X

Quick Fact Check : सोनिया गांधी की तस्‍वीर को एडिट करके फिर से झूठे दावे के साथ किया गया वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: November 7, 2020

नई दिल्‍ली (Vishvas News)। सोशल मीडिया में एक बार फिर से कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी की एक एडिटेड तस्‍वीर वायरल हो रही है। तस्‍वीर में कथित रुप से सोनिया गांधी को एक अधेड़ पुरुष की गोद में बैठा हुआ दिखाया गया है। विश्‍वास न्‍यूज ने पहले भी एक बार वायरल तस्‍वीर की पड़ताल की थी। हमें पता चला कि सोनिया गांधी की ओरिजनल तस्‍वीर को एडिट करके फर्जी दावों के साथ वायरल किया गया।

क्‍या हो रहा है वायरल

सोनिया गांधी की फेक तस्‍वीर कई सोशल मीडिया प्‍लेटफार्म पर वायरल हो रही है। फेसबुक, ट्विटर और वॉट्सऐप पर यूजर तस्‍वीर को अलग-अलग दावों के साथ वायरल कर रहे हैं। ट्विटर हैंडल अंकिता सिंह (@indiaAnkita) ने फर्जी तस्‍वीर को अपलोड करते हुए लिखा : ‘This is leader of Sonia Sena who can do anything for money. Most corrupt party who is behind this..#BlackDay4Press’

वायरल पोस्‍ट का आर्काइव्‍ड वर्जन यहां देख सकते हैं।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने पहले भी तस्‍वीर की जांच की थी। गूगल रिवर्स इमेज टूल की मदद से हमें ओरिजनल तस्‍वीर मिली। इसमें सोनिया गांधी और तस्‍वीर में दिख रहे पुरुष को दो अलग-अलग कुर्सी पर बैठा हुआ देखा जा सकता है।

पड़ताल से हमें पता चला कि तस्‍वीर 29 मार्च 2005 की है। उस वक्‍त मालदीव के तत्कालीन राष्ट्रपति अब्दुल गयूम भारत दौरे पर नई दिल्‍ली पहुंचे थे। वहां उन्‍होंने सोनिया गांधी से भी मुलाकात की थी। मुलाकात की ओरिजनल तस्वीर न्यूज एजेंसी एएफपी के फोटोग्राफर प्रकाश सिंह ने क्लिक की थी।

ओरिजनल तस्‍वीर से छेड़छाड़ करके वायरल करने पर कांग्रेस प्रवक्‍ता अखिलेश प्रताप सिंह ने कहा कि ऐसी हरकतें ट्रोल ऑर्मी के लोग ही करते हैं। इन्‍हें पूरे गांधी परिवार से डर लगता है।

पड़ताल को विस्‍तार से आप यहां पढ़ सकते हैं।

पड़ताल के अंत में हमने फर्जी तस्‍वीर को वायरल करने वाले यूजर की जांच की। हमें पता चला कि अंकिता सिंह नाम का यह ट्विटर हैंडल मई 2020 को बनाया गया है। इसे 14 हजार से ज्‍यादा लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में सोनिया गांधी की वायरल तस्‍वीर फेक साबित हुई। ओरिजनल तस्‍वीर से छेड़छाड़ करके यह तस्‍वीर बनाई गई है।

  • Claim Review : सोनिया गांधी की तस्‍वीर
  • Claimed By : यूजर अंकित सिंह
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later