X

Fact Check : नागरिकता संशोधन विधेयक पर राहुल गांधी के नाम से वायरल हुआ फर्जी ट्वीट

  • By Vishvas News
  • Updated: December 11, 2019

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नाम से एक फर्जी ट्वीट वायरल हो रहा है। फर्जी ट्वीट को वायरल करने वाले यूजर्स का कहना है कि राहुल गांधी ने वायनाड से नागरिकता बिल को लेकर ट्वीट किया है। विश्‍वास न्‍यूज ने जब इसकी पड़ताल की तो यह फर्जी निकला। राहुल गांधी की ओर से ऐसा कोई ट्वीट नहीं किया गया है। फोटोशॉप की मदद से यह ट्वीट बनाकर वायरल किया जा रहा है।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

फेसबुक यूजर विक्रम सिंह ने 10 दिसंबर को एक फोटोशॉप्‍ड ट्वीट को अपलोड करते हुए दावा किया : “अभी-अभी राहुल गांधी वायनाड से ट्वीट किए हैं आप सभी ग्रुप के मेंबर यह ट्वीट जरूर पढ़ना !! और आगे भी शेयर जरूर करना”

फर्जी ट्वीट में लिखा है : “नागरिकता बिल पास करा कर बीजेपी हिंदू राष्‍ट्र के एजेंडे पर चल रही है हमारे पूर्वजों का एजेंडा हमेशा से इस्‍लामिक कंट्री पर रहा है इसलिए हमने दो इस्‍लामिक कंट्री बनाएं पाकिस्‍तान और बांग्‍लादेश अब हम भारत को हिंदू राष्‍ट्र बनते नहीं देख सकते।”

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने राहुल गांधी के नाम से फैलाए जा रहे ट्वीट को ध्‍यान से देखा। ट्वीट की भाषा में हिंदी की बेसिक गलतियां दिखीं। इसके अलावा इस इमेज को ऐसे बनाया गया कि देखने वालों को लगे कि यह किसी न्‍यूज चैनल की प्‍लेट है। इसमें राहुल गांधी की जो तस्‍वीर भी लगाई गई है, वह कहीं से कट पेस्‍ट की गई है।

अब हम गूगल पर गए। वहां हमने Rahul Gandhi on CAB टाइप करके सर्च किया। हमें कई खबरें मिलीं, जिसमें राहुल गांधी के एक ट्वीट के हवाले से खबरें बनाई गई थीं। हालांकि, इन खबरों में कहीं भी उस फर्जी ट्वीट का कंटेंट नहीं था, जो राहुल गांधी के नाम से सोशल मीडिया में वायरल किया जा रहा है।

इसके बाद हम राहुल गांधी के ट्विटर हैंडल @RahulGandhi पर गए। वहां हमें ऐसा कोई ट्वीट नहीं मिला। लोकसभा में 9 दिसंबर को नागरिकता संशोधन विधेयक पास हुआ है।

राहुल गांधी ने 9 दिसंबर को जो ट्वीट किया है, वह अंग्रेजी में है। ट्वीट में लिखा गया, “The #CAB is an attack on the Indian constitution. Anyone who supports it is attacking and attempting to destroy the foundation of our nation.”

पड़ताल के अगले चरण में विश्‍वास न्‍यूज ने कांग्रेस के प्रवक्‍ता अखिलेश प्रताप सिंह से संपर्क किया। उन्‍होंने कहा कि कुछ लोग बौखला गए हैं। कांग्रेस और उसके नेताओं को बदनाम करने के लिए ऐसा झूठ फैलाते रहते हैं।

अंत में विश्‍वास न्‍यूज ने राहुल गांधी के फर्जी ट्वीट को सोशल मीडिया में वायरल करने वाले फेसबुक यूजर विक्रम सिंह भाटी की सोशल स्‍कैनिंग की। हमें पता चला कि इस पेज को पांच हजार से ज्‍यादा लोग फॉलो करते हैं। पेज को 29 जून 2019 को बनाया गया।

निष्‍कर्ष : विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में पता चला कि नागरिकता संशोधन विधेयक पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नाम पर वायरल ट्वीट फर्जी है।

  • Claim Review : दावा किया जा रहा है कि राहुल गांधी ने नागरिकता बिल को लेकर विवादित ट्वीट किया
  • Claimed By : फेसबुक यूजर विक्रम सिंह भाटी
  • Fact Check : False
False
    Symbols that define nature of fake news
  • True
  • Misleading
  • False

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

  • वॅाट्सऐप नंबर 9205270923
  • टेलीग्राम नंबर 9205270923
  • ईमेल contact@vishvasnews.com
जानिए वायरल खबरों का सच क्विज खेलिए और सीखिए स्‍टोरी फैक्‍ट चेक करने के तरीके

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later