Fact Check: समाजवादी पार्टी में शामिल नहीं हुए शिवपाल यादव, पुरानी तस्वीर हो रही वायरल

0

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) की भारी हार के बाद सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि अपनी अलग राह बना चुके शिवपाल सिंह यादव फिर से सपा में शामिल हो चुके हैं। विश्वास न्यूज की पड़ताल में यह दावा गलत साबित होता है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक पर ”अखिलेशियां अनामिका यादव” के प्रोफाइल से अखिलेश यादव और शिवपाल यादव की तस्वीर को साझा करते हुए लिखा गया है, ‘चाचा शिवपाल सिंह यादव हुए सपा में शामिल। जय अखिलेश।’

पड़ताल किए जाने तक इस पोस्ट को 48 बार शेयर किया जा चुका है, जबकि 1200 से अधिक लाइक्स मिले हैं।

पड़ताल

सोशल मीडिया स्कैन में हमें पता चला कि फेसबुक और ट्विटर पर ऐसे कई पोस्ट अलग-अलग तस्वीरों के साथ वायरल हो रहे हैं, जिसमें दावा किया गया है कि शिवपाल यादव, सपा में शामिल हो चुके हैं।

सभी वायरल पोस्ट में किया जा रहा दावा अखिलेश यादव और शिवपाल यादव की तस्वीर के साथ है, इसलिए पहले हमने तस्वीर की सत्यता को जांचने का फैसला लिया।

गूगल रिवर्स इमेज की मदद से हमें पता चला कि जिस तस्वीर के हवाले से शिवपाल यादव के समाजवादी पार्टी में शामिल होने का दावा किया जा रहा है, वह करीब सवा साल पुरानी तस्वीरें हैं, जब राज्यसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश में सभी दलों की तरफ से ‘’डिनर डिप्लोमेसी’’ का आयोजन किया जा रहा था।

समाजवादी पार्टी ने भी 21 मार्च 2018 को ऐसी ही पार्टी का आयोजन किया था, जिसमें अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी के विधायकों के साथ होटल ताज में मुलाकात की थी। इसी मुलाकात में शिवपाल यादव भी पहुंचे थे।

21 मई 2018 को दिल्ली के होटल ताज में ”डिनर डिप्लोमेसी” के दौरान अखिलेश यादव के साथ शिवपाल सिंह यादव (Image-AajTak)

राज्यसभा चुनाव से पहले विधायकों की संख्या को सुनिश्चित करने के लिए समाजवादी पार्टी ने इस कार्यक्रम का आयोजन किया था। दिल्ली के होटल ताज में हुई अखिलेश की इस डिनर पार्टी में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी, तत्कालीन सांसद धर्मेंद्र यादव, विधानपरिषद में विपक्षी दल के नेता अहमद हसन, जया बच्चन समेत कई वरिष्ठ नेता शामिल हुए थे। हिंदी न्यूज चैनल आज तक की खबर में इन तस्वीरों को देखा जा सकता है।

एक अन्य हिंदी चैनल इंडिया टीवी के आधिकारिक यू-ट्यूब चैनल पर 21 मार्च 2018 को अपलोड हुए वीडियो से इसकी पुष्टि होती है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में 10 राज्यसभा सीटों के लिए 23 मार्च को मतदान होना था, जिसकी वजह से सभी दल अपने प्रत्याशियों के पक्ष में समर्थन जुटाने के लिए रणनीतियां बनाने में जुटे हुए थे, जिसके लिए बैठकों से लेकर डिनर डिप्लोमेसी तक का आयोजन किया गया था।

यानी जिस तस्वीर का हवाला देते हुए शिवपाल सिंह यादव के समाजवादी पार्टी में शामिल होने का भ्रम फैलाया जा रहा है, वह 2018 के राज्यसभा चुनाव के दौरान हुए बैठकों की हैं।

इसके बाद हमने दावे की सत्यता को परखने के लिए गूगल न्यूज सर्च का सहारा लिया।

गूगल न्यूज सर्च में हमें सभी खबरें लोकसभा चुनाव के पहले की मिली, जो शिवपाल यादव के कांग्रेस से गठबंधन के प्रस्ताव को लेकर थी। समाजवादी पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर भी ऐसी कोई सूचना नहीं दी गई है, नहीं पार्टी की तरफ से इसे लेकर कोई प्रेस विज्ञप्ति जारी की गई है।

इसके बाद हमने समाजवादी पार्टी के एक वरिष्ठ नेता से बात की। विश्वास न्यूज से हुई बातचीत में उन्होंने बताया, ‘यह महज अफवाह है। शिवपाल यादव फिलहाल समाजवादी पार्टी में शामिल नहीं हुए हैं।’

उन्होंने कहा, ‘मुलायम सिंह यादव की बैठक की खबरों को मीडिया ऐसे प्रस्तुत कर रहा है, जैसे समाजवादी पार्टी में वही निर्णय ले रहे हैं, जबकि ऐसा नहीं है। रही बात शिवपाल सिंह यादव की वापसी की, तो पार्टी नेतृत्व में दोफाड़ की स्थिति बनने जैसी होगी, क्योंकि अखिलेश यादव और शिवपाल यादव के बीच की लड़ाई नेतृत्व को लेकर ही थी।’

आधिकारिक बयान के लिए जब विश्वास न्यूज ने पार्टी प्रवक्ता घनश्याम तिवारी से संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि फिलहाल इस मामले में पार्टी की तरफ से बोलने का अधिकार राजेंद्र चौधरी के पास है। जब हमने राजेंद्र चौधरी से इस बारे में पूछा, तो उन्होंने कहा, ‘इस बारे में फिलहाल हमारे पास कोई ऐसी जानकारी नहीं है।’

गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी से अलग होने के बाद शिवपाल यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी बनाते हुए उत्तर प्रदेश की करीब 30 से अधिक सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे। हालांकि, लोकसभा चुनाव 2019 में उनकी पार्टी का एक भी उम्मीदवार जीत नहीं पाया।

निष्कर्ष: शिवपाल सिंह यादव के समाजवादी पार्टी में शामिल होने का दावा गलत है। जिस तस्वीर के जरिए शिवपाल के सपा में शामिल होने का दावा किया जा रहा है, वह पिछले साल के दौरान हुए राज्यसभा चुनाव की है।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews।com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

Written BY Abhishek Parashar
  • Claim Review : समाजवादी पार्टी में शामिल हुए शिवपाल सिंह यादव
  • Claimed By : FB User-अखिलेशियां अनामिका यादव
  • Fact Check : False

टैग्स

कोई जवाब दें

संबंधित लेख