X

Fact Check: भगवंत मान की प्रेस कॉन्फ्रेंस में आम आदमी पार्टी के विरोध का यह वीडियो पुराना है

विश्वास न्यूज़ की पड़ताल में सीएम भगवंत मान की प्रेस कॉन्फ्रेंस में राघव चड्ढा और आम आदमी पार्टी के खिलाफ नारेबाजी का यह वीडियो भ्रामक निकला। वायरल वीडियो भगवंत मान के सीएम बनने से पहले का है और वीडियो में विरोध करते दिख रहे ये सभी पत्रकार हैं।

  • By Vishvas News
  • Updated: June 29, 2022

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया में सीएम भगवंत मान से जुड़ा एक वीडियो तेज़ी से वायरल हो रहा है। 19 सेकंड के इस वीडियो में लोगों को आम आदमी पार्टी, आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य राघव चड्ढा और सीएम अरविंद केजरीवाल के खिलाफ नारेबाजी करते हुए देखा जा सकता है। वीडियो को शेयर कर दावा किया जा रहा है की विरोध का ये वीडियो हालिया है। विश्वास न्यूज़ ने पड़ताल में पाया कि राघव चड्ढा और आप पार्टी के विरोध का ये वीडियो पुराना है। वीडियो भगवंत मान के सीएम बनने से पहले का है और विरोध कर रहे ये सभी पत्रकार हैं।

क्या है वायरल पोस्ट में?

फेसबुक पेज ” फैन नवजोत कौर लम्बी के ” ने 24 जून को वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है ,” चंगी इज्जत कमा ली लगता है ३ महीनों में , नागदो नगद बेइजत्ती “

फैक्ट चेक के उद्देश्य से पोस्ट में लिखी गई बातों को हूबहू लिखा गया है। इस पोस्ट के आर्काइव वर्जन को यहां देखा जा सकता है।

पड़ताल

वायरल दावे की सच्चाई जानने के लिए हमने कीवर्ड्स की मदद से गूगल पर असली वीडियो को सर्च करना शुरू किया। इस दौरान हमें वायरल वीडियो कई जगह अपलोड मिला। “Encounter News ” नाम के यूट्यूब चैनल पर इस प्रेस कॉन्फ्रेंस का का पूरा वीडियो मिला। वीडियो को 24 जनवरी 2022 को अपलोड किया गया था। असली वीडियो में वायरल वीडियो में दिख रहे सीन को शुरू में देखा जा सकता है। वीडियो में दी गई जानकारी अनुसार, पंजाब में आम आदमी पार्टी के सीएम चेहरा भगवंत मान का जमकर विरोध हुआ। भगवंत मान की प्रेस कॉन्फ्रेंस में गाली-गलोच की नौबत आ गई। इस दौरान आम आदमी पार्टी, राघव चड्ढा और अरविंद केजरीवाल के खिलाफ जमकर नारेबाजी हुई। मामला बढ़ता देख कर भगवंत मान ने माफी मांग कर अपनी जान छुड़ाई।” पूरी वीडियो को यहाँ देखें।

“webkhabristan.com “की वेबसाइट पर भी वायरल वीडियो से जुडी खबर प्रकाशित मिली। 24 जनवरी 2022 को प्रकाशित खबर में प्रेस कॉन्फ्रेंस के स्क्रीनशॉट का इस्तेमाल किया गया है। खबर अनुसार, दरअसल पिछले दिनों पंजाब में आम आदमी पार्टी के सह प्रभारी राघव चड्ढा ने पंजाब प्रेस क्लब में कांग्रेसी नेता दिनेश ढल्ल को आप में शामिल करवाया था। उस दौरान आप के नेता इकबाल सिंह ढींढसा और डाक्टर शिवदयाल माली वहीं विरोध करने पहुंचे थे, जिससे कुछ लोगों ने प्रेस क्लब में हंगामा शुरू कर दिया। यहां तक कि प्रेस क्लब की संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया। इस कृत्य से पत्रकारों में आम आदमी पार्टी के प्रति गहरा रोष था। आज जब भगवंत मान एक होटल में पत्रकार वार्ता करने पहुंचे तो पत्रकारों ने जमकर नारेबाजी की।”

पंजाब कांग्रेस के आधिकारिक फेसबुक पेज पर भी यह वीडियो 24 जनवरी 2022 को अपलोड किया गया था। वीडियो के साथ लिखा था,” जालंधर में भगवंत मान की प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकारों ने आम आदमी पार्टी के खिलाफ नारे लगाए। देश भर में पत्रकार आम आदमी पार्टी का विरोध कर रहे हैं।

यहाँ गौर करने वाली बात है ये है कि वीडियो में सीएम भगवंत मान के साथ- साथ सभी ने गर्म कपड़े पहने हुए हैं। इससे इस वीडियो के पुराने होने का साफ़ पता चलता है।

वायरल वीडियो के बारे में अधिक जानकारी के लिए हमने दैनिक जागरण के जालंधर के सीनियर चीफ रिपोर्टर मनोज त्रिपाठी के साथ संपर्क किया। वायरल पोस्ट के लिंक को उनके साथ शेयर किया। मनोज त्रिपाठी ने हमें बताया, “ये वीडियो पुराना है। उन्होंने ये भी बताया की यह जालंधर में विधानसभा चुनाव से पहले हुई भगवंत मान की प्रेस कॉन्फ्रेंस का वीडियो है। वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। वीडियो में विरोध करते दिख रहे ये सभी पत्रकार हैं।  

पड़ताल के अंत में हमने पुरानी वीडियो को अभी का बताकर शेयर करने वाले पेज की सोशल स्कैनिंग की। स्कैनिंग से पता चला कि इस पेज को 291K लोग फॉलो करते हैं और फेसबुक पर इस पेज को 10, अप्रैल 2018 को बनाया गया था।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ की पड़ताल में सीएम भगवंत मान की प्रेस कॉन्फ्रेंस में राघव चड्ढा और आम आदमी पार्टी के खिलाफ नारेबाजी का यह वीडियो भ्रामक निकला। वायरल वीडियो भगवंत मान के सीएम बनने से पहले का है और वीडियो में विरोध करते दिख रहे ये सभी पत्रकार हैं।

  • Claim Review : चंगी इज्जत कमा ली लगता है ३ महीनों में , नागदो नगद बेइजत्ती
  • Claimed By : फेसबुक पेज - फैन नवजोत कौर लम्बी के
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later