Fact Check: लखनऊ के ब्रिज में हुए गढ्ढे को दिल्ली का बता कर किया जा रहा है वायरल

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)।सोशल मीडिया पर आजकल एक पोस्ट वायरल हो रहा है, जिसमें एक ब्रिज पर हुए गढ्ढे की तस्वीर देखी जा सकती है। पोस्ट में क्लेम किया जा रहा है कि ये तस्वीर दिल्ली की है। हमने पड़ताल की तो पाया कि ये दावा गलत है। असल में ये तस्वीर 2016 लखनऊ की है, जब गोमतीनगर पर बने लोहिया पुल का एक हिस्सा ढह गया था।

CLAIM

वायरल पोस्ट में एक ब्रिज पर हुए गढ्ढे की तस्वीर देखी जा सकती है। पोस्ट में क्लेम किया जा रहा है : “दिल्ली का पुल जो 450 करोड़ का बनना था और केजरीवाल ने 250 करोड़ में बनाया। और 250 करोङ भी बेकार हो गऐ ।😡😡😡😡”

Fact Check

पोस्ट की पड़ताल शुरू करने के लिए हमने इस तस्वीर का स्क्रीनशॉट लेके उसे गूगल रिवर्स इमेज पर सर्च किया। ये तस्वीर हमें कई न्यूज़ वेबसाइट्स पर मिली। सभी के मुताबिक, पांच जुलाई 2016 को लखनऊ में गोमती नदी पर बने लोहिया पथ के पुल के बीच में सड़क धंस गई थी और ये तस्वीर वहीं की है। हमें जागरण की सहयोगी वेबसाइट I-next पर भी ये खबर मिली।

इस विषय में ज़्यादा पुष्टि के लिए जागरण के संवाददाता अजय श्रीवास्तव ने लखनऊ के तत्कालीन जिलाधिकारी और वर्तमान में यूपी रोडवेज एमडी राजशेखर से बात की जिन्होंने बताया कि ये हादसा लखनऊ में ही 2016 में हुआ था। वे मौके के निरीक्षण पर भी गए थे। गोमतीनगर रिवर फ्रंट परियोजना का काम देख रहे सिंचाई विभाग के ठेकेदार की गलत खुदाई के चलते हादसा हुआ था।

इस पोस्ट को Vikas Bhatia नाम के फेसबुक यूजर ने शेयर किया था।

निष्कर्ष: हमने पड़ताल की तो पाया कि ये दावा गलत है। असल में ये तस्वीर 2016 लखनऊ की है, जब गोमतीनगर में बने लोहिया पुल का एक हिस्सा ढह गया था

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later