X

Fact Check : बिना मास्‍क पहनने हुए लोगों को पुलिस वैन में डालने का यह वीडियो मध्‍य प्रदेश का है

  • By Vishvas News
  • Updated: November 26, 2020

नई दिल्‍ली (Vishvas News)। सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें बिना मास्‍क पहने हुए युवकों को पुलिस वैन में डालते हुए देखा जा सकता है। यूजर्स इस वीडियो को सोशल मीडिया में वायरल करते हुए दावा कर रहे हैं कि घटना दिल्‍ली का है।

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट की जांच की। हमें पता चला कि वायरल पोस्‍ट का दावा भ्रामक है। मध्‍य प्रदेश के उज्‍जैन की घटना को अब कुछ लोग दिल्‍ली का बताकर वायरल कर रहे हैं।

क्‍या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर Karanam Vijay ने 26 नवंबर को एक वीडियो को अपलोड करते हुए दावा किया कि बिना मास्‍क के लोगों को जेल भेजने का यह वीडियो दिल्‍ली का है। यूजर ने लिखा : ‘Without mask 10 hours jail in Delhi and soon to be followed on Mumbai, Bangalore, Hyderabad and other States.’

फेसबुक पोस्‍ट का आर्काइव्‍ड वर्जन यहां देखें।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने जब वायरल वीडियो को ध्‍यान से देखा तो हमें पुलिस वैन की नंबर प्‍लेट पर MP 03 लिखा हुआ नजर आया। मतलब यह गाड़ी मध्‍य प्रदेश से जुड़ी हुई है। जांच में हमें पता चला कि मध्‍य प्रदेश पुलिस वैन की गाड़ी का आरटीओ कोर्ड MP 03 होता है।

पड़ताल के अगले चरण में हमने वायरल वीडियो को InVID टूल में अपलोड करके कई ग्रैब्‍स निकाले। इसे जब हमने रिवर्स इमेज से सर्च किया तो हमें पता चला कि घटना मध्‍य प्रदेश के उज्‍जैन की है। न्‍यूज 18 की वेबसाइट पर मौजूद खबर में बताया गया कि उज्‍जैन में मास्‍क न पहनने वालों के खिलाफ कार्रवाई का यह वीडियो है। खबर को 23 नवंबर को पब्लिश किया गया। पूरी खबर आप यहां पढ़ सकते हैं।

जांच के दौरान हमें वायरल वीडियो News18 Virals के यूटयूबब चैनल पर मिला। इसमें भी वीडियो को उज्‍जैन का ही बताया गया। पूरा वीडियो आप यहां देख सकते हैं।

पड़ताल के अगले चरण में विश्‍वास न्‍यूज ने इंदौर स्थित नईदुनिया डॉट कॉम से संपर्क किया। नईदुनिया के प्रशांत पांडेय ने बताया कि पुलिस द्वारा बिना मास्क लगाए वाहन चालकों को पकड़ने का वीडियो दिल्ली का नहीं मध्य प्रदेश के उज्जैन शहर का है। मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने के बाद उज्जैन पुलिस ने बिना मास्क के घूम रहे लोगों के खिलाफ यह अभियान चलाया था।

पड़ताल के अंत में हमने Karanam Vijay नाम के यूजर के अकाउंट की जांच की। हमें पता चला कि यूजर हैदराबाद का रहने वाला है। इसके अकाउंट पर हमें वायरल कंटेंट काफी ज्‍यादा मिला।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की जांच में दिल्‍ली के नाम पर वायरल वीडियो भ्रामक साबित हुआ। दरअसल मास्‍क पहने बिना सड़क पर घूमने वालों का पकड़ने का यह वीडियो मध्‍य प्रदेश का है, जिसे कुछ यूजर दिल्‍ली का बताकर वायरल कर रहे हैं।

  • Claim Review : दिल्‍ली का वीडियो है।
  • Claimed By : फेसबुक यूजर Karanam Vijay
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later