X

Fact Check : कानपुर में नहीं हुआ राजधानी एक्‍सप्रेस का एक्‍सीडेंट, पुरानी तस्‍वीरों से फैलाया जा रहा है झूठ

  • By Vishvas News
  • Updated: December 12, 2019

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया में ट्रेन एक्‍सीडेंट की कुछ तस्‍वीरों को वायरल करते हुए दावा किया जा रहा है कि कानपुर में राजधानी एक्‍सप्रेस टकरा गई है। विश्‍वास न्‍यूज ने जब वायरल तस्‍वीरों और दावे की पड़ताल की तो यह फर्जी निकला। पुराने एक्‍सीडेंट की तस्‍वीरों को झूठे दावे के साथ कुछ लोग सोशल मीडिया में वायरल कर रहे हैं। वायरल तस्‍वीरें पहले से ही इंटरनेट पर मौजूद हैं।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

फेसबुक यूजर Naitik Singh ने ‘तेरी मेरी प्रेम कहानी’ नाम के एक ग्रुप में तीन तस्‍वीरों को शेयर करते हुए दावा किया : ‘‘अभी-अभी: कानपुर में टकराई राजधानी एक्सप्रेस,चलती ट्रेन से कूदे लोग…!भाइयों पिलिज आपके पास जितने भी group है पिलिज उसमें सेंनड करो!”

9 दिसंबर 2019 को रात करीब 11 बजे अपलोड की गईं ये तस्‍वीरें फेसबुक से लेकर वॉट्सऐप तक पर आग की तरह फैल रही हैं।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने अपनी पड़ताल की शुरुआत गूगल सर्च इंजन से की। हमने गूगल पर ‘कानपुर में टकराई राजधानी एक्‍सप्रेस’ कीवर्ड टाइप करके सर्च करना शुरू किया। हमें एक भी लेटेस्‍ट खबर नहीं मिली,जबकि राजधानी एक्‍सप्रेस का एक्‍सीडेंट होना एक बड़ी खबर है। यदि ऐसा कोई एक्‍सीडेंट होता तो किसी ने किसी मीडिया संस्‍थानों की ओर से इसे जरूर कवर किया जाता है।

इसके बाद विश्‍वास न्‍यूज ने तीनों वायरल तस्‍वीरों की पड़ताल शुरू की। पहली तस्‍वीर को जब हमने गूगल रिवर्स इमेज में सर्च किया तो हमें पत्रिका डॉट कॉम की वेबसाइट पर मौजूद एक खबर में यही तस्‍वीर दिखी। पत्रिका की पुरानी खबर के अनुसार, नई दिल्ली विशाखापट्नम एक्सप्रेस के आगरा से निकलने के कुछ देर बाद बिरला नगर रेलवे स्‍टेशन के पास आग लग गई। इस घटना से कोई भी यात्री हताहत नहीं हुआ।

पड़ताल के दौरान हमें यह खबर टाइम्‍स ऑफ इंडिया की वेबसाइट पर भी मिली। 21 मई 2018 को अपलोड की गई इस खबर में एक वीडियो भी मौजूद था। टाइम्‍स ऑफ इंडिया और पत्रिका, दोनों की खबरों में ट्रेन नंबर 22416 का जिक्र था।

दूसरी फोटो की पड़ताल के लिए हमने गूगल रिवर्स टूल का इस्‍तेमाल किया। हमें rediff.com पर एक खबर मिली। इसमें भी बताया गया कि मध्‍य प्रदेश में नई दिल्ली विशाखापट्नम एक्सप्रेस ट्रेन में आग लग गई। खबर में जिस तस्‍वीर का इस्‍तेमाल किया गया, वह वायरल तस्‍वीर की दूसरे एंगल की तस्‍वीर है।

इसके बाद हमने तीसरी फोटो को गूगल में खोजना शुरू किया। गूगल रिवर्स इमेज से यह फोटो Prokerala.com नाम की वेबसाइट पर मिली। वेबसाइट की खबर के अनुसार, दिल्ली-डिब्रूगढ़ राजधानी एक्सप्रेस बिहार में सारण के पास पटरी से उतर गई थी। घटना 24 जून 2014 की है।

वायरल हो रही पोस्‍ट की सच्‍चाई जानने के लिए हमने उत्तर मध्य रेलवे (एनसीआर)-इलाहाबाद के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अजीत कुमार सिंह से संपर्क किया। उन्‍होंने बताया कि कानपुर में राजधानी एक्‍सप्रेस के एक्‍सीडेंट की खबर पूरी तरह झूठी है।

अंत में हमने पुरानी तस्‍वीरों के जरिए झूठ फैलाने वाले फेसबुक यूजर Naitik Singh की सोशल स्‍कैनिंग की। हमें यह अकाउंट फर्जी लगा। इसमें अलग-अलग लोगों की तस्‍वीरों का इस्‍तेमाल करके डीपी बनाई गई थी।

निष्‍कर्ष : विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में कानपुर में राजधानी एक्‍सप्रेक्‍स के एक्‍सीडेंट की पोस्‍ट फर्जी निकली। कानपुर में ऐसा कोई हादसा नहीं हुआ। पुरानी घटनाओं की तस्‍वीरों को गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

  • Claim Review : अभी-अभी: कानपुर में टकराई राजधानी एक्सप्रेस,चलती ट्रेन से कूदे लोग…!
  • Claimed By : फेसबुक यूजर Naitik Singh
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later