाफ बीजेपी के रमेश बिधूड़ी चुनावी मैदान में हैं। बयान की सत्यता जांचने के बाद हमने Stalkscan की मदद से संबंधित पेज की स्कैनिंग की। संबंधित पेज बीजेपी उम्मीदवार रमेश बिधूड़ी के समर्थन में चलाए जाने वाला पेज है, जहां कई भ्रामक जानकारियां साझा की गई हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज की पड़ताल में राघव चड्ढा के बयान को लेकर वायरल हो रहा पोस्ट फर्जी साबित होता है। राघव चड्ढा ने किसी समुदाय विशेष को लेकर कोई आपत्तिजनक बयान नहीं दिया।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

Claim Review : गुर्जर और जाटों के बारे में आप नेता राघव चड्ढा ने दिया विवादित बयान
Claimed By : FB User-We support Ramesh Bidhuri
Fact Check : False

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here