X

Fact Check: अपहरणकर्ताओं से युवती को बचाते समय जख्मी हुए सिख की तस्वीर भ्रामक दावे के साथ वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: October 20, 2020

नई दिल्ली (Vishvas News). फेसबुक, वॉट्सऐप और इंस्टाग्राम जैसे प्लेटफॉर्म पर एक तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है। तस्वीर में एक जख्मी सिख नौजवान को देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि तस्वीर में दिख रहे जख्मी सिख नौजवान ने एक युवती को बलात्कारियों से बचाया और बलात्कारियों ने सिख पर गोलियां दाग दी। इस घटना को उत्तर प्रदेश के शाहजहाँपुर का बताकर वायरल किया जा रहा है।

विश्वास टीम ने अपनी पड़ताल में वायरल पोस्ट को भ्रामक पाया। तस्वीर में दिख रहे सिख नौजवान के साथ हुई यह घटना एक साल पुरानी है और पंजाब की है। इस सिख नौजवान ने एक युवती को अपहरणकर्ताओं से बचाया था। उसी दौरान यह सिख जख्मी हो गया था। तस्वीर में दिख रहे सिख आम आदमी पार्टी पंजाब के नेता चेतन सिंह हैं।

क्या हो रहा है वायरल?

इंस्टाग्राम अकाउंट “singhs_doing_things_84” ने 15 अक्टूबर को एक जख्मी सिख की तस्वीर को अपलोड किया, जिसके साथ दावा किया गया कि तस्वीर में दिख रहे जख्मी सिख नौजवान ने एक युवती को बलात्कारियों से बचाया और बलात्कारियों ने सिख पर गोलियां दाग दी। इस घटना को उत्तर प्रदेश का बताकर वायरल किया जा रहा है।

इस पोस्ट का इंस्टाग्राम और आर्काइव्ड लिंक यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

पड़ताल की शुरुआत करते हुए हमने गूगल रिवर्स इमेज की मदद से इस तस्वीर के बारे में खोजना शुरू किया। रिवर्स इमेज और कीवर्ड सर्च के सहारे हम आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह के एक ट्वीट पर जा पहुंचे, जिसे 14 मार्च 2019 को अपलोड किया गया था। इस ट्वीट में वायरल तस्वीर में दिख रहे सिख नौजवान को देखा जा सकता है। इस तस्वीर को अपलोड करते हुए लिखा गया: “गुंडों से एक महिला की सुरक्षा करते वक़्त @AAPPunjab पटियाला देहाती के जिला अध्यक्ष चेतन सिंह को सरेआम गोली मार दी गयी,मैं उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हु और पंजाब के मुख्यमंत्री @capt_amarinder जी से इस मामले में जल्द से जल्द दोषियों पर कार्यवाही की मांग करता हु।

इस ट्वीट के अनुसार तस्वीर में दिख रहे शख्स आम आदमी पार्टी पंजाब के पटियाला देहाती के जिला अध्यक्ष चेतन सिंह हैं। इस ट्वीट को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी रीट्वीट किया था, जिसे यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

अब हमने इस मामले से जुडी खबरों को ढूंढना शुरू किया। हमें इस मामले से जुडी कई खबरें मिली, जिनसे यह साफ़ हुआ कि घटना पुरानी है।तस्वीर में दिख रहे शख्स आम आदमी पार्टी पंजाब के पटियाला देहाती के जिला अध्यक्ष चेतन सिंह हैं, जिन्होंने एक युवती को अपहरणकर्ताओं से बचाया था। The Tribune और दैनिक भास्कर की इस मामले को लेकर खबर क्लिक कर पढ़ी जा सकती हैं।

अब हमने पड़ताल के अगले चरण में चेतन सिंह से सम्पर्क किया। चेतन सिंह ने हमारे साथ इस पूरे मामले को साझा करते हुए कहा, “यह घटना 14 मार्च 2019 की है जब में तरनतारन गुरुद्वारे जा रहा था। पट्टी चौक के नज़दीक मेरे सामने से एक वेरना गाड़ी निकली, जिसमें 4 लोग बैठे थे। वो लोग चौक के नज़दीक एक लड़की के पास जा पहुंचे और उसे गाड़ी में खींच लिया। वहां लोग सिर्फ तमाशा देख रहे थे इसलिए मैं सीधा उस गाड़ी में गया और उन लड़कों से लड़की को छोड़ने के लिए कहा। उनके न मानने पर मैंने लड़की को गाड़ी से बाहर निकाल लिया। गुस्से में आये युवकों ने मुझपर गोलियों से हमला कर दिया। एक गोली मेरी गर्दन और एक मेरे कंधे पर लगी थी।

वायरल दावे को उत्तर प्रदेश के शाहजहाँपुर का बताकर वायरल किया जा रहा है। इस दावे का खंडन शाहजहाँपुर पुलिस के ट्विटर हैंडल पर भी देखने को मिलता है। इस दावे को लेकर शाहजहाँपुर पुलिस के ट्वीट को नीचे देखा जा सकता है।

यह साफ़ हो गया कि वायरल पोस्ट लोगों को गुमराह कर रहा है। इसलिए अब बारी थी इस पोस्ट को शेयर करने वाले इंस्टाग्राम अकाउंट singhs_doing_things_84 की सोशल स्कैनिंग करने की। इस अकाउंट को 1,971 लोग फॉलो करते हैं और यह अकाउंट एक विशेष विचारधारा से प्रेरित है।

निष्कर्ष: विश्वास टीम की पड़ताल में वायरल पोस्ट भ्रामक निकला। तस्वीर में दिख रहे सिख नौजवान के साथ हुई यह घटना एक साल पुरानी है और पंजाब की है। इस सिख नौजवान ने एक युवती को अपहरणकर्ताओं से बचाया था। उसी दौरान यह सिख जख्मी हो गया था। इस मामले का यूपी से कोई लेना-देना नहीं है।

  • Claim Review : तस्वीर में एक जख्मी सिख नौजवान को देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि तस्वीर में दिख रहे जख्मी सिख नौजवान ने एक युवती को बलात्कारियों से बचाया और बलात्कारियों ने सिख पर गोलियां दाग दी। इस घटना को उत्तर प्रदेश का बताकर वायरल किया जा रहा है।
  • Claimed By : IG Account- singhs_doing_things_84
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later