X

Fact Check: प्रियंका और राहुल गांधी की हंसते हुए ये तस्वीर 2019 की है, हाल की नहीं

  • By Vishvas News
  • Updated: October 7, 2020

नई दिल्ली विश्वास न्यूज। यूपी के हाथरस में हुई वारदात के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी और उनकी बहन प्रियंका गांधी की हंसते हुए एक तस्वीर सोशल मीडिया पर इस दावे के साथ वायरल हो रही है कि यह तस्वीर तब की है, जब वे हाथरस पीड़ित के परिवार से मिलने जा रहे थे। सच्चाई यह है कि यह तस्वीर 2019 में कानपुर एयरपोर्ट पर ली गई थी।

क्या हो रहा है वायरल

वायरल तस्वीर में प्रियंका गांधी और राहुल गांधी ने एक-दूसरे के गले में हाथ डाला हुआ है और दोनों हंस रहे हैं। पोस्ट के साथ दावा किया जा रहा है हाथरस जाते विपक्ष के नेता, अत्यधिक दुःख चेहरे पर साफ़ दिखाई दे रहा हैं Neutral face #ड्रामेबाज_भाईबहन”

इस पोस्ट का आर्काइव लिंक यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

इस फोटो की पड़ताल करने के लिए हमने इस तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज पर सर्च किया। सर्च के दौरान हमें वायरल तस्वीर 27 अप्रैल, 2019 को NDTV पर पब्लिश्ड एक खबर में मिली। खबर के अनुसार, यह तस्वीर कानपुर हवाई अड्डे की है, जब राहुल गांधी अपनी बहन प्रियंका के साथ वहां पहुंचे थे।

हमें टाइम्स ऑफ़ इंडिया के यूट्यूब चैनल पर 27 अप्रैल, 2020 को अपलोडेड एक वीडियो में भी वायरल तस्वीर की झलकियां मिलीं।

इस विषय में हमने कांग्रेस मीडिया इंचार्ज प्रणव झा से बात की। उन्होंने कहा, “यह तस्वीर 2019 लोकसभा चुनाव के दिनों की है। ये दोनों एक हेलिकॉप्टर लेने वाले थे और राहुल गांधी प्रियंका गांधी को एक बड़ा हेलिकॉप्टर लेने के लिए कह कर मज़ाक कर रहे थे।” कांग्रेस प्रवक्ता संजीव सिंह ने भी कन्फर्म किया कि तस्वीर पुरानी है।

इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर कई लोग गलत दावे के साथ शेयर कर रहे हैं। इन्हीं में से एक है अणिमा सोनकर @AnimaSonkar नाम का एक ट्विटर हैंडल। इस हैंडल के 19.7K फ़ॉलोअर्स हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ ने अपनी पड़ताल में पाया कि यह दावा सही नहीं है। यह तस्वीर हालिया नहीं है। वायरल तस्वीर 2019 में खींची गयी थीं।

  • Claim Review : हाथरस जाते विपक्ष के नेता, अत्यधिक दुःख चेहरे पर साफ़ दिखाई दे रहा हैं
  • Claimed By : अणिमा सोनकर @AnimaSonkar
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later