X

Fact Check : पीएम मोदी-मुरली मनोहर जोशी की मुलाकात की एक साल पुरानी तस्‍वीर फर्जी दावे के साथ वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: June 4, 2020

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के वरिष्‍ठ नेता मुरली मनोहर जोशी की एक साल पुरानी तस्‍वीर झूठे दावे के साथ वायरल हो रही है। तस्‍वीर में मुरली मनोहर जोशी को पीएम मोदी को मिठाई खिलाते हुए देखा जा सकता है। यूजर्स दावा कर रहे हैं कि अयोध्‍या में राम मंदिर निर्माण की पहली ईंट रखे जाने की खुशी में मुरली मनोहर जोशी ने पीएम मोदी को मिठाई खिलाई।

विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में वायरल पोस्‍ट झूठी निकली। 2019 में लोकसभा चुनाव में जीत के बाद पीएम मोदी भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी से मिलने उनके घर गए थे। तस्‍वीर उसी वक्‍त की है। इसे अब फर्जी दावों के साथ वायरल किया जा रहा है।

क्‍या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर राजू कुमार शर्मा ने ‘भगवा मेरी जान’ नाम के एक फेसबुक पेज पर 28 मई को फर्जी पोस्‍ट को अपलोड करते हुए लिखा : ‘आप सभी मित्रो को राम मंदिर के निर्माण में। कितने हिन्दू भाई लोग है जो जय श्री राम लिखेंगे।’

पोस्‍ट में एक तस्‍वीर थी। इसमें भाजपा के वरिष्‍ठ नेता मुरली मनोहर जोशी को पीएम नरेंद्र मोदी को मिठाई खिलाते हुए देखा जा सकता है। तस्‍वीर के साथ लिखा है : ‘राम मंदिर निर्माण की प्रथम ईट रखे जाने पर मुरली जी जोशी हिन्‍दू हदय सम्राट मोदीजी को मुंह मीठा करवाते हुए। वाह रे हिन्‍दू राजा नरेंद्र मोदी! 450 साल का कलंक सिर्फ 6 साल में ही मिटा दिया। सच्‍चा सनातन संस्‍कति का मूर्तिपूजक हिन्‍दू आपको साधुवाद देता है।’

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट की सच्‍चाई जानने के लिए सबसे पहले वायरल हो रही पीएम मोदी और मुरली मनोहर जोशी की तस्‍वीर को गूगल रिवर्स इमेज में सर्च किया। यह खबर हमें कई वेबसाइट पर मिली। बिजनेस स्टैंडर्ड की वेबसाइट पर 24 मई 2019 को पब्लिश एक खबर में बताया गया कि चुनाव में जीत के बाद पीएम मोदी ने मुरली मनोहर जोशी से मुलाकात करके उनका आशीवार्द लिया। तस्‍वीर उसी दौरान की है। यह तस्‍वीर पीटीआई के फोटोग्राफर ने क्लिक की थी। ओरिजनल तस्‍वीर में पीएम मोदी, मुरली मनोहर जोशी के अलावा अमित शाह को भी देखा जा सकता है।

तस्‍वीर की सच्‍चाई जानने के बाद हमें यह जानना था कि क्‍या मुरली मनोहर जोशी और पीएम मोदी की लॉकडाउन में कोई मुलाकात हुई है? इसके लिए विश्‍वास न्‍यूज ने मुरली मनोहर जोशी के निजी सचिव राजीव बेरवाल से संपर्क किया। उन्‍होंने हमें बताया कि वायरल हो रही तस्‍वीर उस वक्‍त की है, जब पीएम मोदी चुनाव में जीत के बाद मुरली मनोहर जोशी के घर आए थे। यह करीब एक साल पुरानी बात है।

पड़ताल के अगले चरण में हमने फर्जी पोस्‍ट करने वाले यूजर की जांच की। हमें पता चला कि राजू कुमार शर्मा रायबरेली के रहने वाले हैं। इन्‍होंने अपना फेसबुक अकाउंट अगस्‍त 2015 को बनाया था।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की जांच में पता चला कि पीएम मोदी को मिठाई खिलाने की मुरली मनोहर जोशी की यह तस्‍वीर एक साल पुरानी है। लोकसभा चुनाव में जीत के बाद पीएम मोदी मुरली मनोहर जोशी के घर गए थे। उसी दौरान की तस्‍वीर को अब फर्जी दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

  • Claim Review : दावा किया जा रहा है कि राम मंदिर के निर्माण की खुशी में मुरली मनोहर जोशी ने पीएम मोदी को मिठाई खिलाई।
  • Claimed By : फेसबुक यूजर राजू कुमार शर्मा
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later