X

Fact Check: ट्रंप की अगवानी के लिए ठेले नहीं तोड़े गए, भुवनेश्वर का वीडियो अहमदाबाद के नाम पर वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: February 17, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें क्रेन की मदद से रेहड़ी-पटरी वालों के ठेले को नष्ट करते हुए देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो गुजरात का है, जहां अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आने से पहले अहमदाबाद में गरीबों के रोजगार के साधनों को तहस-नहस किया जा रहा है।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा गलत निकला। जिस वीडियो को गुजरात का बताते हुए वायरल किया जा रहा है, वह ओडिशा के भुवनेश्वर का है।

क्या है फेसबुक पोस्ट में?

फेसबुक यूजर ‘ᎠᎥᏞᎥᏢ ᏢᎪᏆᎬᏞ ᎶᎪᎳᏞᎥ’ ने वायरल वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, ”अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप की अहमदाबाद यात्रा के लिए उजाड़ा जा रहे हैं गरीबों के रोजगार के साधनों को ।
पहले ही मंदी की मार, अब क्या करेगा गरीब यार।”

वायरल पोस्ट का स्क्रीन शॉट

पड़ताल किए जाने तक इस वीडियो को करीब 4 हजार लोगों ने शेयर किया है और करीब 80,000 लोग इसे देख चुके हैं।

(फेसबुक पोस्ट का सामान्य लिंक और आर्काइव लिंक)

पड़ताल

कुछ दिनों पहले ही यह वीडियो गलत दावे के साथ वायरल हुआ था, जिसकी पड़ताल विश्वास न्यूज ने की थी। वास्तव में यह वीडियो ओडिशा के भुवनेश्वर का है, जब 20 जनवरी 2020 को भुवनेश्वर नगर निगम ने यूनिट 1 मार्केट में अतिक्रमण मुक्ति अभियान चलाते हुए फल विक्रेताओं के ठेले को जब्त करते हुए उसे क्रेन से नष्ट कर दिया था।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 24 फरवरी को अमहादाबाद आ रहे हैं, जहां उनके भव्य स्वागत की तैयारियां चल रही है।

न्यूज सर्च में हमें ANI का एक ट्वीट मिला, जिसके मुताबिक डोनाल्ड ट्रंप 24-25 फरवरी को भारत की दो दिवसीय यात्रा पर आ रहे हैं। ट्रंप की यात्रा से पहले गुजरात में झुग्गी-झोंपड़ियों के सामने दीवार खड़ी की जा रही है। रिपोर्ट के मुताबिक, अहमदाबाद नगर निगम सरदार वल्लभ भाई पटेल एयरपोर्ट से इंदिरा ब्रिज को जोड़ने वाली सड़क के किनारे झुग्गी के सामने एक दीवार का निर्माण कर रहा है।

वायरल वीडियो शेयर करने वाला फेसबुक यूजर विचारधारा विशेष से प्रेरित है, जिसे करीब पांच हजार लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आगमन से पहले गुजरात के अहमदाबाद में रेहड़ी-पटरी को नष्ट किए जाने के दावे के साथ वायरल हो रहा वीडियो फर्जी है। वायरल वीडियो ओडिशा के भुवनेश्वर का है, जिसका गुजरात से कोई लेना-देना नहीं है।

  • Claim Review : ट्रंप की आगवानी के लिए गुजरात के अहमदाबाद में रेहड़ी पटरियों को किया जा रहा नष्ट
  • Claimed By : FB User- ᎠᎥᏞᎥᏢ ᏢᎪᏆᎬᏞ ᎶᎪᎳᏞᎥ ᎥᎥ
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later