X

Fact Check: सपा प्रत्याशियों को कमजोर बताकर बसपा उम्मीदवार को हराने का आदेश देने वाला सपा का फर्जी लेटरपैड वायरल

छठे और सातवें चरण में सपा प्रत्याशी को कमजोर बताकर बसपा को हराने के लिए भाजपा या अन्य दलों को वोट करने का आदेश देने वाला सपा लेटरपैड फर्जी है। इस मामले में सपा ने चुनाव आयोग और पुलिस को शिकायत दी है।

  • By Vishvas News
  • Updated: March 4, 2022
samajwadi party fake letterhead, Assembly Elections 2022, Poll 2022, Vidhan Sabha Chunav 2022, UP Assembly Election 2022, UP Elections 2022, samajwadi party news, bjp, bsp, fact check,

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 अब अपने अंतिम दौर में है। 3 मार्च को हुए मतदान से पहले सोशल मीडिया पर सपा का एक कथित लेटरपैड वायरल हुआ। इसके ऊपर समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल का नाम लिखा है। लेटरपैड पर तारीख 27 फरवरी 2022 दी गई है। इसमें लिखा है,
समाजवादी पार्टी द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति
विषय: समाजवादी पार्टी द्वारा उत्तर प्रदेश में 3 मार्च, 7 मार्च को होने वाले छठे और सातवें चरण के संबंध में
सभी विधानसभाओं में जहां—जहां समाजवादी के प्रत्याशी कमजोर स्थिति में हैं वहां के सभी उम्मीदवार बसपा के मजबूत उम्मीदवारों को हराने के लिए अपना संपूर्ण वोटों का ट्रांसफर भाजपा या अन्य दलों को करने का कष्ट करें। क्योंकि बसपा को हराना है धन्यवाद।
नीचे नरेश उत्तम पटेल के नाम से हस्ताक्षर किए गए हैं।

विश्ववास न्यूज ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल हो रहा लेटरपैड फर्जी है। खुद सपा ने इसे फर्जी बताया है।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक पेज ‘एहतिशाम अनवार ए आई एम आई एम’ पर 28 फरवरी को इस लेटरपैड को पोस्ट करते हुए लिखा गया,
कौन है बीजेपी का एजेंट देख लो और अब भी वक़्त है अपना वोट मजलिस को दो बीजेपी हराने के लिए वोट देना बंद करो।

वॉट्सऐप पर भी हमें यह पोस्ट प्राप्त हुई। विश्वास न्यूज के चैटबॉट नंबर +91 95992 99372 पर भी यह पोस्ट चेक करने के लिए भेजी गई।

पड़ताल

वायरल लेटरपैड की पड़ताल के लिए हमने सबसे पहले कीवर्ड से इसे सर्च किया। इसमें हमें 28 फरवरी को uptak पर इससे संबंधित एक खबर मिली। इसके मुताबिक, इस तरह के लेटरपैड को समाजवादी पार्टी ने फर्जी बताया है। इसको लेकर पार्टी की तरफ से चुनाव आयोग में शिकायत भी की गई है।

सपा के ट्विटर हैंडल से इस लेटर को फेक बताते हुए 28 फरवरी को एक ट्वीट भी किया गया है। इसमें उन्होंने चुनाव आयोग को शिकायत करने के साथ ही लखनऊ के गौतमपल्ली थाने में भी शिकायत की जानकारी दी है।

इस बारे में हमने सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजीव राय से संपर्क साधा। उन्होंने भी इस लेटरपैड को फर्जी बताया।

jagran के मुताबिक, यूपी विधानसभा 2022 के छठे चरण का मतदान 3 मार्च को हुआ। इसके बाद अंतिम यानी सातवें चरण का मतदान 7 मार्च को होगा।

इसी तरह हाल ही में बसपा के फर्जी लेटरपैड के वायरल होने का मामला सामने आया था। इसकी पूरी रिपोर्ट को यहां पढ़ा जा सकता है।

सपा के फर्जी लेटरपैड को वायरल करने वाले फेसबुक पेज ‘एहतिशाम अनवार ए आई एम आई एम’ को हमने स्कैन किया। 16 जनवरी 2016 को बना यह पेज एक राजनीतिक दल की विचारधारा से प्रेरित है। इसे 30 हजार से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: छठे और सातवें चरण में सपा प्रत्याशी को कमजोर बताकर बसपा को हराने के लिए भाजपा या अन्य दलों को वोट करने का आदेश देने वाला सपा लेटरपैड फर्जी है। इस मामले में सपा ने चुनाव आयोग और पुलिस को शिकायत दी है।

  • Claim Review : सपा ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा— छठे व सातवें चरण के मतदान में जहां सपा प्रत्याशी कमजोर हैं, वहां बसपा को हराने के लिए भाजपा या अन्य दलों को वोट दें
  • Claimed By : FB Page- एहतिशाम अनवार ए आई एम आई एम
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later