X

Fact Check : यूपी सीएम योगी आदित्‍यनाथ के राम मंदिर भूमि पूजन के वक्‍त के वीडियो को अब दिवाली का बताकर किया गया वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: November 20, 2020

नई दिल्‍ली (Vishvas News)। सोशल मीडिया में यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें उन्‍हें अनार जलाते हुए देखा जा सकता है। यूजर्स इस वीडियो को दिवाली का बताते हुए सोशल मीडिया में फर्जी दावों के साथ वायरल कर रहे हैं।

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट की जांच की। जांच के बाद हमें पता चला कि 4 अगस्‍त के राममंदिर भूमि पूजन की पूर्व संध्‍या के एक वीडियो को झूठे दावों के साथ वायरल किया जा रहा है।

क्‍या हो रहा है वायरल

फेसबुक यूजर ‘राहुल यादव मछली शहर’ ने 15 नवंबर को योगी आदित्‍यनाथ का 20 सेकंड का एक वीडियो अपलोड किया। इसके साथ दावा किया गया : ‘हमारे यशस्वी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी प्रदूषण मुक्त दिवाली मनाते हुए..’

फेसबुक पोस्‍ट का आकाईव्‍ड वर्जन यहां क्लिक करके देखा जा सकता है। इस वीडियो को दूसरे यूजर्स भी लगातार वायरल कर रहे हैं।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने सबसे पहले वायरल वीडियो को InVID टूल में अपलोड करके कई ग्रैब्‍स निकाले। इसके बाद इन्‍हें गूगल रिवर्स इमेज में अपलोड करके सर्च किया। सर्च के दौरान हमें यूपी सरकार के यूटयबू पर चार अगस्‍त का एक वीडियो मिला। 7:29 मिनट के वीडियो में हमें वह सीन भी नजर आया, जिसे दिवाली का बताकर वायरल किया जा रहा है। वीडियो में 5:40 मिनट पर योगी आदित्‍यनाथ को अनार जलाते हुए देखा जा सकता है। यह वीडियो राम जन्‍मभूमि पूजन की पूर्व संध्‍या का है। पूरा वीडियो आप यहां देख सकते हैं।

खोज के दौरान हमें दैनिक जागरण की वेबसाइट पर एक खबर मिली। 5 अगस्‍त 2020 को पब्लिश खबर से हमें पता चला कि पांच अगस्‍त को राम मंदिर के लिए होने वाले भूमि पूजन से पहले यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने लखनऊ के अपने सरकारी आवास पांच कालीदास मार्ग पर दीपोत्‍सव मनाया। पूरी खबर आप यहां पढ़ सकते हैं।

जांच के दौरान हमें यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार मृत्युंजय कुमार के ट्विटर हैंडल पर कुछ तस्‍वीरें मिलीं। 4 अगस्‍त 2020 के ट्वीट में बताया गया कि अयोध्‍या में राम मंदिर के भूमि पूजन की पूर्व संध्‍या पर सीएम हाउस में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया था।

पड़ताल के अगले चरण में जागरण डॉट कॉम की ही एक खबर से पता चला कि उत्तर प्रदेश में स्मॉग और वायु प्रदूषण को देखते हुए प्रदेश सरकार ने लखनऊ व वाराणसी सहित 12 जिलों में आतिशबाजी पर प्रतिबंध लगा दिया है। आदेश में कहा गया कि लखनऊ, कानपुर, मुजफ्फरनगर, आगरा, वाराणसी, मेरठ, हापुड़, गाजियाबाद, मुरादाबाद, गौतमबुद्धनगर, बागपत व बुलंदशहर में वायु प्रदूषण के खराब स्तर को देखते हुए यहां आतिशबाजी पर रोक लगाने का निर्णय लिया गया है।

यह खबर 10 नवंबर को पब्लिश की गई। इसे यहां क्लिक करके पढ़ा जा सकता है।

पड़ताल के अगले चरण में विश्‍वास न्‍यूज ने मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार मृत्युंजय कुमार से संपर्क किया। उन्‍होंने हमें बताया कि वायरल वीडियो का दिवाली से कोई संबंध नहीं है। यह राम मंदिर भूमि पूजन के वक्‍त का है।

अब बारी थी कि योगी आदित्‍यनाथ के पुराने वीडियो को दिवाली के वक्‍त फर्जी दावे के साथ वायरल करने वाले फेसबुक पेज की सोशल स्‍कैनिंग की। जांच में पता चला कि फेसबुक पेज ‘राहुल यादव मछली शहर’ को 1800 से ज्‍यादा लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की जांच में योगी आदित्‍यनाथ के दिवाली मनाने का दावा करने वाली पोस्‍ट फर्जी साबित हुई। राममंदिर भूमि पूजन के पुराने वीडियो को कुछ लोग दिवाली का बताकर वायरल कर रहे हैं। वीडियो 4 अगस्‍त 2020 का है। उस वक्‍त यूपी में आतिशबाजी पर प्रतिबंध नहीं था।

  • Claim Review : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी प्रदूषण मुक्त दिवाली मनाते हुए..
  • Claimed By : फेसबुक यूजर 'राहुल यादव मछली शहर'
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later