Fact Check : पंचकूला का पुराना वीडियो बच्‍चों के अपहरण के नाम पर वायरल

0

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें कुछ लोगों को दो बच्‍चों को जबरदस्‍ती उठा कर ले जाते हुए देखा जा सकता है। इस वीडियो को ज्‍यादा से ज्‍यादा ग्रुप में भेजने की अपील की जा रही है। पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया में बच्‍चा चोरी की अफवाह काफी उड़ी हुई है।

मध्‍य प्रदेश से लेकर राजस्‍थान तक में ऐसी अफवाहों पर विश्‍वास न्‍यूज पहले भी फैक्‍ट चेक कर चुका है।

विश्‍वास न्‍यूज ने जब वायरल हो रहे वीडियो की पड़ताल की तो पता चला कि वीडियो में दिख रहे लोग बच्‍चा चोर नहीं थे, बल्कि बच्‍चों के पिता गुरप्रीत सिंह थे। वे दो लोगों के साथ जबरदस्‍ती अपने बच्‍चों को उठाकर ले गए थे। घटना पंचकूला के सेक्‍टर 19 की 16 मई 2019 की है।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

अनिता पाठक नाम की फेसबुक यूजर ने पुराने वीडियो को अपलोड करते हुए लिखा कि आपके फोन मे जितने भी सम्पर्क है सभी को सेन्ड करे और सभी ग्रूप मे जरुर करे, ताकि सभी सचेत रहे और किसी के साथ ऐसा ना हो।

इस वीडियो को पिछले समय से लगातार वायरल किया जा रहा है।

पड़ताल

विश्‍वास टीम ने सबसे पहले वायरल हो रहे वीडियो को ध्‍यान से देखा। वीडियो में एक कार से निकलते हुए तीन लोग नजर आते हैं। दूसरी ओर, एक आदमी के साथ दो बच्‍चे पैदल जाते हुए दिखे। इतने में कार से निकले आदमी बच्‍चों को जबरन उठाकर कार में डालते हुए वहां से भागते हुए दिखते हैं।

इसके बाद हमने InVID टूल की मदद से वीडियो में से कई ग्रैब निकाले और उन्‍हें गूगल रिवर्स इमेज में सर्च करना शुरू किया। वीडियो से संबंधित खबरें हमें पंजाबी और हिंदी की वेबसाइट पर मिलीं।

हिंदी की एक वेबसाइट पर इस घटना के बारे में विस्‍तार से बताते हुए लिखा गया कि 16 मई को पत्‍नी से अनबन के चलते गुरप्रीत सिंह नाम के एक शख्‍स ने अपने ससुर से मारपीट करते हुए दोनों बच्‍चों को जबरन अपने साथ ले गया। गुरप्रीत का अपनी पत्‍नी से तलाक का केस चल रहा है। घटना करीब दो बजे उस वक्‍त घटी, जब गुरप्रीत के ससुर सुभाष सिंह दोनों बच्‍चों को स्‍कूल से अपनी बेटी के घर छोड़ने जा रहे थे।

दूसरे अखबार की वेबसाइट पर मौजूद खबर में बताया गया कि इस वीडियो को कई लोग आगे भेजकर अपने बच्‍चों को बचाने की अपील कर रहे थे,लेकिन जांच में यह मामला कुछ और ही निकला।

अब हमें यह जानना था कि Youtube पर यह वीडियो कब से मौजूद है। टाइमलाइन टूल का यूज करते हुए हमने वीडियो को सर्च करना शुरू किया। सबसे पुराना वीडियो हमें पंजाबी वॉइस नाम के चैनल पर मिला। इसे 30 जुलाई को अपलोड किया गया था।

इसके बाद विश्‍वास न्‍यूज पंचकूला के सेक्‍टर 19 के पुलिस स्‍टेशन में संपर्क किया। वहां हमारी बात सब इंस्‍पेक्‍टर गुलाल सिंह से हुई। उन्‍होंने पूरे मामले से पर्दा उठाते हुए हमें बताया कि घटना तीन महीने पुराने पुरानी है। वीडियो में दिख रहा शख्‍स और कोई नहीं, बल्कि बच्‍चों का पिता गुरप्रीत सिंह ही है। गुरप्रीत और उनकी पत्‍नी में कुछ अनबन चल रही है। जिसके कारण बच्‍चे को उठानी वाली घटना घटी थी।

गुलाल सिंह ने बताया कि पूरा मामला अब हाईकोर्ट में है। इसलिए इस पर ज्‍यादा बात नहीं कर सकते हैं, लेकिन वायरल वीडियो का अपहरण या बच्‍चा चोरी से कोई लेना-देना नहीं है।

अंत में विश्‍वास टीम ने मई के वीडियो को अब वायरल करने वाले फेसबुक अकाउंट अनिता पाठक की सोशल स्‍कैनिंग की। हमें पता चला कि अनिता पाठक उत्तर प्रदेश के आगरा की रहने वाली हैं। इनके अकाउंट पर एक खास विचारधारा से जुड़ा कंटेंट पोस्‍ट किया जाता है।

निष्‍कर्ष : विश्‍वास टीम की पड़ताल में पता चला कि बच्‍चे को अपहरण के जिस वीडियो को अब वायरल किया जा रहा है, वह 16 मई 2019 का है। इस वीडियो में बच्‍चे को जबरन छिनकर ले जाना वाला शख्‍स कोई और नहीं, बल्कि उनका पिता ही है।

पूरा सच जानें…

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews।com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

Written BY Ashish Maharishi
  • Claim Review : दावा किया जा रहा है वीडियो बच्‍चा चोरी का है
  • Claimed By : अनिता पाठक फेसबुक यूजर
  • Fact Check : Mostly false

टैग्स

संबंधित लेख