X

Fact check: वीडियो में पुलिस की वर्दी पहने नज़र आ रहा शख्स पुलिसवाला नहीं, बल्कि प्रोफेशनल रेसलर है, वायरल वीडियो CWE का है

  • By Vishvas News
  • Updated: October 15, 2019

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज़)- सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें पुलिस की वर्दी पहने हुए एक शख्स को कुछ लोगों को मारते हुए देखा जा सकता है। यूजर का दावा है कि यह शख्स पुलिस वाला है, जो लोगों को पीट रहा है।

विश्वास टीम की पड़ताल में यह दावा फ़र्ज़ी साबित होता है। हमने पाया कि वायरल वीडियो में दिख रहा युवक पुलिसवाला नहीं, बल्कि प्रोफेशनल रेसलर है। वीडियो में यह एक पुलिसवाले के किरदार में है। वायरल वीडियो CWE (कॉन्टिनेंटल रेसलिंग एंटरटेनमेंट) का एक ड्रामा वीडियो है। इसे 28 सितंंबर 2018 को यूट्यूब पर सीडब्‍ल्‍यूई के चैनल पर अपलोड किया गया था।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक यूजर Dr Syed Shahnawaz Alam ڈاکٹر سيد شاهنواز عالم ने 13 अक्टूबर को एक वीडियो शेयर किया। इसमें पुलिस की वर्दी पहने एक युवक को कुछ लड़कोंं को पीटते हुए देखा जा सकता है। वीडियो के साथ यूजर ने कैप्शन में लिखा, ”ये पुलिसवाला लगता है आज साउथ की मूवी देख कर आया है। किसी को कुछ समझ मे आया ? मुझे तो ये समझ में आया के ये अपनी वर्दी का गलत स्तेमाल कर रहे हैं अगर कोई मुजरिम है तो उसे पकड़कर अदालत में पेश करें और उसे सजा दिलाएं ये नही के आपके सामने जो भी आया उसे मारते चले जाएं और मार लात के दरवाजा तोड़ दें” .

फेसबुक सर्च में हमने पाया की यह वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक पर मिलते-जुलते दावों के साथ काफी वायरल हो रहा है।

पड़ताल

कुल 5 मिनट 24 सेकंड के इस वीडियो में पुलिस की यूनिफॉर्म पहने एक युवक कुछ लड़कों को पीटते हुए दिख रहा है। साथ ही, वह यह कहते हुए सुना जा सकता है, ”मुझे सुपर वीआईपी चाहिए।” इसके अलावा कुछ लोग वर्दी वाले युवक को दुबे जी कहते हुए नज़र आये। हमने सबसे पहले गूगल पर ”मुझे सुपर वीआईपी चाहिए+दुबे जी” कीवर्ड डाल कर सर्च किया तो हमारे हाथ CWE नाम के Youtube चैनल का लिंक लगा। इसमें हमें वही वीडियो नज़र आया जो फेसबुक पर वायरल हो रहा है। वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा है, ”CWE | Singham Dubey ji seems very Disappointed ! Check it out why?”.

वायरल वीडियो और सीडब्ल्यूई के चैनल का वीडियो एक ही है। नीचे आप वायरल और ओरिजल वीडियो से ग्रैब की गई इमेज को देख सकते हैं।

अब हमने यह जानने की कोशिश की कि CWE क्या है। हमने पाया कि सीडब्‍ल्‍यूई रेसलिंग एंटरटेनमेंट अकादमी है। इसके मालिक खली हैं।

पड़ताल में हमने यह भी पाया CWE चैनल रेसलिंग चैंपियनशिप का आयोजन करने के साथ- साथ रेसलर का ड्रामटिक वीडियो भी शूट करके डालता है।

वायरल वीडियो की पुष्टि के लिए हमने सीडब्‍ल्‍यूई के ऑफिस में बात की। वहां हमारी बात सोशल मीडिया हेड रमन ठाकुर से हुई। उन्होंने हमें बताया, ”वीडियो के अंदर पुलिस की वर्दी में दुबे जी हैं। इनका असली नाम मनीष दुबे है। वह सीडब्‍ल्‍यूई के रेसलर हैं, कोई पुलिसवाले नहीं। वायरल वीडियो एक स्क्रिप्टेड ड्रामा है।”

अब हमने वायरल वीडियो में पुलिस की वर्दी में नज़र आ रहे रेसलर मनीष दुबे से बात की और फेसबुक पर फ़र्ज़ी दावे के साथ हो रहे उनके वीडियो की बारे में पूछा। जवाब में उन्होंने बताया, ”मेरे वीडियो अक्सर असली पुलिसवाले का वीडियो समझ वायरल हो जाते हैं, जबकि रेसलिंग में पुलिसवाला महज़ एक करैक्टर है।” मनीष कहते हैं कि वे असली पुलिसवाले नहीं, बल्कि एक रेसलर हैंं जो कि कुछ वक़्त से सीडब्‍ल्‍यूई के साथ काम कर रहे हैं।”

अब बारी थी इस पोस्ट को फ़र्ज़ी दावे के साथ वायरल करने वाले फेसबुक पेज Dr Syed Shahnawaz Alam ڈاکٹر سيد شاهنواز عالم की सोशल स्कैनिंग करने की। हमने पाया कि इस पेज को 12,148 लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: विश्वास टीम पड़ताल में पता चला की वायरल वीडियो में वर्दी पहने नज़र आ रहा शख्स कोई पुलिसवाला नहीं, बल्कि सीडब्‍ल्‍यूई का रेसलर है। वायरल वीडियो CWE का ही स्क्रिप्टेड वीडियो है।

  • Claim Review : ये पोलीस लगता है आज साउथ की मूवी देख कर आया है। किसी को कुछ समझ मे आया ? मुझे तो ये समझ में आया के ये अपनी वर्दी का गलत स्तेमाल कर रहे हैं अगर कोई मुजरिम है तो उसे पकड़कर अदालत में पेश करें और उसे सजा दिलाएं ये नही के आपके सामने जो भी आया उसे मारते चले जाएं और मार लात के दरवाजा तोड़ दें
  • Claimed By : FB user- Dr Syed Shahnawaz Alam ڈاکٹر سيد شاهنواز عالم
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later