X

Fact Check: फलस्तीन मामले पर OIC की इमरजेंसी मीटिंग के नाम पर वायरल की जा रही तस्वीर 2016 की है

  • By Vishvas News
  • Updated: May 12, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज़) पिछले दिनों यरुशलम में मौजूद अल-अक्सा मस्जिद पर हुए हमले के बाद सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें सऊदी के शेख सलमान और तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन समेत कुछ लीडरों को देखा जा सकता है। तस्वीर को शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि फलस्तीन मस्जिद अल अक्सा में मुसलमानों पर हमले को लेकर तुर्की के बाद अब OIC ने भी प्रतिक्रिया ज़ाहिर की है और कल 11.05.2021 को इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है। विश्वास न्यूज़ ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल तस्वीर 2016 की OIC मीटिंग की है। 11 मई को फलस्तीन हमले पर हुई इस्लामी सहयोग संघठन की इमरजेंसी मीटिंग वर्चुअल थी, जहां इज़रायली हमले की निंदा की गयी।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक यूजर जुनैद आलम ने ‘मौलाना साद साहब के चाहने वालों का ग्रूप’ नाम के पेज पर वायरल तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा, ‘फिलिस्तीन मस्जिद अल अक्सा में मुसलमानों पर हमले को लेकर तुर्की के बाद अब OIC ने भी प्रतिक्रिया ज़ाहिर की है, और कल 11.05.2021 को इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है!FreePalestine #OICC’

पोस्ट के आर्काइव वर्जन को यहा देखें।

पड़ताल

अपनी पड़ताल को शुरू करते हुए सबसे पहले हमने गूगल रिवर्स इमेज के ज़रिये वायरल तस्वीर को सर्च किया। सर्च में गेट्टी इमेजेज़ पर वायरल तस्वीर के ही दुसरे फ्रेम की तस्वीर मिली। तस्वीर के साथ दी गई जानकारी के मुताबिक,’ कुवैत के अमीर शेख सबा अल-अहमद अल-जबर अल-सबा, सऊदी अरब के किंग सलमान बिन अब्दुल अजीज अल सऊद, तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन, ब्रुनेई के सुल्तान हसनल बोल्कैया और कजाकिस्तान के राष्ट्रपति नूरसुल्तान नजरबयेव की एक फैमिली फोटो। इस्तांबुल कांग्रेस केंद्र (ICC) में 14 अप्रैल, 2016 को इस्लामिक सहयोग संगठन (OIC) का 13 वाँ संगठन। तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने गुरुवार को इस्तांबुल में इस्लामिक देशों के 30 से अधिक राष्ट्राध्यक्षों और सरकार के प्रमुखों को मुस्लिम जगत में मतभेदों को दूर करने के उद्देश्य से आयोजित किया। वहीँ, फोटो क्रेडिट में एएफपी/ ओजन कोसे लिखा हुआ नज़र आया।

पोस्ट से जुडी पुष्टि के लिए हमने तस्वीर को खींचने वाले फोटोग्राफर ओजन कोसे से सम्पर्क किया उन्होंने हमें बताया कि यह तस्वीर अभी की नहीं है, बल्कि कुछ साल पहले उन्होंने ही खींची थी।

ओआईसी के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर 10 को दी गयी जानकारी के मुताबिक, ‘इस्लामिक सहयोग संगठन (OIC), #Palestine के राज्य के अनुरोध पर, 11 मई 2021 को अल-कुद्स में बढ़ती #Israeli आक्रामकता पर चर्चा करने के लिए स्थायी प्रतिनिधियों की एक आपात बैठक बुलाएगा।’

ओआईसी की ऑफिशियल वेबसाइट पर इमरजेंसी मीटिंग से जुडी मालुमात मिली। मंगल के दिन हुई ओआईसी की वर्चुअल मीटिंग में फलस्तीन पर इजरायल के हमले की निंदा की गयी। इस वर्चुअल मीटिंग से जुडी खबर कुवैत न्यूज़ एजेंसी और न्यूज़18 की वेबसाइट पर भी पढ़ सकते हैं।

भ्रामक पोस्ट को शेयर करने वाले फेसबुक यूजर जुनैद आलम की सोशल स्कैनिंग में हमने पाया कि यूजर सहारनपुर का रहने वाला है और इसे 13,029 लोग फॉलो करते हैं।

  • Claim Review : फिलिस्तीन मस्जिद अल अक्सा में मुसलमानों पर हमले को लेकर तुर्की के बाद अब OIC ने भी प्रतिक्रिया ज़ाहिर की है, और कल 11.05.2021 को इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है!
  • Claimed By : Junaid Aalam‎
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later