X

Fact Check: नहीं गिराया गया है बठिंडा थर्मल पावर प्लांट , फर्जी पोस्ट हो रहा है वायरल

विश्वास न्यूज की जांच में वायरल दावा गलत निकला साबित हुआ । ध्वस्त किए गए थर्मल पावर प्लांट का यह वीडियो बठिंडा का नहीं, पानीपत का है।

  • By Vishvas News
  • Updated: September 9, 2021

विश्वास न्यूज (नई दिल्ली)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में एक थर्मल प्लांट को गिराते हुए देखा जा सकता है। सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि बठिंडा थर्मल पावर प्लांट को उड़ा दिया गया है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में वायरल पोस्ट फर्जी साबित हुई है। ये वीडियो बठिंडा थर्मल पावर प्लांट का नहीं, बल्कि पानीपत का है।

क्या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर “Satwant Singh Bhullar Director” ने एक वायरल वीडियो अपलोड किया है और लिखा है “बठिंडा वाला थर्मल प्लांट बम से उड़ा दिया गया 17,000 करोड़ की मशीनरी 165 करोड़ रुपये में बेच दी? निकाल दिया धुंआ”

पोस्ट का आर्काइव लिंक यहाँ देखें।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने वायरल वीडियो की जांच शुरू की, सबसे पहले वीडियो को Invid टूल में डाला और उसके कीफ्रेम निकाले, फिर गूगल रिवर्स इमेज टूल में इन की फ्रेम सर्च करना शुरू किया । हमें संबंधित वीडियो Voice of panipat नाम के यूट्यूब चैनल पर 5 अगस्त 2019 को अपलोड मिला। वीडियो अपलोड कर लिखा गया था”#पानीपत थर्मल प्लांट विस्फोट के बाद गिराने की लाइव तस्वीर” पूरी वीडियो को यहाँ देखो।

एक और वीडियो हमें 6 अगस्त, 2019 को kaushal patel नाम के यूट्यूब चैनल पर अपलोड मिला। वीडियो अपलोड कर लिखा गया था “Demolition of cooling tower in panipat thermal plant ” वीडियो यहां देखें।

जांच के दौरान, हमें 6 अगस्त, 2019 को दैनिक जागरण की वेबसाइट पर प्रकाशित एक रिपोर्ट मिली। रिपोर्ट्स के मुताबिक, देश में पहली बार आधुनिक तकनीक से थर्मल पावर प्‍लांट में विस्‍फोट, 10 सेकंड में कूलिंग टावर ध्‍वस्‍त। इससे जुड़ी एक और खबर दैनिक जागरण की ही वेबसाइट पर 26 अगस्त 2019 को प्रकाशित हुई थी। प्रकाशित खबर का शीर्षक था “पानीपत Thermal plant में Blast कर गिराए गए तीन Cooling tower, जानें क्यों उठाया गया ऐसा कदम” पूरी खबर यहां देखें।

अब हमने जानना चाहा कि बठिंडा थर्मल पावर प्लांट सच में तोड़ा गया या नहीं। हमें tribuneindia की एक रिपोर्ट मिली। जिसमें कहा गया था कि अब तक सिर्फ चिमनियों को ही ध्वस्त कर दिया गया था।

आपको बता दें कि पंजाब सरकार ने थर्मल प्लांट के स्थान पर एक औद्योगिक पार्क स्थापित करने की घोषणा की है और इस साइट पर कई अन्य परियोजनाएं स्थापित करने की भी योजना है।

पड़ताल जारी रखते हुए विश्वास न्यूज ने दैनिक जागरण के बठिंडा रिपोर्टर गुरप्रेम लहरी से बात की। उन्होंने हमें बताया कि यह वीडियो बठिंडा का नहीं है. उन्होंने हमें यह भी बताया कि कूलिंग टावर बने रहेंगे, चिमनियां ध्वस्त कर दी गई हैं । वीडियो के साथ किया गया दावा पूरी तरह झूठा है।

मामले में और पुष्टि के लिए हमने इस वीडियो को दैनिक जागरण के पानीपत के रिपोर्टर रवि धवन के साथ भी शेयर किया है। जैसे ही उन्होंने वीडियो देखा, उन्होंने हमें बताया कि यह वीडियो पानीपत का है, बठिंडा का नहीं।

जांच के अंत में हमने फर्जी पोस्ट करने वाले यूजर की जांच की। हमें पता चला कि फेसबुक यूजर Satwant Singh Bhullar Director के 982 फॉलोअर्स हैं। यूजर ने 28 जनवरी 2015 को फेसबुक पर अपना अकाउंट बनाया था। यूजर ने अपने आप को फिल्म और वीडियो डायरेक्टर बताया है।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज की जांच में वायरल दावा गलत निकला साबित हुआ । ध्वस्त किए गए थर्मल पावर प्लांट का यह वीडियो बठिंडा का नहीं, पानीपत का है।

  • Claim Review : बठिंडा वाला थर्मल प्लांट बम से उड़ा दिया गया
  • Claimed By : फेसबुक यूजर Satwant Singh Bhullar Director
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later