X

Fact Check: यह वीडियो तालिबान के कब्जे के बाद अशरफ गनी के अफगानिस्तान छोड़कर जाने का नहीं, बल्कि उनकी पुरानी विदेश यात्रा का है

अशरफ गनी के अफगानिस्तान छोड़कर जाने के दावे के साथ वायरल वीडियो उज्बेकिस्तान की उनकी आधिकारिक यात्रा से संबंधित है।

  • By Vishvas News
  • Updated: August 18, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद राष्ट्रपति अशरफ गनी के देश छोड़कर जाने के प्रकरण से जोड़कर वायरल किए जा रहे एक वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है कि तालिबानी कब्जे के बाद यह उनके काबुल से निकलने से संबंधित है।

विश्वास न्यूज की जांच में यह दावा गलत निकला। तालिबान के कब्जे के बाद अशरफ गनी अफगानिस्तान छोड़कर जा चुके हैं, लेकिन वायरल हो रहा वीडियो इस घटनाक्रम से संबंधित नहीं है, बल्कि उज्बेकिस्तान की उनकी पुरानी आधिकारिक यात्रा से संबंधित है, जिसे गलत दावे के साथ सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

ट्विटर यूजर ‘Conflict News’ ने वायरल वीडियो (आर्काइव लिंक) को शेयर करते हुए लिखा है, ”#BreakingNews President Ashraf Ghani leaving Afghanistan in a hurry to Tajikistan following the Taliban surrounding Kabul. #Afghanistan #Kabul #Taliban”

फेसबुक यूजर ‘Sherry Stacy’ ने वायरल वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है, ”Afghanistan President Ashraf Ghani earlier was filmed as he boarded his plane to flee to Tajikistan as the Taliban had took over Kabul.”

सोशल मीडिया पर कई अन्य यूजर्स ने इस वीडियो को समान और मिलते-जुलते दावे के साथ शेयर किया है।

https://twitter.com/QSpartamaggie/status/1427679400976343043

पड़ताल

15 अगस्त की वाशिंगटन पोस्ट की खबर के मुताबिक, तालिबान के काबुल की घेरेबंदी किए जाने के बाद राष्ट्रपति अशरफ गनी अफगानिस्तान छोड़कर चले गए, जिसकी वजह से पूरी सरकार धाराशायी हो गई।

हालांकि, किसी भी रिपोर्ट में इस बात का विवरण नहीं मिला कि गनी अफगानिस्तान छोड़कर किस देश में गए हैं और उन्होंने कब अफगानिस्तान को छोड़ने का फैसला लिया। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने अफगानिस्तान के गृह मंत्रालय के एक अधिकारी के हवाले से यह बताया कि उन्होंने ताजिकिस्तान में शरण ली है। अभी तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।

रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, 15 अगस्त को उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर लिखे पोस्ट में अफगानिस्तान छोड़कर जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि उन्होंने अपने देश के लोगों को खून-खराबा से बचाने के लिए ऐसा किया, क्योंकि तालिबान काबुल में प्रवेश कर चुका था।

अफगानिस्तान छोड़ने के बाद अशरफ गनी का फेसबुक पोस्ट

हालांकि, इस पोस्ट में भी उन्होंने अपने वर्तमान लोकेशन की जानकारी नहीं दी। इन सभी रिपोर्ट्स में हमें उनके अफगानिस्तान से निकलने के समय और उनके मौजूदा लोकेशन के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली, जबकि वायरल पोस्ट में दावा किया गया है कि वह वीडियो उनके अफगानिस्तान से भागने के ठीक पहले का है। वायरल वीडियो की सत्यता को जांचने के लिए हमने उसके की-फ्रेम्स को रिवर्स इमेज सर्च किया।

सर्च में हमें यह वीडियो अफगानिस्तान के समाचार संगठन टोलो न्यूज के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर मिला।

15 जुलाई 2021 को पोस्ट किए गए ट्वीट के मुताबिक, यह वीडियो राष्ट्रपति अशरफ गनी की दो दिवसीय उज्बेकिस्तान यात्रा का है। उज्बेकिस्तान की दो दिवसीय यात्रा के दौरान गनी ताशकंद में कनेक्विविटी कॉन्फ्रेंस में शामिल हुए थे।

उज्बेकिस्तान की प्रेस सर्विस Shavkat Mirziyoyev’s Press-service के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से 15 जुलाई को किए गए ट्वीट में गनी को उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति से मिलते हुए देखा जा सकता है।

उज्बेकिस्तान में ”Central and South Asia Regional Connectivity: Challenges and Opportunities” सम्मेलन के दौरान गनी ने पाकिस्तान की नकारात्मक भूमिका पर निशाना साधा था, जिसके बाद इमरान खान ने उनके आरोपों का जवाब दिया था।

इससे यह साफ होता है कि वयारल हो रहा वीडियो अशरफ गनी के अफगानिस्तान से भागने के ठीक पहले का नहीं, बल्कि वह जुलाई 2021 में उज्बेकिस्तान में हुए दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में शामिल होने की उनकी यात्रा से संबंधित है।

वायरल वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर करने वाले यूजर को करीब 2000 से अधिक लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: तालिबान के कब्जे के बाद राष्ट्रपति अशरफ गनी के अफगानिस्तान छोड़कर जाने के दावे के साथ वायरल हो रहा वीडियो जुलाई 2021 में उनकी आधिकारिक उज्बेकिस्तान यात्रा का है, जब वह ताशकंद में दो दिवसीय सम्मेलन में भाग लेने गए थे।

  • Claim Review : काबुल छोड़कर भागते अशरफ गनी
  • Claimed By : Twitter User- Queen Sparta Maggie
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later