X

Fact Check: इस वीडियो में दिख रहा शख्स कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी नहीं, वायरल दावा गलत है

  • By Vishvas News
  • Updated: January 7, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो स्टैंड-अप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी की पिटाई का है। विश्वास न्यूज की पड़ताल में ये दावा झूठा निकला है। वायरल वीडियो में मुनव्वर फारूकी नहीं, बल्कि सदाकत नाम के शख्स हैं।

क्या हो रहा है वायरल

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो संग ये दावा किया जा रहा है कि यह कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी की इंदौर में हुई पिटाई का वीडियो है। एक ऐसे ही ट्वीट में इस वीडियो संग अंग्रेजी में लिखे टेक्स्ट में दावा किया गया है कि इंदौर में बीजेपी पार्षद के लोगों ने कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी की पिटाई की। इस ट्वीट को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

वायरल क्लेम का स्क्रीनशॉट।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने सबसे पहले इस वायरल वीडियो को InVID टूल में डाल इसके कीफ्रेम्स निकाले। जिस कीफ्रेम में पीटे जा रहे शख्स का चेहरा सबसे स्पष्ट मिला, हमने उसे गौर से देखा। हमने उस कीफ्रेम को कॉमेडिटन मुनव्वर फारूकी की तस्वीर से मैच कराया। यहां नीचे साफ तौर पर देखा जा सकता है कि बाएं दिख रहा शख्स कोई और है, जबकि दाएं मुनव्वर फारूकी की असल तस्वीर है, दोनों शख्स अलग हैं।

विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए जरूरी कीवर्ड्स की मदद से इस दावे को इंटरनेट पर सर्च किया। हमें मुनव्वर फारूकी और इंदौर कीवर्ड से जुड़ीं कई प्रामाणिक मीडिया रिपोर्ट मिलीं। हमें 2 जनवरी 2021 को प्रकाशित एनडीटीवी की एक रिपोर्ट मिली। इसमें बताया गया है कि मुनव्वर फारूकी के दोस्त पर इंदौर में कोर्ट कैंपस के अंदर हमला किया गया। रिपोर्ट के मुताबिक, युवक को मुनव्वर फारूकी समझ कर उसपर हमला किया गया। इस रिपोर्ट में युवक का नाम सदाकत बताया गया है। एनडीटीवी की इस रिपोर्ट में जिस तस्वीर का इस्तेमाल हुआ है, उसे वायरल वीडियो से ही लिया गया है। रिपोर्ट में बताया गया है कि इस मामले में इंदौर के तुकोगंज थाने में मामला दर्ज किया गया है। इस रिपोर्ट को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

विश्वास न्यूज ने कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी और इंदौर से जुड़े इस मामले की विस्तार से तहकीकात की। हमें 2 जनवरी 2021 को ही नवभारत टाइम्स में प्रकाशित एक रिपोर्ट मिली, जिसमें बताया गया है कि गुजरात के कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी को देवी-देवताओं और गृह मंत्री अमित शाह पर टिप्पणी के लिए इंदौर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इस रिपोर्ट को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

इसी तरह 6 जनवरी 2021 को प्रकाशित द क्विंट की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि देवी-देवताओं के अपमान के आरोप में अरेस्ट किए गए कॉमेडियन मुनव्वर की जमानत याचिका कोर्ट ने खारिज कर दी है। इस रिपोर्ट को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

इन दोनों रिपोर्ट से यह पता चला कि कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी पर देवी-देवताओं और गृहमंत्री अमित शाह को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी का आरोप है। इसी वजह से इंदौर पुलिस द्वारा अरेस्ट किया गया है।

इस मामले में आगे की तहकीकात के लिए हमने इंदौर के तुकोगंज थाना प्रभारी कमलेश शर्मा से संपर्क किया। उन्होंने भी पुष्टि करते हुए बताया कि वायरल हो रहे वीडियो में मुनव्वर फारूकी नहीं, बल्कि सदाकत हैं।

विश्वास न्यूज ने इस वायरल वीडियो को ट्वीट करने वाले यूजर Maheboob Bagwan की प्रोफाइल को स्कैन किया। यह प्रोफाइल जून 2020 में बनाई गई है और यूजर लातूर के रहने वाले हैं। फैक्ट चेक किए जाने तक इस प्रोफाइल के 2353 फॉलोअर्स थे।

निष्कर्ष: वायरल वीडियो में जिस युवक के साथ हाथापाई की जा रही है वह कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी नहीं, बल्कि उनके साथी सदाकत हैं। वायरल पोस्ट का दावा गलत है।

  • Claim Review : यह वीडियो स्टैंड-अप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी की पिटाई का है।
  • Claimed By : Maheboob Bagwan
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later